1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand sarkari naukari news many government jobs are going to come out in state cm hemant soren gave instructions smj

Jharkhand Sarkari Naukari News : झारखंड में निकलने वाली है ढेरों सरकारी नौकरी, CM हेमंत सोरेन ने दिया निर्देश

झारखंड के युवाओं के लिए खुशखबरी है. जल्द ही राज्य में ढेर सारी सरकारी नौकरी का विज्ञापन निकलने वाला है. इसको लेकर सीएम हेमंत सोरेन ने अधिकारियों संग बैठक कर कई दिशा-निर्देश दिये. उन्होंने एक माह के अंदर नियुक्ति से संबंधित नियमावली में विसंगतियों को दूर कर विज्ञापन प्रकाशित करने का निर्देश दिया है. मालूम हो कि सीएम हेमंत सोरेन ने वर्ष 2021 को नियुक्ति का वर्ष भी घोषित कर रखा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सीएम हेमंत सोरेन ने एक माह के अंदर सरकारी नौकरी संंबंधी विज्ञापन प्रकाशित करने का दिया निर्देश.
सीएम हेमंत सोरेन ने एक माह के अंदर सरकारी नौकरी संंबंधी विज्ञापन प्रकाशित करने का दिया निर्देश.
ट्वीट.

Jharkhand Sarkari Naukari News (रांची) : झारखंड के युवाओं के लिए खुशखबरी है. जल्द ही राज्य में ढेर सारी सरकारी नौकरी का विज्ञापन निकलने वाला है. इसको लेकर सीएम हेमंत सोरेन ने अधिकारियों संग बैठक कर कई दिशा-निर्देश दिये. उन्होंने एक माह के अंदर नियुक्ति से संबंधित नियमावली में विसंगतियों को दूर कर विज्ञापन प्रकाशित करने का निर्देश दिया है. मालूम हो कि सीएम हेमंत सोरेन ने वर्ष 2021 को नियुक्ति का वर्ष भी घोषित कर रखा है.

सीएम हेमंत सोरेन बुधवार को राज्य के मुख्य सचिव, कार्मिक विभाग की प्रधान सचिव, झारखंड कर्मचारी चयन आयोग के अध्यक्ष एवं महाधिवक्ता के साथ बैठक की. इस दौरान राज्य में विभिन्न विभागों में रिक्त पदों को जल्द भरने का निर्देश दिया है.

साथ ही एक महीने के अंदर नियुक्ति संबंधित नियमावली को लेकर सभी विसंगतियों को दूर कर जल्द विज्ञापन प्रकाशित करने का निर्देश दिया है, ताकि राज्य के युवाओं को अधिक से अधिक रोजगार मिल सके एवं विभिन्न विभागों में खाल पड़े पदों को तत्काल भरा जा सके.

राज्य में बेरोजगारों की स्थिति

नेशनल सैंपल सर्वे के मुताबिक, राज्य में हर 5 में एक युवा बेरोजगार है. वहीं, राज्य में 7 लाख से अधिक युवाओं ने नियोजनालय (Employment office) में नौकरी के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है. सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी के आंकड़े के मुताबिक, अप्रैल 2021 में राज्य में बेरोजगारी दर 16.5 फीसदी पहुंच गयी. हालांकि, इससे पहले बेरोजगारी दर 8.2 फीसदी के करीब थी. राज्य गठन के बाद से अब तक 8326 नियुक्तियां रद्द हो चुकी है.

झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने वर्ष 2017 में पंचायत सचिव, निम्नवर्गीय लिपिक व आशुलिपिक के 3088 पदों पर नियमित व बैकलॉग बहाली के लिए विज्ञापन प्रकाशित किया था. करीब 4948 अभ्यर्थियों के प्रमाण पत्रों का सत्यापन हुआ, लेकिन अंतिम मेधा सूची का प्रकाशन नहीं हो पाया.

नियमावली की पेंच में फंसी नियुक्तियां

यूनिवर्सिटी में असिस्टेंट प्रोफेसर नियुक्ति परीक्षा : 552 पद
यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर नियुक्ति : 70 पद
राज्य विधि विज्ञान प्रयोगशाला में निदेशक व पदाधिकारी नियुक्ति परीक्षा : 49 पद
पंचायत सचिव, निम्नवर्गीय लिपिक व आशुलिपिक नियुक्ति : 3088 पद

इन परीक्षाओं की CBI कर रही जांच

जेपीएससी प्रथम सिविल सेवा परीक्षा : 64 पद

द्वितीय सिविल सेवा परीक्षा : 172 पद

तृतीय सिविल सेवा परीक्षा : 242

यूनिवर्सिटी लेक्चरर नियुक्ति परीक्षा : 750 पद

असिस्टेंट और जूनियर इंजीनियर नियुक्ति : 335 पद

प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति परीक्षा : 9735 पद

चिकित्सक नियुक्ति परीक्षा : 1070 पद

डिप्टी रजिस्ट्रार नियुक्ति परीक्षा : 02 पद

सहकारिता प्रसार पदाधिकारी परीक्षा : 325 पद

बाजार पर्यवेक्षक परीक्षा : 53 पद

राजकीय फार्मेसी संस्थान लेक्चरर नियुक्ति : 07 पद

झारखंड हाइकोर्ट ने इन परीक्षाओं को किया रद्द

छठी सिविल सेवा मेरिट लिस्ट : 326 पद
प्राथमिक व मध्य विद्यालय शिक्षक नियुक्ति : 8000 पद
जेपीएससी असिस्टेंट इंजीनियर नियुक्ति परीक्षा : 637 (इसकी परीक्षा में ही रोक लग गयी)

इधर, राज्य के बेरोजगार सोशल मीडिया पर 'नियुक्ति वर्ष का करो अंतिम संस्कार' अभियान चला रहे हैं. इस अभियान का झामुमो विधायक सुदिव्य कुमार सोनू ने भी समर्थन करते हुए ट्वीट किया. वहीं, इस बैनर वाले ट्वीट को सीएम हेमंत सोरेन ने भी रिट्वीट कर युवाओं में उत्साह भर दिया.

सीएम हेमंत सोरेन के इस रिट्वीट पर अब बेरोजगार युवा भी मान रहे हैं कि राज्य की हेमंत सरकार भी नियुक्ति वर्ष का करो अंतिम संस्कार अभियान से सहमत हैं. वहीं, सीएम श्री सोरेन द्वारा जल्द सरकारी नौकरी के लिए विज्ञापन निकालने के निर्देश को विपक्ष को करारा जवाब माना जा रहा है. बता दें कि नियुक्ति को लेकर विपक्ष राज्य की हेमंत सरकार को हर बार घेर रही थी. लेकिन, अब इस निर्देश के बाद राज्य के बेरोजगार युवाओं को आशा जगी है कि जल्द ही उनके सपने पूरे होंगे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें