1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand assistant professor recruitment process will start soon but will not get the benefit of subject wise reservation srn

झारखंड में विवि शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया जल्द होगी शुरू, लेकिन नहीं मिलेगा विषयवार आरक्षण का लाभ

झारखंड सरकार का प्रयास है कि जल्द से जल्द नियुक्ति प्रक्रिया शुरू होगी. मुख्यमंत्री ने कार्मिक विभाग को नहीं दिया है नियुक्ति प्रस्ताव लौटाने का कोई निर्देश. सरकारी सूत्रों ने इस संबंध में पांच सितंबर को छपी खबर को तथ्य से परे बताया है

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 विवि शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया जल्द होगी शुरू
विवि शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया जल्द होगी शुरू
सांकेतिक तस्वीर

रांची : राज्य सरकार ने विवि शिक्षक नियुक्ति में विवि को यूनिट मानकर या फिर विषयवार यूनिट मानकर रोस्टर बनाने का प्रस्ताव तैयार नहीं किया है. मुख्यमंत्री ने कार्मिक विभाग को प्रस्ताव लौटाने अौर न ही विषय को यूनिट मानते हुए रोस्टर तैयार करने का कोई निर्देश दिया है.

असिस्टेंट प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर अौर प्रोफेसर की रिक्ति के आधार पर रोस्टर क्लियर करने से संबंधित प्रस्ताव फिलहाल कार्मिक विभाग में ही है. सरकारी सूत्रों के मुताबिक, पांच सितंबर को विवि शिक्षक नियुक्ति में विषयवार आरक्षण निर्धारित करने से संबंधित छपी खबर तथ्य से परे है.

सरकारी सूत्रों का कहना है कि उच्च शिक्षा विभाग व कार्मिक विभाग द्वारा इस मामले में अपने स्तर से अभी अध्ययन किया जा रहा है. यूजीसी नियमावली तथा मापदंड व केंद्रीय विवि सहित देश के अन्य राज्यों में नियुक्ति प्रक्रिया का अध्ययन किया जा रहा है. साथ ही विवि के अधिकारियों के साथ लगातार बैठकें हो रही हैं, ताकि जल्द से नियुक्ति प्रक्रिया आरंभ की जा सके.

झारखंड सरकार ने राज्य में नियुक्ति प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए हर स्तर पर कार्रवाई आरंभ की है. इसके लिए सभी विभागों को नियुक्ति नियमावली तैयार करने का भी निर्देश दिया गया है. इसके अलावा झारखंड कर्मचारी चयन आयोग अौर झारखंड लोक सेवा आयोग द्वारा भी अधिक से अधिक नियुक्ति हो, इस दिशा में कार्रवाई आरंभ की गयी है.

784 रिक्त पदों पर नियमित नियुक्ति शीघ्र :

जेपीएससी द्वारा विवि में 552 पदों पर असिस्टेंट प्रोफेसर की नियुक्ति प्रक्रिया एक बार फिर शुरू हो रही है. सुप्रीम कोर्ट, केंद्र व राज्यपाल के निर्देश के बाद से यह प्रक्रिया 15 जनवरी 2019 से रुकी हुई थी. आयोग में उक्त पद के लिए लगभग 16 हजार आवेदन प्राप्त हुए हैं.

आयोग द्वारा स्क्रूटनी का कार्य चल रहा है. इनमें रांची विवि में 120 पद, विनोबा भावे विवि में 10 पद, सिदो-कान्हू मुर्मू विवि में 72 पद, नीलांबर-पीतांबर विवि (पीजी विभाग) में 60 पद, नीलांबर-पीतांबर विवि (अंगीभूत कॉलेज) में 51 पद, कोल्हान विवि (पीजी विभाग) में 60 पद अौर कोल्हान विवि (अंगीभूत कॉलेज) में 179 पद शामिल हैं. इन पदों पर नियुक्ति के लिए 31 अगस्त 2018 में ही आवेदन आमंत्रित किये गये हैं.

वहीं आयोग में बैकलॉग में 566 पदों पर नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है. अब तक अाठ विषयों की नियुक्ति हो चुकी है. अन्य की प्रक्रिया भी फिर से शुरू होनेवाली है. आयोग द्वारा प्रोफेसर के 70 पदों पर भी नियुक्ति प्रक्रिया चल रही है. इनमें रांची विवि में 10 पद, विनोबा भावे विवि में छह पद, सिदो-कान्हू मुर्मू विवि में 12 पद, नीलांबर-पीतांबर विवि में 20 पद अौर कोल्हान विवि में 22 पद शामिल हैं.

इसके लिए इंटरव्यू का आयोजन फरवरी में किया गया. आयोग में प्रोफेसर के लिए कुल 23 विषयों के विरुद्ध 21 विषयों (जिनमें जनजातीय व क्षेत्रीय भाषा को छोड़कर) के लिए उम्मीदवार के आवेदन आये थे. लेकिन इनमें 11 विषयों के 14 अभ्यर्थियों को ही योग्य मानते हुुए साक्षात्कार के लिए बुलाया गया. आयोग में विवि में 162 पदों पर एसोसिएट प्रोफेसर की नियुक्ति प्रक्रिया भी आरंभ की जा रही है. इनमें रांची विवि में 36 पद, विनोबा भावे विवि में छह पद, सिदो-कान्हू मुर्मू विवि में 34 पद, नीलांबर-पीतांबर विवि में 42 पद अौर कोल्हान विवि में 44 पद शामिल हैं.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें