1. home Home
  2. state
  3. up
  4. up assembly elections 2022 samajwadi party president akhilesh yadav targeted cm yogi bjp government on ujjwala scheme acy

अखिलेश यादव ने BJP पर बोला हमला, कहा- चुनाव से ठीक पहले लांच हुई उज्ज्वला योजना 2.0 जनता से दूसरा बड़ा छलावा

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव से ठीक पहले लांच हुई उज्ज्वला योजना 2.0 भाजपा का जनता से दूसरा बड़ा छलावा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव
फाइल फोटो.

UP Assembly Elections 2022: समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने एक बार फिर भाजपा (BJP) पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि ‘स्वच्र्छ इंधन, बेहतर जीवन‘ के नारे के साथ लांच हुई उज्ज्वला योजना 2.0 (Ujjwala Scheme 2.0) चुनाव से ठीक पहले भाजपा का जनता से दूसरा बड़ा छलावा भर है. यह योजना ‘महंगा ईंधन, बेकार जीवन‘ में बदल चुकी है.

शो पीस बनकर रह गया उज्ज्वला का सिलेंडर

पार्टी की तरफ से जारी बयान में अखिलेश यादव ने कहा कि सरकारी विज्ञापनों में और मुख्यमंत्री जी के भाषणों में गांव की गरीब महिलाओं को सशक्त बनाने के उद्देश्य से उज्ज्वला योजना की शुरूआत का एलान होता हैं. गरीबों को लाखों की संख्या में रसोई गैस चूल्हा और सिलेंडर दिए जाने का दावा किया जाता है जबकि हकीकत यह है कि उज्ज्वला का सिलेंडर महज शो पीस से ज्यादा कुछ नहीं है.

दोबारा गैस सिलेंडर नहीं ले पा रहे लोग

उन्होंने कहा कि एनएसओ के सर्वे के मुताबिक, गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले 20 प्रतिशत परिवारों की प्रतिमाह आय मात्र 1065 रुपये है. पिछले 15 माह में रसोई गैस सिलेंडर के दामों में 321 रुपये की बढ़त दर्ज की गई है. जुलाई में गैस सिलेंडर 933 रुपये का मिल रहा था. एक अगस्त से सरकार ने 19 किलो वाले कमर्शियल गैस सिलेंडर के दामों में 73.5 रुपये की बढ़ोत्तरी कर दी है, जबकि उस पर सब्सिडी फिक्स कर दी गई है. सच तो यह है कि जिन परिवारों को उज्ज्वला योजना का लाभ मिला है, वे दोबारा गैस सिलेंडर नहीं ले सके हैं.

फिर चूल्हे पर खाना बना रहे लोग

अखिलेश यादव ने कहा कि उज्जवला योजना के 78 प्रतिशत परिवारों ने फिर चूल्हे पर खाना बनाना शुरू कर दिया है. जब रसोई गैस सिलेंडर गरीब की कमाई और जेब से बाहर है तो उज्ज्वला योजना तो उसके लिए भाजपा की चुनावी एजेंडा पूरी करने की साजिश के अलावा और कुछ नहीं है. उन्होंने कहा कि गरीब को बहकाकर उसे और ज्यादा गरीब बनाने की इस साजिश को जनता बखूबी समझ रही है. वह उसे अब और राजनीतिक रोटियां सेंकने नहीं देगी.

बूथ स्तर पर षड्यंत्र रच रही भाजपा

बता दें, इससे पहले अखिलेश यादव ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा था कि दूसरे राज्यों से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के कार्यकर्ताओं को गांव-गांव पहुंचाया जा रहा है, ताकि बूथ स्तर पर षड्यंत्र किया जा सके. उन्होंने आरोप लगाया था कि समाजवादी पार्टी को उत्तर प्रदेश में भारी बहुमत का जनसमर्थन प्राप्त है. इसी से भयभीत होकर भाजपा लोकतांत्रिक व्यवस्था की पवित्रता नष्ट करना चाहती है. भाजपा का यह कृत्य भारतीय संविधान और जनभावनाओं के विरुद्ध है.

Posted by: Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें