32.5 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

Jharkhand: ED की छापेमारी के दौरान पंकज मिश्रा को बैंक कर्मी बता रहा था बचने का तरीका, कॉल डिटेल से हुआ खुलासा

पंकज मिश्रा दूसरे बैंक के कर्मचारी से बात कर अपने खाते से 25 लाख रुपये किसी दूसरे के खाते में ट्रांसफर करवाना चाहता था. लेकिन बैंक कर्मचारी ने उसे ऐसा करने से रोका. कॉल डिटेल की जांच के दौरान इस बात की जानकारी मिली है

शकील अख्तर, रांची : अवैध खनन मामले में प्रवर्तन निदेशालय (इडी) के अधिकारी जिस दिन साहिबगंज में बैंकों में छापा मार कर पंकज मिश्रा के खातों की जांच कर रहे थे, उसी दिन एक बैंक कर्मचारी उसे फाइनेंशियल इंटेलिजेंस यूनिट (एफआइयू) की नजर से बचने का तरीका बता रहा था. पंकज मिश्रा पवन नाम के उक्त बैंक कर्मचारी से अपने खाते में जमा पैसों की जानकारी मांग रहा था.

वहीं दूसरे बैंक के कर्मचारी से बात कर अपने खाते से 25 लाख रुपये किसी दूसरे के खाते में ट्रांसफर करवाना चाहता था. लेकिन बैंक कर्मचारी ने उसे ऐसा करने से रोका ताकि वह फाइनांशियल एफआइयू की नजर में आने से बच सके.

पंकज मिश्रा के कॉल डिटेल की जांच के दौरान इस बात की जानकारी मिली है. सरकार ने बैंक खातों से एक दिन या एक बार में 10 लाख या उससे अधिक के लेन-देन की जानकारी के लिए नियम और प्रणाली बना रखी है. इसके तहत किसी भी बैंक खाते से 10 लाख या इससे अधिक की राशि की निकासी या एक खाते से दूसरे खाते में ट्रांसफर करने की रिपोर्ट एफआइयू, सेंट्रल एक्साइज और बैंक के मुख्यालय को स्वत: पहुंच जाती है.

पंकज मिश्रा 15 जुलाई 2022 को अपने बैंक खाते से किसी के खाते में 25 लाख रुपये ट्रांसफर करना चाह रहा था. लेकिन बैंक कर्मचारी ने उसे ऐसा करने से यह कहते हुए रोका कि इस ट्रांजेक्शन की रिपोर्ट हो जायेगी. इसके बाद उसने 10 लाख रुपये ट्रांसफर करने की योजना बनायी. लेकिन बैंक कर्मचारी ने उसे ऐसा करने से भी रोक दिया.

इसके बाद पहले दिन पांच लाख और दूसरे दिन पांच लाख रुपये ट्रांसफर किये गये, ताकि जांच एजेंसियों की नजर से बचा जा सके. जांच-पड़ताल के दौरान पंकज मिश्रा ने बैंक कर्मचारी का नाम यह कहते हुए नहीं बताया था कि उसे उसका नाम याद नहीं है. बैंक कर्मचारी और पंकज मिश्रा के बीच की यह बातचीत 15 जुलाई 2022 की है. पंकज ने 15 जुलाई 2022 को दो अलग-अलग बैंकों के कर्मचारियों से बातचीत की.

एक बैंक के कर्मचारी से वह 25 लाख रुपये किसी के खाते में ट्रांसफर करवाना चाहता था. दूसरे बैंक के कर्मचारी पवन से वह अपने एक खाते में जमा हुए पैसों के सिलसिले में पूछताछ कर रहा था. उसी दिन यानी 15 जुलाई को इडी के अधिकारियों का दल साहिबगंज में सेंट्रल बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ इंडिया और इंडियन ओवरसीज बैंक में पंकज मिश्रा के खातों की जांच-पड़ताल कर रहा था.

बैंक कर्मचारी व पंकज मिश्रा के बीच की गयी बातचीत का ब्योरा

बैंक कर्मचारी: हैलो.

पंकज मिश्रा: हां

बैंक कर्मचारी: हां सर, वो घर से फोन आ रहा था. रास्ते में हैं ना,इसलिए घर से फोन आ रहा था.

पंकज मिश्रा: हां.

बैंक कर्मचारी: वो कह रहे हैं सर… आज उसमें कितना भेजना है सर?

पंकज मिश्रा: पच्चीस.

बैंक कर्मचारी: सर, उसमें एक चीज मेरा कहना है. सर, उसमें… हायर ट्रांजेक्शन नहीं कीजिए सर. वो क्या है ना कि स्टेटमेंट तो मांगा गया था हम लोगों से भी सर. लेकिन हमलोग को वैसा कुछ ऑर्डर नहीं दिया है. तो हायर… ट्रांजेक्शन क्या होता है ना वो रिपोर्टेड हो जाता है.

पंकज मिश्रा: तो दस .

बैंक कर्मचारी: हां सर, वो दस से विलो कीजिये सर. हम तो यही बोलेंगे सर, क्योंकि जैसे बी मतलब सात से आठ से ऊपर होता है ना सर तो रिपोर्ट होता है. एनसीएल…. डिपार्टमेंट को और .

पंकज मिश्रा: ना ना हम बिजनेस करने के लिए किसी को दे रहे हैं. दस दें.

बैंक कर्मचारी: हां सर. नहीं सर, वो क्या है ना वो आपका…….

पंकज मिश्रा: कैश नहीं….करना है.

बैंक कर्मचारी: नहीं सर. ट्रांसफर भी है सर ना तो क्या होता है ना हायर…… ट्रांजेक्शन में आने से सेविंग अकाउंट है ना?

पंकज मिश्रा : पांच, पांच. पांच कर देते हैं दो गो?

बैंक कर्मचारी : हां हां. पांच कर दीजिए. उसके बाद फिर आगे दिन, कल के दिन उस को भी कल सुबह-सुबह भेज दीजियेगा सर.

पंकज मिश्रा: हम चाहते हैं कि उ रिपोर्ट में जाये. रिपोर्ट में जाये तब ना दिखेगा कि हम बिजनेस करते हैं.

बैंक कर्मचारी: हां, हां. वो तो…… वही मेरा कहना था कि उसको सिंगल-सिंगल ट्रांजेक्शन करके उसका भेजा जाये. मतलब तो फिर वो सही रहेगा.

पंकज मिश्रा: अच्छा हम पांच-पांच कर देते हैं. आप कर दीजिए.

बैंक कर्मचारी: ठीक है सर. हम भेजेंगे सर.

पंकज मिश्रा: आज, आज एगो कर दीजियेगा. लेट नहीं.

बैंक कर्मचारी: हां कर देंगे सर, उसे भिजवा देंगे सर ,ना.

पंकज मिश्रा: ठीक-ठीक. तुरंत-तुरंत

बैंक कर्मचारी: ठीक.

पवन व पंकज मिश्रा की बातचीत

पवन: हैलो.

पंकज मिश्रा: पवन जी.

पवन: हां सर, नमस्कार.

पंकज मिश्रा: देखिये तो, लीखिए तो 5..5.

पवन: एक सेकंड….. हां बोलिए नंबर

पंकज मिश्रा: 5-5-2022 को 25 लाख 14 हजार 113 रुपये

पवन: 5-5-2022 को 25 लाख 14 हजार 113 रुपये

पंकज मिश्रा: कहां से आया है मेरे खाता में. खाता नंबर 464810110010546.

पवन: एक सेकेंड लाइन पर रहिए.

पंकज मिश्रा: हां.

पवन: इ तो हमको लगता है कि ऊ जो बंद करवाये थे करेंट अकाउंट वही होगा.

पंकज मिश्रा: मने किसमें से, तिरुपति में से आया है?

पवन: रुकिये, हम बता देते हैं.

पंकज मिश्रा: हां-हां. तिरुपति से आया है.

पवन: आये थे ना ब्रांच, बंद करवाने. पूछिये हम एक दिन.

पंकज मिश्रा: हां, तिरुपति से आया है. 25 लाख 14 हजार 113 रुपया

पवन: हां वो तो… से आया था.

पंकज मिश्रा: ठीक, ठीक

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें