1. home Home
  2. state
  3. up
  4. lucknow
  5. babri mosque demolition anniversary waseem rizvi hindu ayodhya mathura high aler police avi

'इस्लाम धर्म नहीं, आतंकियों का एक गुट', हिंदू धर्म ग्रहण करने के बाद वसीम रिजवी का विवादित बयान

वसीम रिजवी को आज डासना मंदिर के पुजारी यति नरसिंम्हानंद गिरी महाराज हिंदू धर्म ग्रहण करवाएंगे. रिजवी लगातार अपने बयानों से सुर्खियों में रहते हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
वसीम रिजवी
वसीम रिजवी
Twitter

यूपी शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने बाबरी विध्वंस की बरसी पर हिंदू धर्म का ग्रहण कर लिया है. गाजियाबाद के डासना मंदिर में रिजवी ने हिंदू धर्म की दीक्षा ली है. रिजवी ने हिंदू धर्म ग्रहण करने के बाद इस्लाम को लेकर विवादित बयान दिया है.

जानकारी के अनुसार वसीम रिजवी को आज डासना मंदिर के पुजारी यति नरसिंम्हानंद गिरी महाराज के सामने हिंदू धर्म का ग्रहण किया है. रिजवी लगातार अपने बयानों से सुर्खियों में रहते हैं. रिजवी ने पिछले दिनों अपना वसीहत भी जारी किया था. वहीं रिजवी अब त्यागी जाति में जाएंगे.

वहीं हिंदू धर्म ग्रहण करने के बाद रिजवी ने इस्लाम को लेकर विवादित बयान दिया है. रिजवी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा है कि इस्लाम एक आतंकी गुट है ना कि कोई धर्म. हिंदू धर्म सबसे पुराना धर्म है और इसलिए मैं यहां आया हूं.

ओवैसी ने कराई थी एफआईआर दर्ज- बता दें कि एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की शिकायत के आधार पर रिजवी और उनके सहयोगियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं 153 ए, 295 ए और अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था. दरअसल, रिजवी ने एक पुस्तक लिखी है, जिसमें एक विशेष धर्म के इश्वर पर टिप्पणी की थी.

बाबरी विध्वंस की बरसी पर प्रशासन अलर्ट- इधर, बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी पर प्रशासन अलर्ट पर है. मथुरा, काशी और अयोध्या की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की गई है. वहीं पूरे प्रदेश में हाई-अलर्ट जारी किया गया है. एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशान्त कुमार ने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था पर निगरानी है, प्रदेश में किसी भी तरह के अनुष्ठान की इजाजत नहीं दी जाएगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें