1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. ormanjhi murder case latest update police intensify operations in ormanjhi murder case raids in 36 places in search of belal srn

Ormanjhi Murder Case Latest Update : ओरमांझी हत्याकांड में पुलिस ने तेज किया अभियान, बेलाल की तलाश में 36 जगहों पर मारा गया छापा

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Ormanjhi Murder Case Latest Update
Ormanjhi Murder Case Latest Update
सोशल मीडिया

ormanjhi murder case latest news, ormanjhi girl murder case latest news रांची : सूफिया हत्याकांड में फरार चंदवे निवासी शेख बेलाल व उसके सहयोगी की तलाश में रांची पुलिस की विशेष जांच टीम ने रांची व अन्य शहरों में 36 जगहों पर छापामारी की. इस दौरान बेलाल के परिचित और रिश्तेदारों के अलावा संभावित जगहों पर तलाशी ली गयी. हालांकि समाचार लिखे जाने तक दोनों पकड़ में नहीं आये थे. घटना के बाद शेख बेलाल व उसका सहयोगी कहां भागा है, इसकी जानकारी के लिए पुलिस बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन से सीसीटीवी फुटेज हासिल करने का प्रयास कर रही है.

इधर, हत्याकांड की पूरी गुत्थी सुलझाने के लिए पुलिस ने बेलाल के घर की तलाशी भी ली थी. जहां से पुलिस ने युवती के सिर को चंदवे स्थित खेत में गड्ढा खोद कर छिपाने में प्रयुक्त साबल भी बरामद किया था. घटना के दौरान सूफिया द्वारा पहने गये कपड़े और हत्याकांड में प्रयुक्त हथियार को भी बेलाल के घर में तलाशने का पुलिस ने प्रयास किया. लेकिन हथियार नहीं मिलने पर पुलिस ने बेलाल की पत्नी से पूछताछ की.

पत्नी ने बताया कि बेलाल ही बता सकता है कि हथियार और सूफिया का कपड़ा कहां छिपाया है. मालूम हो कि शेख बेलाल की गिरफ्तारी के लिए एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने ग्रामीण एसपी के नेतृत्व में एसआइटी का गठन किया है.

पत्नी, बेटा और बेटी से दोबारा हुई पूछताछ :

बेलाल की पत्नी, बेटे और बेटी से पुलिस की टीम ने बुधवार को दोबारा पूछताछ की. यह बात सामने आयी है कि बेलाल की पत्नी और कुछ हद तक बेटा को भी सूफिया के हत्या की जानकारी थी. इस बात को पत्नी ने पूछताछ के दौरान भी स्वीकार कर लिया है. वहीं, बुधवार को शेख बेलाल की पत्नी सब्बो खातून, उसके बेटे व एक अन्य महिला को एसआइटी वारदात स्थल पर लेकर गयी. चंदवे व ओरमांझी स्थित वारदात स्थल पर तीनों से कई बिंदुओं पर पुलिस ने सवाल किये. मंगलवार को बिलाल की पत्नी की निशानदेही पर ही युवती का सिर बरामद किया गया था.

बेलाल की पत्नी को अोरमांझी थाना में रखा गया है. संभव है कि गुरुवार को उसकी गिरफ्तारी की पुष्टि पुलिस करे.

बेलाल की पत्नी को अोरमांझी थाना में रखा गया है. संभव है कि गुरुवार को उसकी गिरफ्तारी की पुष्टि पुलिस करे.

बेलाल के परिचित व रिश्तेदारों के अलावा अन्य जगहों पर तलाशी

पुलिस बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन से सीसीटीवी फुटेज हासिल करने का प्रयास कर रही

पत्नी बोली- बेटे से साबल मांग कर सूफिया के कटे सिर को गाड़ने के लिए खेत गया था बेलाल

सूफिया की हत्या के बाद बेलाल घबराया हुआ नहीं था : पत्नी

पुलिस पूछताछ में बेलाल की सब्बो खातून ने कई खुलासे किये हैं. सब्बो ने बताया कि सूफिया की हत्या के बाद बेलाल बिल्कुल भी घबराया हुआ नहीं था. इस कारण पहले उसे लगा कि बेलाल मजाक कर रहा है. पूछताछ में पत्नी ने कहा कि जब बेटे से साबल मांग कर सूफिया के कटे सिर को गाड़ने के लिए बेलाल खेत गया, तो उसे इस बात पर यकीन हुआ.

पत्नी ने पुलिस को दो कारणों की जानकारी भी दी है. पहला कारण यह कि पिठोरिया पुलिस को बेलाल द्वारा हथियार रखने की जानकारी सूफिया ने ही दी थी. इस वजह से पुलिस ने बेलाल को पकड़ कर जेल भेज दिया था. इसे लेकर सूफिया से बेलाल काफी आक्रोशित था. वह सूफिया को अपने रास्ते से हटाना चाहता था. जेल से आने के बाद और हत्या से कुछ दिन पहले ही बेलाल व सूफिया में विवाद भी हुआ था.

दूसरा कारण यह कि पूर्व में सूफिया ने दहेज के लिए प्रताड़ित करने के आरोप में पिठोरिया थाना में बेलाल के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी थी. इस बात पर भी बेलाल नाराज था और सूफिया से पीछा छुड़ाना चाहता था. वहीं, सूफिया किसी हाल में बेलाल का पीछा छोड़ने को तैयार नहीं थी. इस वजह से बेलाल ने योजना बना कर सूफिया की हत्या कर दी.

लोगों ने नसीम को शेख बेलाल बता कर पुलिस से पकड़वाया

ओरमांझी थाना क्षेत्र के जीराबार टोले परसागढ़ा में सूफिया हत्याकांड में बुधवार को कुछ लोगों ने नसीम को बेलाल बता कर बूटी मोड़ के समीप से सदर थाना की पुलिस से पकड़वा दिया. पीसीआर टीम उसे पूछताछ के लिए सदर थाना ले आयी. सत्यापन के दौरान बेलाल होने की पुष्टि नहीं हुई.

नसीम के खिलाफ पहले से सदर थाना में कोई मामला दर्ज नहीं था. इस वजह से पुलिस ने उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की. बाद में सदर थाना पुलिस ने उसे खेलगांव थाना पुलिस को जांच के लिए सौंप दिया. नसीम खेलगांव थाना क्षेत्र का ही रहनेवाला था. मामले में पुलिस को आशंका है कि किसी ने अपनी दुश्मनी निकालने के लिए ऐसा किया होगा. पुलिस के अनुसार, नसीम को पूर्व में सिकिदरी पुलिस द्वारा एक मामले में जेल भेजा गया था.

शव के आने का इंतजार करती रही सूफिया की मां

रांची. मां राबिया परवीन सहित पूरे परिवार को अब बेटी सूफिया परवीन के पार्थिव शरीर का इंतजार है. ओरमांझी में मिले युवती के शव के सूफिया परवीन होने की पुष्टि व उसकी जघन्य तरीके से शेख बेलाल द्वारा हत्या कर दिये जाने की जानकारी मिलने के बाद परिजन व गांववाले काफी गुस्से में हैं. बुधवार को सभी रिम्स से सूफिया के पार्थिव शरीर को लाये जाने का इंतजार करते रहे, प पोस्टमार्टम और पुलिस की अन्य औपचारिकताओं के कारण शव परिजनों को नहीं सौंपा गया.

Posted By: Sameer Oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें