32.5 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Gonda News: नॉलेज का हब है 8 साल की रिया, आसानी से पढ़ लेती है 12th की बुक, याद हैं संस्कृत के कई मंत्र

गोंडा जिले के कोतवाली देहात के सालपुर इलाके की रहने वाली रिया की उम्र अभी महज आठ वर्ष ही है. रिया के पिता रामधन तिवारी प्राथमिक विद्यालय जोतिया बेलहरी में सहायक अध्यापक के पद पर तैनात हैं. रिया की जनरल नॉलेज किसी को भी हैरान कर देने वाली है.

Lucknow News: टेक्नोलॉजी के किस युग आज भी कई ऐसे लोग हैं जिनके पास जानकारी का भंडार गूगल से कम नहीं है. हम बात कर रहे हैं गोंडा जिले के कोतवाली देहात के सालपुर इलाके की रहने वाली रिया की, जिनकी उम्र अभी महज आठ वर्ष ही है. रिया के पिता रामधन तिवारी प्राथमिक विद्यालय जोतिया बेलहरी में सहायक अध्यापक के पद पर तैनात हैं. रिया की जानकारी किसी को भी हैरान कर देने वाली है.

मुंह जुबानी याद हैं विश्व के महाद्वीप और महासागरों के नाम

आठ साल की उम्र में कई बच्चे अपने जिले और प्रदेश का नाम तक नहीं बता पाते हैं, वहीं रिया की बात करें, तो उन्हें विश्वभर के देश, उनकी राजधानी और मुद्राएं, भारत के राज्य और राजधानी, विश्व के महाद्वीप और महासागर के नाम उंगलियों पर याद हैं. इसके अलावा, रिया को भारत के सभी जिले, भारत के सभी बड़े बंदरगाह, प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान, देश में बहने वाली प्रमुख नदियां, राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति के नाम मुंह जुबानी याद हैं.

रिया को याद हैं संस्कृत के कई मंत्र और गीता के श्लोक

रिया सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पड़ोसी देश और सीमा रेखाओं के बारे में भी पलभर में बता देती हैं. इसके अलावा रिया को प्राचीन भारत, मध्यकालीन भारत और आधुनिक भारत के इतिहास की भी बहुत अच्छी जानकारी है. पढ़ाई के अलावा रिया को संस्कृत के कई मंत्र और गीता के श्लोक भी रटे हुए हैं. आप सिर्फ रिया के सामने किसी विषय के बारे में जरा सा पूछ लीजिए फिर बाकी जानकारी आपको गूगल गर्ल कही जाने वाली रिया से मिल जाएगी.

इंटरमीडिएट तक की किताबें आसानी से पढ़ लेती है रिया

रिया के पिता रामधन तिवारी का कहना है कि, उनकी बेटी जब महज 2 साल की थी, तब से उसे किताब पढ़ने में रुचि है. परिजनों से खूब सवाल-जवाब भी करती है. याददाश्त क्षमता तेज होने के कारण एक बार में ही पढ़ी गई विषय वस्तु उसे याद हो जाती है. रिया के पिता ने बताया कि उनकी बेटी इंटरमीडिएट तक की किताबें आसानी से पढ़ लेती है, जबकि अभी वह तीसरी क्लास की स्टूडेंट हैं.

जल्द मिलेंगे जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी

इसके अलावा बेटी ने शिक्षक पात्रता परीक्षा के 50% से अधिक प्रश्नों को आसानी से हल कर दिया था. फिलहाल, रिया की प्रतिभा को देखते हुए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अखिलेश प्रताप सिंह ने जल्द ही बेटी से मिलने की बात कही है. साथ ही विभागीय स्तर से जो भी सुविधा होगी उसे उपलब्ध कराई जाएगी.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें