1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. rajya sabha 2020 ranchi sdo send notice to sarala birla university for allowing to stay bjp mla

राज्यसभा चुनाव 2020 : भाजपा विधायकों को सरला बिरला विश्वविद्यालय में ठहराने पर एसडीओ का नोटिस

By Mithilesh Jha
Updated Date
सरला बिरला विश्वविद्यालय में हुई थी एनडीए की बैठक और विधायक वहीं ठहरे भी थे.
सरला बिरला विश्वविद्यालय में हुई थी एनडीए की बैठक और विधायक वहीं ठहरे भी थे.

रांची : राज्यसभा चुनाव की वजह से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के विधायकों को सरला बिरला विश्वविद्यालय में बिना अनुमति लिये ठहराने पर अनुमंडल पदाधिकारी ने यूनिवर्सिटी को नोटिस जारी किया है. रांची सदर के एसडीओ ने विश्वविद्यालय के प्राचार्य को चिट्ठी लिखकर 24 घंटे के भीतर यह बताने को कहा है कि उन्होंने प्रशासन की अनुमति के बगैर विधायकों और अन्य लोगों को यूनिवर्सिटी कैंपस में घुसने तथा वहां ठहरने की अनुमति कैसे दी.

गुरुवार (18 जून, 2020) को अनुमंडल पदाधिकारी ने झारखंड की सत्ताधारी पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के महासचिव सह प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य की शिकायत पर यह नोटिस जारी किया है. श्री भट्टाचार्य ने भारत के मुख्य निर्वाचन आयुक्त को 17 जून, 2020 को एक पत्र लिखा. इसमें कहा कि वैश्विक महामारी कोविड19 की वजह से पूरे देश में आपदा प्रबंधन अधिनियम लागू है.

इस अधिनियम के तहत सभी शैक्षणिक संस्थाओं को पूर्णत: बंद रखने की घोषणा की गयी है. इस दौरान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सरला बिरला विश्वविद्यालय को जबरन खुलवाकर उसमें एनडीए के नाम पर सैकड़ों लोगों की बैठक की.

श्री भट्टाचार्य ने आगे लिखा है कि बैठक के बाद संस्थान के छात्रावास को खुलवाकर उसमें विधायकों को जबरन रहने की हिदायत दी गयी. राज्यसभा चुनाव में निर्वाचक मंडल के सभी सदस्य स्वेच्छा से मतदान करते हैं एवं उन पर कोई व्हिप जारी नहीं होता. झामुमो महासचिव ने भाजपा की इस गतिविधि को गैरकानूनी करार देते हुए चुनाव आयोग से मांग की थी कि विश्वविद्यालय प्रबंधन के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाये.

झामुमो के इसी पत्र के आलोक में गुरुवार को रांची सदर के अनुमंडल पदाधिकारी ने टाटीसिल्वे स्थित सरला बिरला विश्वविद्यालय को नोटिस जारी किया है. विश्वविद्यालय के प्राचार्य से पूछा गया है कि बिना अनुमति के विधायकों एवं अन्य लोगों को ठहरने की अनुमति उन्होंने कैसे दी.

उल्लेखनीय है कि झारखंड में शुक्रवार (19 जून, 2020) को राज्यसभा की 2 सीटों के लिए मतदान होना है. झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश दो सीटों के लिए उम्मीदवार हैं. इन दोनों की जीत पक्की मानी जा रही है. लेकिन, सत्ताधारी झामुमो की सहयोगी पार्टी कांग्रेस ने शहजादा अनवर को चुनाव के मैदान में उतार दिया है, जिससे हॉर्स ट्रेडिंग के लिए बदनाम झारखंड में विधायकों की खरीद-फरोख्त की संभावना बढ़ गयी है.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें