1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. corona virus in up 223 new death in uttar pradesh 38055 new covid positive prt

Covid 19 in UP: यूपी में कोरोना वायरस की भयंकर तबाही, 24 घंटे में 223 लोगों की मौत, 38,055 नए संक्रमित मिले

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Corona Virus
Corona Virus
twitter

यूपी में कोरोना का आंकड़ा हर दिन बढ़ रहा है. हर दिन संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है. बीते 24 घंटों में उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के 38,055 नये मामले सामने आये. इसी के साथ बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस से 223 लोगों की मौत हो गई. यह कोरोना से एक दिन में हुई मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा है. इससे पहले बीते शुक्रवार को एक दिन में कोरोना वायरस के सर्वाधिक 199 मरीजों की मौत हुई थी.

बीते 24 घंटे में 223 नये मरीजों की मौत के बाद कोरोना से मरने वालों की कुल संख्या 10,959 पहुंच गई है. वहीं, 38,055 नये संक्रमित मिलने के बाद प्रदेश में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 10,51,314 पहुंच गया है. बता दें राज्य में इस समय इलाज करा रहे कुल मरीजोंकी संख्या 2,88,144 हैं. बीते 24 घंटे में 23,231 मरीजों को उपचार के बाद घर भेजा गया है. और अबतक कुल 7,52,211 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.

लखनऊ में सबसे ज्यादा संक्रमितः यूपी की राजधानी लखनऊ में संक्रमितों की संख्या सबसे ज्यादा है. लखनऊ में बीते 24 घंटों में मरीजों की संख्या 5461 सामने आयी है. वहीं प्रयागराज में एक दिन में नये संक्रमितों की संख्या में 1468 सामने आयी है. इसी तरह कानपुर, वाराणसी, मेरठ, गाजियाबाद समेत अन्य शहरों में भी संक्रमितों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. राज्य की योगी सरकार कोरोना की रफ्तार में ब्रेक लगाने की हर संभव कोशिश कर रही है, लेकिन कोरोना का आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है.

इधर, प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम योगी ने अस्पतालों की निर्देश दिया है कि वो दिन में दो बार अस्पताल में खाली बेडों का विवरण सार्वजनिक पेश करें. ताकी लोगों को इलाज कराने में कोई परेशानी न हो. इसके अलावा उन्होंने इलाज में पूरी तरह पारदर्शिता बरतने का भी निर्देश दिया है. इसी कड़ी में अपर मुख्य सचिव सूचना एन सहगल ने बताया कि प्रदेश में रेमडेसिविर के 18 हजार नये इंजेक्शन आये हैं. इसके अलावा अन्य लाईफ सेविंग दवाओं की भी कमी नहीं होने दी जा रही है.

सीएम योगी ने निर्देश दिया है कि डॉक्टर की दवा की पर्ची दिखाने पर ऑक्सीजन सिलेंडर दिया जाए जो लोग होम आइसोलेशन में रह रहे है उन्हें परेशानी न हो. बता दें, प्रदेश में ऑक्सीजन के लिए नियंत्रण कक्ष भी खोला गया है. जिसके माध्यम से अस्पतालों को कब, कहां, कितनी ऑक्सीजन जा रही है, इसकी निगरानी की जा रही है. सीएम योगी ने कहा है कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है.

भाषा इनपुट के साथ

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें