1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. teachers with integrated degree be able to teach in primary to plus 2 school prt

Ranchi News: शिक्षक नियुक्ति की तैयारी, अब इंटीग्रेटेड डिग्रीवाले प्राइमरी से प्लस टू तक में हो सकेंगे शिक्षक

प्राथमिक से लेकर प्लस टू तक के स्कूलों में शिक्षक नियुक्ति के लिए अभ्यर्थी अब एक ही डिग्री के आधार पर आवेदन कर सकते हैं. भारत सरकार ने शिक्षक नियुक्ति को लेकर तय प्रावधानों में बदलाव किया है. इसे लेकर राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद ने पत्र जारी कर दिया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
शिक्षक नियुक्ति की तैयारी
शिक्षक नियुक्ति की तैयारी
Symbolic Image

Ranchi News: प्राथमिक से लेकर प्लस टू तक के स्कूलों में शिक्षक नियुक्ति के लिए अभ्यर्थी अब एक ही डिग्री (इंटीग्रेटेड बीएड-एमएड) के आधार पर आवेदन कर सकते हैं. भारत सरकार ने शिक्षक नियुक्ति को लेकर तय प्रावधानों में बदलाव किया है. इसे लेकर राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीइ) ने पत्र जारी कर दिया है. प्राथमिक से लेकर प्लस टू विद्यालय तक में शिक्षक नियुक्ति के लिए पूर्व निर्धारित योग्यता के अलावा वैसे अभ्यर्थी, जिन्हें पीजी में 55 फीसदी अंक मिले हों और तीन वर्षीय एकीकृत (इंटीग्रेटेड ) बीएड-एमएड कोर्स किया हो, वे आवेदन जमा कर सकते हैं.

ऐसे में मध्य विद्यालय और हाइस्कूल व प्लस टू विद्यालय में शिक्षक नियुक्ति के लिए वैसे अभ्यर्थी, जिनके पास स्नातक में 50 फीसदी अंक नहीं हैं व पीजी में 55 फीसदी अंक लाकर और एकीकृत (इंटीग्रेटेड ) बीएड-एमएड कोर्स करके भी शिक्षक नियुक्ति के लिए आवेदन कर सकते हैं. प्राथमिक विद्यालय में भी शिक्षक नियुक्ति के लिए उक्त योग्यतावाले अभ्यर्थी को अवसर दिया गया है, पर यह शर्त रखी गयी है कि नियुक्ति के बाद उन्हें छह माह का ब्रिज कोर्स करना होगा.

  • 55% अंक के साथ पीजी व इंटीग्रेटेड बीएड एमएडवाले विद्यार्थी को मिलेगा अवसर

  • एनसीटीइ ने जारी की अधिसूचना, राज्य भी इसी आधार पर करेंगे बदलाव

राज्यों को भी करना होगा नियमावली में बदलाव

एनसीटीइ द्वारा तय योग्यता के अनुरूप ही राज्यों में शिक्षक नियुक्ति नियमावली में योग्यता निर्धारित की जाती है. ऐसे में अब राज्य में शिक्षक नियुक्ति नियमावली में भी इस प्रावधान को शामिल किया जा सकता है.

झारखंड में शिक्षक बनने के लिए इसी राज्य से मैट्रिक व इंटर की परीक्षा पास होने का प्रावधान जोड़ने की हो रही तैयारी: राज्य में अब हाइस्कूल व प्लस टू विद्यालयों में शिक्षक नियुक्ति नियमावली में भी बदलाव होगा. राज्य सरकार द्वारा नियुक्ति में झारखंड से मैट्रिक व इंटर की परीक्षा पास होने के प्रावधान को शामिल किया जायेगा. इसे लेकर स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है. वहीं प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति नियमावली व झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा नियमावली में बदलाव को लेकर प्रस्ताव तैयार है. दोनों नियमावली में संशोधन का प्रस्ताव शिक्षा मंत्री को भेजा गया है. ऐसे में अब राज्य में शिक्षक नियुक्ति में प्राथमिक से लेकर प्लस टू तक की नियमावली में बदलाव होगा.

शिक्षक नियुक्ति की हो रही तैयारी

राज्य में प्राथमिक से लेकर प्लस टू विद्यालय तक में शिक्षक नियुक्ति की तैयारी चल रही है. प्राथमिक व मध्य विद्यालयों में लगभग 71 हजार शिक्षकों के पद सृजित किये जा रहे हैं. नियमावली में संशोधन के बाद प्रक्रिया शुरू होगी. राज्य में वर्तमान में प्राथमिक विद्यालय में 17835 और मध्य विद्यालय में स्नातक प्रशिक्षित शिक्षकों के 4893 पद रिक्त हैं. इन विद्यालयों में वर्तमान में 64134 पद सृजित हैं.

वहीं हाइस्कूल व प्लस टू स्कूल में 16680 पद रिक्त हैं. हाइस्कूल शिक्षकों के 13616 एवं प्लस टू शिक्षकों के 3064 पद रिक्त हैं. प्लस टू विद्यालयों में आधे से अधिक शिक्षकों के पद रिक्त हैं. हाइस्कूल में शिक्षकों के 25169 एवं प्लस टू विद्यालय में 5610 शिक्षक के पद सृजित हैं. शिक्षक नियुक्ति नियमावली में संशोधन के बाद नियुक्ति प्रक्रिया शुरू होगी.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें