1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jpsc new rules 2022 questions started on transparency for the first time in the history of the commission srn

JPSC के इस काम से पारदर्शिता पर उठने लगे सवाल, आयोग के इतिहास में हुआ पहली बार, जानें क्या है नियम

जेपीएससी ने परीक्षा में पारदर्शिता के अपने ही नियमों का उल्लंघन कर सरकार के पास 252 सफल उम्मीदवारों की नियुक्ति की अनुशंसा भेज दी. आयोग ने कट ऑफ मार्क्स और सफल उम्मीदवारों को मिले नंबरों को सार्वजनिक नहीं किया है

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
जेपीएससी ने पारदर्शिता के अपने ही नियमों का किया उल्लंघन
जेपीएससी ने पारदर्शिता के अपने ही नियमों का किया उल्लंघन
प्रभात खबर.

रांची : जेपीएससी ने अपने ही पारदर्शिता के अपने ही नियमों को तार तार कर दिया. और बगैर नंबर जारी किये सरकार के पास सभी 252 सफल उम्मीदवारों की नियुक्ति की अनुशंसा भेज दी है. आयोग ने कट ऑफ मार्क्स और सफल उम्मीदवारों को मिले नंबरों को सार्वजनिक नहीं किया है. और तो और आयोग ने नियुक्ति के लिए सरकार को भेजे गये अनुशंसा पत्र में भी इसका उल्लेख नहीं किया है.

आयोग के इतिहास में बिना अंक जारी किये ही नियुक्ति की अनुशंसा करने की यह पहली घटना है, जिसने कई तरह की आशंकाओं को जन्म दिया है. सरकार ने भी आयोग की अनुशंसा के बाद प्रमाण पत्रों की जांच कर ली और नियुक्ति पत्र देने के लिए आठ जुलाई की तिथि निर्धारित कर दी है. इसके लिए आर्यभट्ट सभागार में समारोह आयोजित होगा.

कटऑफ मार्क्स जारी करने की रही है परंपरा :

संयुक्त सिविल सेवा प्रतियोगिता परीक्षा में पारदर्शिता बनाये रखने के लिए सफल उम्मीदवारों का कट ऑफ मार्क्स जारी करने की परंपरा शुरू से ही रही है. परीक्षा के दौरान हो चुकी गड़बड़ियों को देखते हुए आयोग ने परीक्षा को और ज्यादा पारदर्शी बनाने के लिए नियम बनाया था. आयोग ने 15 जनवरी 2015 को कार्यालय आदेश (संख्या-2/परी-जेपीएससी-4/2014/137) जारी कर पारदर्शिता के इस नियम को लागू किया. इसमें परीक्षार्थियों के आवेदनों को रद्द करने के कारणों और सफल व असफल परीक्षार्थियों को मिले नंबरों को सार्वजनिक करने का प्रावधान है.

लेकिन आयोग ने पारदर्शिता के अपने नियमों का उल्लंघन करते हुए एक महीने बाद भी सफल परीक्षार्थियों का कोटिवार कटऑफ मार्क्स जारी नहीं किया. सिर्फ इतना ही नहीं, आयोग ने नियुक्ति के लिए भेजी गयी अनुशंसा में सरकार को भी सफल उम्मीदवारों को मिले नंबरों की जानकारी नहीं दी है. इससे पहले तक की परीक्षाओं में रिजल्ट के साथ ही कटऑफ मार्क्स जारी किया जाता रहा है. सरकार को भेजी जानेवाली अनुशंसा में सफल उम्मीदवारों के नंबरों का उल्लेख किया जाता रहा है. साथ ही रिजल्ट के तीन-चार दिनों के अंदर ही सभी उम्मीदवारों को मिले नंबरों को वेबसाइट पर अपलोड किया जाता रहा है.

परीक्षा में पारदर्शिता के लिए आयोग के नियम

  • परीक्षा के बाद नियुक्ति के लिए अनुशंसित उम्मीदवारों की कोटिवार सूची आयोग की वेबसाइट पर अपलोड की जायेगी

  • नियुक्ति के लिए विभिन्न िवभागों को भेजी जानेवाली अनुशंसा की स्कैन फोटो कॉपी वेबसाइट पर अपलोड की जायेगी

  • अनुशंसित उम्मीदवारों का अंतिम कट ऑफ मार्क्स कोटिवार आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध कराया जायेगा

  • परीक्षा में सफल और असफल उम्मीदवारों का मार्क्स वेबसाइट पर अपलोड किया जायेगा. इसे सिर्फ संबंधित उम्मीदवार डाउनलोड कर सकेंगे

  • मार्क्स आदि से संबंधित सूचनाएं

  • आयोग की वेबसाइट पर 60 दिनों तक उपलब्ध रहेंगी

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें