1. home Home
  2. state
  3. up
  4. up assembly elections 2022 rajasthan governor kalraj mishra targeted sp bsp brahmin sammelan in uttar pradesh akhilesh yadav mayawati acy

यूपी चुनाव से पहले सपा-बसपा के ब्राह्मण सम्मेलनों पर कलराज मिश्र ने साधा निशाना, कह डाली यह बड़ी बात

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले सपा और बसपा की तरफ से प्रबुद्ध वर्ग और बुद्धिजीवी वर्ग सम्मेलन आयोजित किये जा रहे हैं. इसे लेकर राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने दोनों पार्टियों पर निशाना साधा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र.
राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र.
Twitter

UP Assembly Elections 2022: राजस्थान (Rajasthan) के राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) ने रविवार को कहा कि ब्राह्मण (Brahmin) कोई जाति नहीं, बल्कि एक ‘विराट संस्कृति' है. ब्राह्मणों के नाम पर स्वार्थपूर्ति के लिए प्रबुद्ध वर्ग और बुद्धिजीवी वर्ग सम्मेलन किए जा रहे हैं. उन्होंने यह बातें विधानसभा चुनाव से पहले सपा और बसपा द्वारा प्रबुद्ध वर्ग और बुद्धिजीवी वर्ग सम्मेलन आयोजित किए जाने को लेकर कही.

स्वार्थ की पूर्ति के लिए किए जा रहे सम्मलेन

कलराज मिश्र सहकारिता भवन स्थित चौधरी चरण सिंह सभागार में विद्वत समिति, उत्तर प्रदेश की तरफ से आयोजित 'विद्वत समाज सम्मेलन एवं अभिनंदन समारोह' में बोल रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा, मैं देख रहा था, इधर जो वातावरण बना है, लोगों ने जाति विशेष का सम्मेलन शुरू किया है जो प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन, बुद्धिजीवी वर्ग सम्मेलन आदि-आदि नाम से किए जा रहे हैं. मुझे लगता है कि जाति विशेष के नाम पर ये सम्मलेन स्वार्थ की पूर्ति के लिए किए जा रहे हैं.

ब्राह्मण एक जाति नहीं, स्वयं में एक संस्कृति है

मिश्र ने कहा, मैं अनुभव करता हूं कि जाति विशेष को भी संकुचित करने का प्रयास किया गया है. उसके प्रति सीमित नजरिया रखने की कोशिश की गई है, क्योंकि ब्राह्मण एक जाति नहीं है, ब्राह्मण स्वयं में एक संस्कृति है. यह संस्कृति बड़ी विराट है, वैदिक काल से लेकर अब तक का समय व्यतीत हुआ है तब यह विराट संस्‍कृति बनी है.

राष्ट्रीयता को किया जा रहा संकुचित

उन्होंने कहा, आकर्षक नाम (प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन और बुद्धिजीवी सम्मेलन) देकर स्वार्थ सिद्धि को मैं समझ रहा हूं जो विद्वत समाज की आंखों में धूल झोंकने का कार्य है. क्षेत्रीयता को उभारकर जिस तरह राष्ट्रीयता को संकुचित किया जा रहा है, उसे विद्वत समाज को ठीक करना है.

कार्यक्रम में शामिल हुए केंद्रीय मंत्री

भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उद्यम मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्र टेनी कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल हुए जिसकी अध्यक्षता वरिष्‍ठ अधिवक्‍ता सुनील द्विवेदी ने की. उत्‍तर प्रदेश राज्‍य निर्माण एवं श्रम विकास सहकारी संघ के सभापति वीरेंद्र तिवारी भी इस अवसर पर मौजूद थे.

सदियों से प्रबुद्ध वर्ग का ‘प्राण तत्व' रहा है ब्राह्मण

समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय भी सपा-बसपा के सम्मेलनों का नाम लिए बिना कहा कि जब पांच वर्ष बीत जाते हैं तो कालचक्र में उन्हें कुछ याद आता है और शेष समय उन्हें किसी का ध्यान नहीं रहता है. उन्होंने कहा कि ब्राह्मण सदियों से प्रबुद्ध वर्ग का ‘प्राण तत्व' रहा है.

भाजपा ने हमेशा राष्ट्र गौरव की वापसी के लिए प्रयास किया

केंद्रीय मंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने हमेशा राष्ट्रहित और समाज हित को प्रमुखता दी है. वहीं, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री टेनी ने कहा कि यह दुर्भाग्य था कि आजादी के बाद ऐसी सरकार आई जिसने इस देश का विकास इस देश की परंपरा और संस्कृति के अनुरूप नहीं किया. उन्होंने कहा कि भारतीय जनसंघ और भारतीय जनता पार्टी ने हमेशा राष्ट्र गौरव की वापसी के लिए प्रयास किया है.

(इनपुट- भाषा)

Posted by : Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें