1. home Home
  2. state
  3. up
  4. cm yogi adityanath inspected the arrangements before pm narendra modis visit to gorakhpur nrj

Gorakhpur News: PM नरेंद्र मोदी के आने से पहले व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे CM योगी, विपक्षी दलों पर दिखे हमलावर

सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को बताया कि 7 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तकरीबन 10 हजार करोड़ के विकास कार्यों की सौगात गोरखपुर और पूर्वांचलवासियों को देने के लिए गोरखपुर आ रहे हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Gorakhpur
Updated Date
PM मोदी के गोरखपुर आगमन की तैयारियों में जुटे हैं सीएम योगी आदित्यनाथ.
PM मोदी के गोरखपुर आगमन की तैयारियों में जुटे हैं सीएम योगी आदित्यनाथ.
सोशल मीडिया

Gorakhpur News: अपने गोरखपुर दौरे के दूसरे और अखिरी दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘वर्तमान की राज्य सरकार ने 26 वर्षों बाद गोरखपुर खाद कारखाने के रूप में जो सौगात दी है. उससे रोजगार और नौकरियों की संभावनाएं बढ़ेंगी.’

सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को सुबह गोरखनाथ मंदिर में प्रेस वार्ता की. इस दौरान उन्होंने बताया कि 7 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तकरीबन 10 हजार करोड़ के विकास कार्यों की सौगात गोरखपुर और पूर्वांचलवासियों को देने के लिए गोरखपुर आ रहे हैं. इस दौरान प्रधानमंत्री खाद कारखाने तथा गोरखपुर एम्स का उद्घाटन करेंगे. यह दोनों परियोजनाएं तकरीबन 10 हजार करोड़ रुपए की लागत से बनकर तैयार हुई हैं.

प्रधानमंत्री की रैली को सफल बनाने के लिए सीएम योगी खुद सारी तैयारियों का जायजा ले रहे हैं. सीएम ने रविवार को पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में कहा कि एम्स 112 एकड़ में बना है. 8 हजार 600 करोड़ रुपए फर्टिलाइजर फैक्ट्री पर और एम्स पर एक हजार 11 करोड़ एवं लैब पर 36 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं.

सीएम योगी ने इस दौरान विपक्षी पार्टियों पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि विपक्ष के लिए जो असंभव था उसे मोदी सरकार ने संभव कर दिखाया. उन्होंने बताया, ‘ईसीएमआर के द्वारा बनी लैब और गोरखपुर एम्स बनकर तैयार हो गया है. इसमें कोरोना से लेकर तमाम बीमारियों की जांच की जा सकेगी. जो नया सेंटर गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बन कर तैयार हो रहा है. इसका भी उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा होगा.’

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के द्वारा दी जा रही सौगात से न केवल पूर्वी उत्तर प्रदेश बल्कि बिहार और नेपाल की भी बड़ी आबादी को सीधा लाभ मिलेगा. साल 2016 में प्रधानमंत्री ने जिस एम्स की आधारशिला रखी थी वह अब बनकर तैयार हो गया है.

रिपोर्ट : अभिषेक पांडेय

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें