1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. simdega
  5. furious villagers burnt the dead body after killing former naxalite angry about cutting wood from forest in simdega smj

उग्र ग्रामीणों ने पूर्व नक्सली की हत्या कर शव को जलाया, सिमडेगा में जंगल से लकड़ी काटने को लेकर थे नाराज

सिमडेगा जिला अंतर्गत कोलेबिरा के सैकड़ों उग्र ग्रामीणों ने पूर्व नक्सली को उसके परिजनों के सामने हत्या कर शव का जला दिया. इस घटना के बाद काफी संख्या में पुलिस बल गांव में कैंप कर रही है. घटना का कारण क्षेत्र के जंगलों से लकड़ी काटकर बेचना बताया गया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: घटना के बाद सिमडेगा के छपरीडिपा में काफी संख्या में पहुंची पुलिस.
Jharkhand news: घटना के बाद सिमडेगा के छपरीडिपा में काफी संख्या में पहुंची पुलिस.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: सिमडेगा जिला अंतर्गत कोलेबिरा थाना इलाके के बेसराजारा बाजार के निकट मंगलवार को लगभग दो बजे के करीब सैकड़ों उग्र ग्रामीणों ने पूर्व नक्सली की हत्या कर शव को जला दिया. उग्र ग्रामीणों ने पूर्व नक्सली की मां और पत्नी के सामने ही हत्या कर शव को जला दिया. पूर्व नक्सली द्वारा जंगलों से लकड़ी की कटाई को लेकर ग्रामीण काफी दिनों से नाराज थे.

घटना को लेकर मिली जानकारी के अनुसार, कोलेबिरा थाना क्षेत्र के छपरीडिपा निवासी संजू प्रधान पूर्व माओवादी था. जेल से छूटने के बाद वह लकड़ी का व्यवसाय कर रहा था. जिससे ग्रामीण काफी नाराज थे. कई बार ग्रामीणों ने जंगलों की कटाई नहीं करनी की बातें कही थी. लेकिन, संजू प्रधान लगातार जंगलों की कटाई कर तस्करी का काम करता था. इससे ग्रामीण खासे नाराज थे.

मंगलवार को ग्रामीणों ने बंबलकेरा पंचायत भवन में बैठक कर उक्त घटना को अंजाम देने का निर्णय लिया. बैठक के बाद कई टोले के ग्रामीण बेसराजरा बाजार टांड़ के पास रह रहे संजू प्रधान के घर के अंदर पहुंचे. उस वक्त उनका पूरा परिवार घर के पास ही था. घर में संजू और उसकी पत्नी सपना देवी थी.

सबसे पहले दो लोग घर में घुसे और जबरन उसे घर से निकालना चाहा. जाने से इनकार करने पर सभी ग्रामीण उसके घर पहुंचे और उसे घर से निकालकर पीटते हुए घर से करीब 100 कदम की दूरी पर उसे ले गये. वहां मारपीट कर परिजनों के सामने ही उसकी हत्या कर दी. इतना ही नहीं हत्या के बाद उसके ही घर में रखी लकड़ी को चिता बनाकर उसे जलाकर राख कर दिया.

पुलिस घटनास्थल पर नहीं पहुंच सकी

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस गांव तो पहुंची, लेकिन ग्रामीणों के विरोध और उग्र तेवर को देखते हुए पुलिस घटनास्थल पर नहीं पहुंच सकी. बाद में पुलिस कर्मियों ने जिला मुख्यालय को घटना की जानकारी दी. इसके बाद भारी संख्या में पुलिस बल घटनास्थल पर पहुंची. काफी संख्या में पुलिस बल को आते देख ग्रामीण भाग खड़े हुए. लेकिन, तब तक पूर्व नक्सली संजू प्रधान का शरीर जलकर पूरी तरह से राख हो चुका था.

इधर, पुलिस ने संजू प्रधान के जले हुए शव को अपने कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. वहीं, पुलिस घटना को लेकर तहकीकात में जुट गयी है. दूसरी ओर, परिवार की सुरक्षा को लेकर पुलिस गांव में कैंप कर रही है. एसपी डॉ शम्स तबरेज ने कहा कि घटना में जो भी दोषी होंगे उन्हें बख्शा नहीं जायेगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें