1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. agra
  5. uttar pradesh agra private medical services will remain closed today rkt

Agra News: हॉस्पिटल जानें से पहले पढ़ लें ये जरूरी खबर, वरना होना पड़ेगा परेशान

डॉक्टर की आत्महत्या के बाद देशभर के चिकित्सकों में आक्रोश फैल गया. इस मामले को लेकर बुधवार दोपहर को आईएमए आगरा के डॉक्टरों की एक आपात बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि गुरुवार सुबह 6 बजे से शुक्रवार सुबह 6 बजे तक प्राइवेट डॉक्टर पूर्ण रूप से हड़ताल पर रहेंगे.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Agra
Updated Date
आगरा में प्राइवेट अस्पतालों की हड़ताल
आगरा में प्राइवेट अस्पतालों की हड़ताल
Prabhat Khabar

Agra News: ताजनगरी में गुरुवार को सभी प्राइवेट अस्पताल के डॉक्टर हड़ताल पर रहेंगे. राजस्थान के दौसा में महिला डॉक्टर द्वारा की गई आत्महत्या और डॉक्टर के खिलाफ पुलिस द्वारा दर्ज किए गए मुकदमे के खिलाफ देशभर के डॉक्टरों में आक्रोश है. ऐसे में आगरा में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने गुरुवार को हड़ताल का निर्णय लिया है. गुरुवार को सभी इमरजेंसी सेवाएं भी पूर्ण रूप से ठप रहेंगी.

आपको बता दें राजस्थान के दौसा के लालकोट स्थित आनंद हॉस्पिटल में डिलीवरी के बाद प्रसूता के ब्लीडिंग होने लगी और इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. इस मामले में हॉस्पिटल में हंगामे के बाद पुलिस ने हॉस्पिटल संचालक डॉ अर्चना शर्मा के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया, इससे घबराकर डॉ अर्चना शर्मा ने सुसाइड कर लिया. उन्होंने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा था जिसमें उन्होंने किसी की हत्या न करने की बात लिखी थी और लिखा था कि शायद मेरा मरना मेरी बेगुनाही साबित कर दे.

डॉक्टर की आत्महत्या के बाद देशभर के चिकित्सकों में आक्रोश फैल गया. इस मामले को लेकर बुधवार दोपहर को आईएमए आगरा के डॉक्टरों की एक आपात बैठक आईएमए भवन तोता ताल पर बुलाई गई. जिसमें सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि गुरुवार सुबह 6 बजे से शुक्रवार सुबह 6 बजे तक प्राइवेट डॉक्टर पूर्ण रूप से हड़ताल पर रहेंगे. इस दौरान प्राइवेट इमरजेंसी सेवाएं भी ठप रहेंगी और कोई नया मरीज भर्ती नहीं किया जाएगा.

आईएमए अध्यक्ष डॉ राजीव उपाध्याय ने बताया कि हॉस्पिटल क्लीनिक और सभी डायग्नोस्टिक सेंटर पूर्ण रुप से बंद रहेंगे. इस बैठक में पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर रवी मोहन पचौरी, सचिव डॉ अनूप दीक्षित सहित बड़ी संख्या में डॉक्टर मौजूद रहे.

आपको बता दें गुरुवार को प्राइवेट डॉक्टरों द्वारा बुलाई गई हड़ताल के बाद तमाम मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. जिले में रोजाना सैकड़ों की संख्या में मरीज अस्पताल में आते हैं. ऐसे में जिन मरीजों को डॉक्टरों की हड़ताल के बारे में जानकारी नहीं होगी और वह आगरा पहुंचेंगे, तो उन्हें निराश होना पड़ेगा और इलाज के लिए इधर-उधर घूमना पड़ेगा. वहीं दूसरी तरफ प्राइवेट अस्पताल की हड़ताल होने की वजह से एसएन और जिला अस्पताल में मरीजों के बढ़ने की आशंका है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें