1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. many tenders have not been dealt with under pradhan mantri gram sadak yojana 50 schemes will be canceled srn

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना तहत कई टेंडरों का नहीं हुआ निबटारा, 50 योजनाएं होंगी रद्द

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत करीब 50 योजनाअों के टेंडर का निबटारा नहीं
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत करीब 50 योजनाअों के टेंडर का निबटारा नहीं
twitter

jharkhand news, pradhan mantri gram sadak yojana jharkhand रांची : प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत करीब 50 योजनाअों के टेंडर का निबटारा नहीं हुआ है. टेंडर निबटारा कर इसका कार्यादेश ठेकेदारों को देना था, लेकिन ऐसा हो नहीं हो सका. टेंडर निकालने के बाद भी इसके निबटारे का मामला लटका रह गया है. ठेकेदारों के टेंडर में भाग नहीं लेने के कारण ऐसा हुआ है. वहीं कहीं-कहीं अन्य दूसरे कारणों से भी टेंडर रद्द करना पड़ा. ऐसे में फिर से कई टेंडर जारी किये गये हैं.

कई टेंडर निबटारा नहीं होने के कारण रद्द हुए हैं. खास कर उग्रवाद प्रभावित सुदूर इलाकों में ऐसी स्थिति हुई है. सुदूर इलाकों की छोटी-छोटी योजनाअों पर या तो ठेकेदारों ने टेंडर नहीं डाला या डाला भी तो ठेकेदार अहर्ता पूरी नहीं कर रहे थे, इसलिए टेंडर को रद्द करना पड़ा. अब साल भी समाप्त होने वाला है. अगर साल समाप्त हो गया और तब तक टेंडर निबटारा के बाद किसी को काम नहीं दिया गया, तो योजनाएं लटक जायेंगी. सारी स्वीकृत योजनाओं को रद्द कर दिया जायेगा.

टेंडर निबटारा कर ठेकेदारों को कार्यादेश देना था, पर नहीं हो सका

क्या है प्रावधान

इंजीनियरों ने बताया कि पीएमजीएसवाइ के तहत यह प्रावधान है कि स्वीकृति वाले वर्ष के 31 दिसंबर तक सारी योजनाओं का टेंडर करके काम आवंटित कर देना है. निर्धारित तिथि तक काम आवंटित नहीं करने की स्थिति में पूरी योजना को ही रद्द कर देने का प्रावधान है. अगर फिर से उन योजनाओं को लेना है, तो नये सिरे से इसके लिए प्रस्ताव भेजना होगा. प्रावधान की वजह से ही सभी जगहों पर 31 दिसंबर के पहले योजनाअों का टेंडर करने के बाद कार्यादेश जारी कर दिया जाता है, ताकि योजना रद्द न हो.

केंद्र भेजा जायेगा 4900 किमी सड़क का प्रस्ताव

रांची. प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत केंद्र सरकार को करीब 4900 किमी का प्रस्ताव भेजने की तैयारी है. इंजीनियरों ने बताया कि 4100 किमी सड़क का डीपीआर तैयार हो रहा है. यह पीएमजीएसवाइ फेज तीन के तहत स्वीकृति के लिए भेजा जायेगा. वहीं रोड कनेक्टिविटी प्रोजेक्ट लेफ्ट विंग एक्स्ट्रिमिज्म (आरसीपीएलडल्यूइ) के तहत 800 किमी लंबी सड़क की स्वीकृति लेने की तैयारी है.

Posted By : Sameer oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें