1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. new case of corona virus in up fresh infection rate covid recovery in uttar pradesh corona vaccine prt

UP News: कोरोना संक्रमण की रफ्तार में कमी, लेकिन अभी भी डरा रहे हैं आंकड़े, 24 घंटों में 266 लोगों ने तोड़ा दम, इस जिले में हुई सबसे ज्यादा मौत

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Corona Virus in UP
Corona Virus in UP
twitter
  • यूपी में कोरोना संक्रमण की रफ्तार में कमी

  • लेकिन अभी भी आंकड़ा 30 हजार के करीब

  • कोरोना के 266 लोगों ने तोड़ा दम

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण की रफ्तार में कुछ कमी तो आई है लेकिन अभी आंकड़े डरानेवाले हैं. बीते 24 घंटों में प्रदेश में कोरोना के करीब 30 हजार नये मामले सामने आये है. सबसे बड़ी राहत की बात है कि कोरोना से कोरोना से 35 हजार 900 से ज्यादा लोगों ने कोरोना से जंग जीतकर घर वापस लौट आएं हैं. लेकिन बीते 24 घंटों में कोरोना कोरोना से 266 लोगों की मौत भी हो गई है. वहीं यूपी में बीते दिन करीब 1,86,588 सैंपलों की जांच हुई है.

यूपी के अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन ने बताया कि उत्तर प्रदेश में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज अब तक 99,75,626 लोगों को दी जा चुकी है. जबकि, वैक्सीन की दूसरी डोज अब तक 21,13,088 लोग लगवा चुके हैं. गौरतलब है कि 1 मई से यूपी में भी 18 साल के उपर के लोगों को निशुल्क कोरोना वैक्सीन दी जा रही है. सरकार की ओर से इसकी जोर शोर से तैयारी की जा रही है. बता दें यूपी दे सबसे पहले नागरिकों को फ्री वैक्सीन देने की बात कही थी.

गौरतलब है कि यूपी में कोरोना का प्रकोप महाराष्ट्र के बाद सबसे ज्यादा है. लखनऊ के अलावा अब प्रयागराज में भी कोरोना संक्रमितों की जान सबसे ज्यादा जा रही है. बीते 24 घंटों में कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें प्रयागराज में ही हुई है. प्रयागराज में 21 लोगों की कोरोना से मौत हुई है. इसके अलावा वाराणसी, कानपुर, लखनऊ, गाजियाबाद समेत अन्य जिलों में कोरोना से लोगों की मौत हो रही है.

प्रदेश में लाइफ सेविंग दवाइयों और ऑक्सीजन की कोई कमी नहीः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है. इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी का कहना है कि, प्रदेश में ऑक्सीजन की सप्लाई के सिलसिले में होम कंट्रोल रूम शुरू किया गया है. इस कंट्रोल रूम से प्रत्येक जिले के लिए ऑक्सीजन की व्यवस्था की जा रही है. इसके अलावा प्रदेश में लाइफ सेविंग ड्रग की भी कोई कमी नहीं है.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें