1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. biometric attendance of students in kanpur colleges sht

Kanpur News: कॉलेजों में बनेगी छात्रों-शिक्षकों की मेल आईडी, बायोमेट्रिक के जरिए लगेगी हाजिरी

माध्यमिक शिक्षा विभाग अब अपने कॉलेजों की व्यवस्था को हाई-टेक करने जा रहा है. इसके लिए हर कॉलेज में छात्रों और शिक्षकों की मेल आइडी बनाई जाएगी. इसके अलावा अब शिक्षकों और छात्रों की बॉयोमीट्रिक अटेंडेंस भी होगी.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Kanpur
Updated Date
Kanpur News
Kanpur News
Prabhat khabar

Kanpur News: माध्यमिक शिक्षा विभाग अब अपने कॉलेजों की व्यवस्था को हाई-टेक करने जा रहा है. इसके लिए हर कॉलेज में छात्रों और शिक्षकों की मेल आइडी बनाई जाएगी. इसके अलावा अब शिक्षकों और छात्रों की बॉयोमीट्रिक अटेंडेंस भी होगी.

कॉलेजों में बायोमेट्रिक के जरिए लगेगी हाजिरी

दरअसल, शासन की ओर से अब माध्यमिक कॉलेजों को आधुनिक तकनीक के साथ जोड़ा जा रहा है. इसके लिए हर कॉलेज को सबसे पहले खुद की वेबसाइट बनानी होगी. कॉलेजों की वेबसाइटों के मंडल स्तर पर मूल्यांकन के उपरांत उन्हें पुरस्कार के लिए भी चयनित किया जाएगा. इसके साथ ही वर्ष 2022-23 में सभी शिक्षकों के साथ ही छात्र-छात्राओं की बॉयोमीट्रिक्स उपस्थिति के लिए बायोमीट्रिक्स मशीने लगाने के साथ ही कॉलेज में वाई-फाई की भी व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है.

वेबसाइट के अलावा मेल आईडी भी होगी

अब हर कॉलेज की खुद की वेबसाइट के अलावा मेल आईडी भी होगी. यहां के हर शिक्षक की मेल आइडी और छात्र-छात्राओं की भी मेल आईडी बनेगी. विभाग की ओर से आने वाली सूचनाएं इन मेल आइडी के जरिए भी सबको साझा की जाएगीं. वहीं डीआइओएस अरविंद द्विवेदी ने प्रधानाचार्यों को सप्ताह भर के भीतर निर्देशों के अनुपालन की सूचना भी कार्यालय को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है.

बच्चों के पास फोन नहीं कैसे होंगें हाईटेक

शिक्षा विभाग के हाई-टेक होने में बच्चों के पास संसाधनों का टोटा भी समस्या बनेगा. ग्रामींण इलाके के बच्चों के पास एंड्रायड फोन नहीं है. यदि हैं तो उनके पास नेट की समस्या है. बीते दो बरस में विभाग ने ऑनलाइन शिक्षा का दावा भले ही किया हो, लेकिन हकीकत में ग्रामीण इलाके में 10 बच्चे भी संसाधनों की कमी के कारण इस व्यवस्था से नहीं जुड़ सके थे.

रिपोर्ट- आयुष तिवारी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें