1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. education news up primary schools cdo took action against teachers for absenteeism in school sht

Agra News: विद्यालय में गैरहाजिर मिलने पर नपे 600 शिक्षक, CDO की कार्रवाई से शिक्षा विभाग में हड़कंप

प्राथमिक विद्यालय में समय पर ड्यूटी न जाने वाले और गैरहाजिर मिलने वाले करीब 600 शिक्षकों पर मुख्य विकास अधिकारी ने कार्रवाई की है. मुख्य विकास अधिकारी की इस कार्रवाई के बाद शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Agra
Updated Date
CDO inspected the schools
CDO inspected the schools
Prabhat khabar

Agra News: जिले के प्राथमिक विद्यालय में समय पर ड्यूटी न जाने वाले शिक्षकों पर मुख्य विकास अधिकारी ने कार्रवाई की है. शिक्षकों की लापरवाही से बच्चों का शिक्षण कार्य बाधित हो रहा था और उनका नुकसान हो रहा था. इसे गंभीरता से लेते हुए मुख्य विकास अधिकारी ए मणिकन्दन ने जिम्मेदार शिक्षकों पर कार्रवाई शुरू कर दी है. मुख्य विकास अधिकारी की इस कार्रवाई के बाद शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया है.

लापरवाह शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई

दरअसल, मुख्य विकास अधिकारी को लगातार विद्यालय में शिक्षकों के देर से पहुंचने की शिकायत मिल रही थी. इसके बाद उन्होंने प्राथमिक विद्यालयों में औचक निरीक्षण करना शुरू कर दिया. अप्रैल माह में स्कूलों में हुए औचक निरीक्षण के दौरान सैकड़ों की संख्या में शिक्षक स्कूल में देर से आते हुए मिले या फिर अनुपस्थित मिले. अभी कई और स्कूलों में मुख्य विकास अधिकारी का निरीक्षण होना था. इससे पहले ही उन्होंने ड्यूटी के दौरान लापरवाही बरतने पर करीब 600 शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई कर दी.

विद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने पर जोर

मुख्य विकास अधिकारी ए मणिकन्दन के अनुसार, प्राथमिक विद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाने पर प्रदेश सरकार लगातार जोर दे रही है. सरकार की इस योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए उन्होंने यह कदम उठाया है. हर बच्चे को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिल सके. इसी बात पर जोर दिया जा रहा है. अगर इसमें कोई भी शिक्षक लापरवाही बरतता है तो उस पर कार्रवाई करना सुनिश्चित है.

बच्चों को स्कूल लाने का हर संभव प्रयास

मुख्य विकास अधिकारी ने आगे कहा कि, प्रदेश सरकार ने हर बच्चे को शिक्षित बनाने का अभियान छेड़ दिया है. इसलिए शिक्षक ऐसे लोगों के घर भी पहुंचेंगे जो अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेज रहे हैं. उन्हें जागरूक किया जाएगा और उनके बच्चों को स्कूल तक लाने के लिए हर प्रयास किया जाएगा, ताकि बच्चे शिक्षित होकर देश का भविष्य बना सके.

रिपोर्ट- राघवेंद्र गहलोत

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें