1. home Home
  2. state
  3. up
  4. up assembly elections 2022 priyanka gandhi to decide on the face of congress for the post of chief minister in uttar pradesh says salman khurshid rjv

UP Elections 2022: मुख्यमंत्री पद के लिए प्रियंका गांधी होंगी कांग्रेस का चेहरा? जानिए

उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) के लिए कांग्रेस राष्‍ट्रीय महासचिव और यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के नेतृत्‍व में पार्टी एक बार फिर यूपी की सत्ता पर काबिज होने के लिए अपना पूरा दम लगा रही है. मुख्यमंत्री पद का चेहरा कौन होगा?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
priyanka gandhi vadra up election 2022 news
priyanka gandhi vadra up election 2022 news
fb

UP Assembly Elections 2022: उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) के लिए कांग्रेस राष्‍ट्रीय महासचिव और यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के नेतृत्‍व में पार्टी एक बार फिर यूपी की सत्ता पर काबिज होने के लिए अपना पूरा दम लगा रही है. लेकिन बड़ा सवाल यह है कि पार्टी के लिए मुख्यमंत्री पद का चेहरा कौन होगा. इस बारे में पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने कहा है कि 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद के लिए पार्टी का चेहरा कौन होगा, इस बारे में पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा फैसला करेंगी.

चुनाव घोषणा पत्र के सिलसिले में मेरठ पहुंचे खुर्शीद ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पूरी ताकत के साथ चुनाव लड़ेगी और जीतेगी. उन्होंने कहा कि पार्टी प्रियंका गांधी के नेतृत्व में मौजूदा सरकार की नीतियों के खिलाफ आवाज उठाएगी. खुर्शीद ने मीडिया से बातचीत के दौरान कांग्रेस के अगले राष्ट्रीय अध्यक्ष के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में किसी का नाम लिये बगैर कहा कि सब जानते हैं कि पार्टी किसके नेतृत्व में आगे बढ़ रही है.

उन्होंने राज्य में होने वाले चुनाव में मुख्यमंत्री पद के लिए पार्टी के चेहरे के चयन के बारे में कहा कि यह फैसला प्रियंका करेंगी. खुर्शीद ने उत्तर प्रदेश में किसानों की हालत को चिंताजनक बताया. उन्होंने अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां पैदा हुई अराजकता के मद्देनजर कहा कि भारत में रह रहे अफगानिस्तान के छात्रों की सुरक्षा को प्राथमिकता दी जानी चाहिए. उन्होंने अफगानिस्तान संबंधी नीति को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार को अफगानिस्तान और तालिबान के मामले में अपनी नीति स्पष्ट करनी चाहिए.

इस मौके पर मौजूद पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से लाखों लोगों की जान गई. प्रदेश में महिलाओं का कोई सम्मान नहीं है. किसान और युवक परेशान हैं. अब तक 10 फीसदी लोगों का भी टीकाकरण नहीं हुआ है. उत्तर प्रदेश कुपोषण और महिलाओं के खिलाफ अपराधों के मामले में शीर्ष पर है. महंगाई चरम पर है. किसानों पर अत्याचार हो रहा है. बेरोजगारी बढ़ गई है. अब सरकार की विदाई होने वाली है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें