1. home Home
  2. state
  3. up
  4. case registered against aimim chief asaduddin owaisi for using abusive language against pm modi and cm yogi in barabanki of uttar pradesh slt

UP: बुरे फंसे असदुद्दीन ओवैसी, बाराबंकी में पीएम मोदी और सीएम योगी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने पर मामला दर्ज

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ नगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है. उनके खिलाफ सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने, पीएम मोदी और सीएम योगी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल, और कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन करने पर मामला दर्ज हुआ है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
एआईएमआईएम  प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ मामला दर्ज
एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ मामला दर्ज
फाइल फोटो.

हैदराबाद से सांसद और AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की मुश्किलें एक बार फिर से बढ़ती हुई नजर आ रही है. ओवैसी गुरूवार को बाराबंकी पहुंचे थे, जहां उन्होंने एक के बाद एक कई विवादित बयान दिए. जिसके बाद उनके खिलाफ नगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है. ओवैसी पर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने, पीएम मोदी और सीएम योगी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल, और कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन करने पर मामला दर्ज हुआ है.

जानकारी के अनुसार ओवैसी और आयोजक मंडल के खिलाफ गुरूवार रात करीब साढ़े 10 बजे नगर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक ने रिपोर्ट दर्ज किए जाने की जानकारी दी. गुरूवार को प्रशासन की अनुमति के बिना बाराबंकी में ओवैसी के कार्यक्रम का आयोजन हुआ. इस दौरान खुलेआम कोविड-19 गाइडलाइंस का किया गया, साथ ही सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने के लिए भड़काऊ भाषण भी दिए गए. जिसके बाद उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया.

बाराबंकी के कार्यक्रम के बाद दरियाबाद विधायक सतीश चंद्र शर्मा ने ओवैसी और कार्यक्रम आयोजकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराए जाने की मांग अपर मुख्य सचिव गृह से की थी. जिसके बाद डीएम और एसपी को जानकारी दी गई. जिसके बाद प्रशासन हरकत में आया, और मामला दर्ज किया गया. बता दें कि ओवैसी के खिलाफ धारा- 153ए, 188, 279 और 270 और महामारी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है.

विधायक सतीश शर्मा ने अपर मुख्य सचिव को भेजे पत्र में लिखा कि गुरुवार को कटरा मोहल्ला में बिना अनुमति के मीटिंग हुई. इस दौरान कोरोना गाइडलाइंस की जमकर धज्जियां उड़ाई गई. साथ ही ओवैसी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर रामसनेहीघाट में 100 साल पुरानी मस्जिद शहीद कराने का आरोप लगाया है, जो निंदनीय और सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वाला है. सभी जानते हैं कि अवैध ढांचे को संवैधानिक प्रक्रिया के तहत गिराया गया है.

ओवैसी यही नहीं रूके उन्होंने अपने भाषण में मोदी सरकार पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि ट्रिपल तलाक कानून लाकर मोदी सरकार ने मर्दों को और मजबूत कर दिया है. सरकार उनलोगों के खिलाफ कानून क्यों नहीं लाती, जो अपनी बीवियों को अपने साथ नहीं रखते. उनकी बीवियां दर-दर की ठोकरें खा रही हैं. ओवैसी ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा था कि वह बताएं कि गुजरात की भाभी का क्या होगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें