1. home Hindi News
  2. state
  3. maharashtra
  4. sanjay raut says there is peace in maharashtra and no protest is happening no illegal loudspeakers running vwt

राज ठाकरे को संजय राउत ने दिया जवाब, कहा - महाराष्ट्र में अवैध तरीके से नहीं चल रहे एक भी लाउडस्पीकर

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र में शांति बनी है और राज्य में किसी प्रकार का प्रदर्शन नहीं किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि राज्य में अवैध तरीके से लाउडस्पीकर नहीं चलाए जा रहे हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
शिवसेना सांसद संजय राउत
शिवसेना सांसद संजय राउत
फोटो : ट्विटर

मुंबई : महाराष्ट्र के मस्जिदों में लाउडस्पीकर से अजान पढ़ने जाने के विरोध में बुधवार को मनसे (महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना) के कार्यकर्ताओं द्वारा मुंबई और आसपास के इलाको मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ करने और राज ठाकरे द्वारा लाउडस्पीकर हटाने के लिए दिए गए अल्टीमेटम पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने जवाब दिया है. राज ठाकरे के सवाल पर उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में शांति बहाल है और राज्य में किसी प्रकार का प्रदर्शन नहीं किया गया है. उन्होंने यह भी कहा कि राज्य में अवैध तरीके से लाउडस्पीकर नहीं चलाए जा रहे हैं.

शिवसेना का हिंदुत्व असली

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत के दौरान शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र में शांति बनी है और राज्य में किसी प्रकार का प्रदर्शन नहीं किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि राज्य में अवैध तरीके से लाउडस्पीकर नहीं चलाए जा रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि बाल ठाकरे और वीर सावरकर देश के हिंदूवादी विचारकों में से एक हैं. उन्होंने कहा कि शिवसेना का हिंदुत्व ही असली है. उन्होंने यह भी कहा कि आप माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं. पूरे देश में लाउडस्पीकर का क़ानून बना है, उसका महाराष्ट्र में पालन हो रहा है.

मुंबई और आसपास के मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ

बताते चलें कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने एक मई रविवार को औरंगाबाद में आयोजित रैली में इस बात का ऐलान किया था कि महाराष्ट्र की मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकरों को नहीं हटाया गया, तो मनसे कार्यकर्ता मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे. इसके बाद उन्होंने देश के हिंदुओं को खुला पत्र लिखकर यह कहा था कि जहां-जहां की मस्जिदों में लाउडस्पीकर से नमाज पढ़े जाते हैं, वहां-वहां के मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ करें. उनकी इस अपील के बाद बुधवार को मुंबई और इसके आसपास के इलाकों के मंदिरों में मनसे कार्यकर्ता सुबह से ही हनुमान चालीसा का पाठ कर रहे हैं.

राज ठाकरे पर पुलिस ने दर्ज किया गया केस

उधर, बुधवार को मुंबई और आसपास के इलाकों के मंदिरों में मनसे कार्यकर्ताओं द्वारा हनुमान चालीसा का पाठ करने के बाद पुलिस की ओर से मनसे प्रमुख राज ठाकरे के घर के आगे सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई. इसके साथ ही, पुलिस ने मनसे के नेताओं को नोटिस भी जारी किया है. इसके साथ ही, महाराष्ट्र पुलिस ने औरंगाबाद में आयोजित रैली के दौरान राज ठाकरे के भाषण का वायरल वीडियो देखने के बाद उन पर केस भी दर्ज किया है.

मुंबई और आसपास के इलाकों में सुरक्षा कड़ी

इसके साथ ही, अजान के लिए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल किए जाने के विरोध में हनुमान चालीसा का पाठ करने के मनसे के प्रमुख राज ठाकरे की अपील के बाद बुधवार को मुंबई और आसपास के शहरों में कई स्थानों पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. एक अधिकारी ने बताया कि अधिकतर मस्जिदों में सुबह की नमाज शांतिपूर्ण तरीके से अदा की गई. उन्होंने बताया कि मुंबई पुलिस आयुक्त संजय पांडेय समेत सभी वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सुरक्षा बलों की तैनाती का जायजा लेने के लिए गश्त पर निकले हैं. कुछ जगहों पर मस्जिदों के बाहर भी पुलिस तैनात की गई है.

कई स्थानों पर नाकाबंदी

अधिकारी ने यह भी बताया कि विभिन्न स्थानों पर नाकाबंदी की गई है और किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए देर रात से ही वाहनों की जांच की जा रही है. शहर की पुलिस ने एहतियाती तौर पर मनसे के कार्यकर्ताओं और अन्य लोगों के खिलाफ भारतीय दंड प्रक्रिया संहिता (आईपीसी) धारा 149 (संज्ञेय अपराधों को रोकने के लिए) सहित विभिन्न धाराओं के तहत 1,600 से अधिक नोटिस जारी किए हैं.

मस्जिदों के मौलवियों और ट्रस्टियों के साथ बैठक

अधिकारी ने आगे बताया कि पुलिस ने विभिन्न मस्जिदों के मौलवियों और ट्रस्टियों के साथ बैठकें भी की हैं और उन्हें सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों तथा ध्वनि प्रदूषण से संबंधित नियमों का पालन करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने बताया कि पड़ोसी जिले ठाणे और पालघर में भी कई स्थानों पर भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया है. ठाणे के मुंब्रा कस्बे में जुम्मा मस्जिद के पास व्यापक बंदोबस्त किए गए हैं. मनसे के कुछ कार्यकर्ताओं ने वहां करीब ही हनुमान चालीसा का पाठ करने की योजना बनाई थी, लेकिन धार्मिक परिसर के बाहर अजान सुनाई नहीं देने के बाद वे चले गए.

मुंबई में 1140 मस्जिद : गृह विभाग

उधर, महाराष्ट्र के गृह विभाग की ओर से बुधवार को जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि मुंबई में कुल 1,140 मस्जिदें हैं, जिनमें से 135 ने आज सुबह 6 बजे से पहले लाउडस्पीकर का इस्तेमाल किया. उन्होंने कहा कि भारत के सर्वोच्च अदालत के आदेशों के खिलाफ जाने वाली इन 135 मस्जिदों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जानी चाहिए.

पुणे में 2500 सुरक्षाकर्मी तैनात

पुणे के पुलिस आयुक्त अमिताभ गुप्ता ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की ओर से दिए गए दिशा-निर्देश का पालन करते हुए बुधवार की सुबह कई मस्जिदों में स्वेच्छा से लाउडस्पीकर से अजान नहीं बजाए गए. उन्होंने कहा कि शहर में शांति और कानून-व्यवस्था दुरुस्त बनाए रखने के लिए करीब 2500 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें