1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. ranchi violence case update ramesh bais summoned 4 officers asked why did not use water cannon tear gas srn

Ranchi Violence: 4 अधिकारियों से राज्यपाल ने किया जवाब तलब, पूछा- वाटर कैनन, आंसू गैस का उपयोग क्यों नहीं

राज्यपाल रमेश बैस ने डीजीपी से कहा है कि शहर के मुख्य स्थानों पर उपद्रव मामले में गिरफ्तार लोगों की तस्वीर प्रदर्शित करते हुए उनके होर्डिंग्स लगाये जायें, ताकि आम लोग भी उन्हें पहचान सकें. पुलिस की मदद कर सकें

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
गवर्नर रमेश बैस
गवर्नर रमेश बैस
फाइल फोटो

रांची : झारखंड के राज्यपाल रमेश बैस ने कल राज्य के 4 बड़े अधिकारियों को जवाब तलब किया और बिगड़ती विधि-व्यवस्था पर नराजगी जाहिर की. इन अधिकारियों में रांची डीसी, डीजीपी, एडीजी और एसएसपी शामिल थे. उन्होंने सवाल पूछा कि फायरिंग से पहले पुलिस ने वाटर कैनन, आंसू गैसे के गोले क्यों नहीं छोड़े. रमेश बैस ने डीजीपी से कहा है कि शहर के मुख्य स्थानों पर उपद्रव मामले में गिरफ्तार लोगों की तस्वीर प्रदर्शित करते हुए उनके होर्डिंग्स लगाये जायें, ताकि आम लोग भी उन्हें पहचान सकें. पुलिस की मदद कर सकें. मौके पर अधिकारियों से राज्यपाल ने घटना को लेकर कई सवाल पूछे

उन्होंने डीजीपी नीरज सिन्हा से पूछा कि रांची में शुक्रवार को उपद्रवियों पर गोली चलाने से पहले वाटर कैनन, रबर बुलेट व आंसू गैस का इस्तेमाल क्यों नहीं किया? ये सब चीजें उस समय वहां उपलब्ध क्यों नहीं थीं. प्रस्तावित घटना, धरना-प्रदर्शन और जुलूस के बारे में प्रशासन के पास क्या जानकारी थी और क्या व्यवस्था की गयी थी.

आइबी, सीआइडी तथा स्पेशल ब्रांच ने क्या-क्या इनपुट दिये थे. रांची सहित राज्य की बिगड़ती विधि-व्यवस्था को लेकर राज्यपाल काफी नाराज और गुस्से में दिखे. उन्होंने कहा कि हाल की घटनाओं की विस्तृत रिपोर्ट अविलंब उन्हें उपलब्ध करायी जाये.

प्रदर्शन की सूचना थी, तो सुरक्षा व्यवस्था क्यों नहीं की :

राज्यपाल ने अधिकारियों से यह भी पूछा कि जुलूस के संचालन के दौरान कितने सुरक्षाकर्मी और दंडाधिकारी वहां उपस्थित थे. जब धरना-प्रदर्शन की जानकारी जिला प्रशासन को थी, तो सुरक्षा के इंतजाम क्यों नहीं किये गये. राज्यपाल ने सवाल किया कि वहां पर मौजूद अधिकारियों व पुलिसकर्मियों ने हेलमेट सहित सुरक्षा से जुड़े सामान क्यों नहीं पहने थे, इसका कारण बतायें. इस पर डीजीपी ने कहा कि आइबी की ओर से उन्हें 150 लोगों द्वारा ही अराजकता पैदा करने की स्थिति बतायी गयी थी.

गिरफ्तार लोगों की पूरी जानकारी लें :

राज्यपाल ने अधिकारियों से पूछा कि अब तक कितनी गिरफ्तारियां हुई हैं. साथ ही कितने एफआइआर दर्ज हुए हैं. उन्होंने कहा कि गिरफ्तार लोगों का पूर्ण विवरण प्राप्त करें. उनके नाम और पता सार्वजनिक करें. उन्होंने सवाल किया कि घटना को लेकर सोशल मीडिया के माध्यम से अफवाह फैलानेवालों की अब तक पहचान हुई है या नहीं. अगर हुई है, तो अब तक आप लोगों ने क्या कार्रवाई की है. ऐसे लोगों की अविलंब पहचाने करें और उन्हें दंडित करें.

पिछले सप्ताह राज्य में घटित घटना पर क्या कार्रवाई हुई :

राज्यपाल ने अधिकारियों से कहा कि गुमला में दुष्कर्म के आरोपी युवक को भीड़ द्वारा जिंदा जला कर मार दिया गया. रांची में राजेश कुमार पाल ज्वेलर की दुकान में हत्या कर दी गयी. आदित्यपुर में तीन युवकों की हत्या कर दी गयी. जमशेदपुर में गवाही देने पर घर में घुस कर युवक मनप्रीत की हत्या की गयी. अब तक इस मामले में क्या कार्रवाई हुई है. उन्होंने डीजीपी को निर्देश दिया है कि इन सबकी जानकारी अतिशीघ्र उपलब्ध करायें.

  • जुलूस के बारे में प्रशासन को क्या जानकारी थी और क्या व्यवस्था की गयी थी

  • आइबी, सीआइडी और स्पेशल ब्रांच ने क्या-क्या इनपुट दिये थे, बताएं

  • पुलिस अफसरों व कर्मियों ने हेलमेट व प्रोटेक्टिव गियर क्यों नहीं पहने थे

  • गुमला में दुष्कर्मी को जिंदा जलाने, पाल ज्वेलरी संचालक की हत्या, जमशेदपुर में हत्या, आदित्यपुर में तिहरे हत्याकांड मामले में क्या कार्रवाई हुई, रिपोर्ट दें

Posted By: Sameer Oraon

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें