1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. teeka utsav in up cm yogi corona vaccination school closed in uttar pradesh prt

कोरोना से जंगः आज से यूपी में टीका उत्सव की शुरुआत, सीएम योगी ने दिए तीन मंत्र, जानिए और कहां लग सकता है नाइट कर्फ्यू

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
यूपी में 14 अप्रैल तक चलेगा  टीका उत्‍सव
यूपी में 14 अप्रैल तक चलेगा टीका उत्‍सव
Twitter
  • यूपी में 14 अप्रैल तक चलेगा टीका उत्‍सव

  • टीकाकरण के लिए प्रदेश में बनाए गए 6 हजार केन्‍द्र

  • लखनऊ के तीन अस्‍पतालों में बढ़ाई जाएगी बेडों की क्षमता

UP News, Tika Utsav, CM Yogi: यूपी में जिस रफ्तार से कोरोना महामारी फैल रही है, उसी गति से यूपी सरकार इसकी रोकथाम में लगी है. इसी कड़ी में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने महात्मा ज्योतिबा फुले की जयंती से लेकर बाबा साहेब आंबेडकर की जयंती तक प्रदेश में टीका उत्‍सव मनाने की एलान किया है. सीएम योगी खुद बढ़चढ़ कर इस अभियान में शिरकत कर रहे हैं. सीएम योगी ने कहा है कि कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए लोगों को जागरूक करने की जरूरत है, ताकि सभी लोग टीकाकरण का लाभ उठा सकें.

यूपी के शक्ति भवन में खुद सीएम योगी ने टीका उत्सव अभियान का निरीक्षण किया. इस दौरान सीएम योगी ने कहा है कि, टीकाकरण के लिए लोगों में जागरुकता बढ़ाने के लिए सभी विभागों के कार्मचारियों को आवश्यकतानुसार कोविड प्रबंधन के कार्य से जोड़ा जाना जरूरी है. इसके अलावा जरूरत पड़ने पर अतिरिक्‍त मानव संसाधन भी लगाया जाएगा. उन्होंने टीकाकरण कार्य में एनएसएस, एनसीसी और सिविल डिफेंस की सेवाएं लेने की भी बात कही हैं.

लेवल 2 और 3 के बेड बढ़ाए जाएंः प्रदेश में बढ़ते कोरोना के खिलाफ टीका अभियान में सीएम योगी ने निर्देश देते हुए कहा कि, कोविड अस्पतालों में चिकित्साकर्मियों, औषधियों, मेडिकल उपकरणों और बैकअप के साथ-साथ ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता बनाये रखी जाए. लेवल-2 और लेवल-3 के बेड्स भी बढ़ाए जाएं. मुख्‍यमंत्री ने निर्देश दिए कि लखनऊ में एरा मेडिकल कॉलेज, डीएस मिश्र मेडिकल कॉलेज और इंटीग्रल मेडिकल कॉलेज सहित बलरामपुर हॉस्पिटल को डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल के रूप में कोरोना के इलाज के लिए समर्पित किए जाएं. प्रत्येक कोविड हॉस्पिटल में न्यूनतम 700 बेड की उपलब्धता जरूर रहे. यहां सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं.

कोरोना रोकथाम के लिए टेस्‍ट, ट्रेस व ट्रीट जरूरीः मुख्‍यमंत्री ने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए टेस्ट, ट्रेस और ट्रीट के मंत्र को आत्मसात कर कार्य किया जाना जरूरी है. उन्‍होंने कहा कि रोजाना प्रदेश में न्यूनतम एक लाख आरटीपीसीआर टेस्ट किए जाएं. सभी सरकारी तथा निजी टेस्टिंग लैब पूरी क्षमता के साथ कार्य करें. टेस्टिंग में देरी बर्दाश्‍त नहीं की जाएगी.

100 केस मिलने पर लगाए नाइट कर्फ्यूः सीएम योगी ने कहा कि, जिन जिलों में रोजाना 100 से अधिक कोरोना संक्रमण के केस मिल रहे हैं या फिर जहां पर कुल एक्टिव केस की संख्या 500 से अधिक है, वहां रात्रि नौ बजे से सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लगाया जाए. कंटेन्मेंट जोन की व्यवस्था को सख्ती से लागू किया जाए. सभी जनपदों में पीपीई किट, पल्स ऑक्सीमीटर, इंफ्रारेड थरमामीटर, सैनिटाइजर, एंटीजन किट सहित सभी आवश्यक लॉजिस्टिक की पर्याप्त व्यवस्था की जाए. किसी भी जनपद से लॉजिस्टिक के अभाव की शिकायत नहीं आनी चाहिए.

30 अप्रैल तक सभी स्कूल कॉलेज बंदः इधर, कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मुख्‍यमंत्री योगी ने प्रदेश के सभी स्कूलों में 1 से 12 वीं तक की कक्षा को 30 अप्रैल तक बंद किए जाने के निर्देश दिए हैं. हालांकि इस अवधि में स्‍कूल पूर्व निर्धारित परीक्षाएं करा सकते हैं. इस दौरान मुख्‍यमंत्री ने कोविड-19 वैक्‍सीनेशन कार्य की भी समीक्षा की. उन्‍होंने कहा कि रविवार यानी आज से टीका उत्‍सव की शुरूआत हुई है. प्रदेश में 6 हजार केन्‍द्रों पर टीकाकरण कार्य जारी है. 85 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण हो चुका है.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें