1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jal jeevan mission jharkhand reached only 888 lakh houses out of 5923 ramgarh tops then the condition of this district is the worst srn

झारखंड में 59.23 में से 8.88 लाख घरों तक ही पहुंचा जल जीवन मिशन, रामगढ़ अव्वल तो इस जिले की स्थिति सबसे खराब

केंद्र सरकार द्वारा संचालित जल जीवन मिशन योजना की स्थिति सबसे खराब है. इस योजना के तहत 59.23 लाख घरों में नल से जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया लेकिन उनमें से 8 घरों तक पानी पहुंच सका है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
59.23 में से 8.88 लाख घरों तक ही पहुंचा जल जीवन मिशन
59.23 में से 8.88 लाख घरों तक ही पहुंचा जल जीवन मिशन
प्रतीकात्मक तस्वीर

रांची : केंद्र सरकार के ‘जल जीवन मिशन’ के तहत वर्ष 2024 तक झारखंड के 59.23 लाख घरों में नल से जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है. पेयजलय स्वच्छता विभाग के अनुसार मौजूदा वित्तीय वर्ष में अब तक सिर्फ 8.88 लाख घरों तक ही नल से जल पहुंच पाया है. झारखंड इस योजना में राष्ट्रीय औसत से लगभग 28 प्रतिशत पीछे चल रह रहा है. प्रगति का राष्ट्रीय औसत 43.23 प्रतिशत है. वहीं, राज्य की प्रगति का औसत 15.12 प्रतिशत है.

राज्य सरकार की ओर से एक जुलाई से इस अभियान को गति प्रदान की गयी है. प्रतिदिन औसतन 1500 घरों में नल से जल पहुंचाया जा रहा है. राज्य में रामगढ़ की प्रगति रिपोर्ट सबसे अच्छी है. वहीं, सबसे खराब स्थिति पाकुड़ जिला की है. रामगढ़ में लक्ष्य का 40.49 प्रतिशत हासिल कर लिया गया है. यहां पर कुल 01 लाख 45 हजार 790 घरों में नल से जल पहुंचाना है.

इसमें 59 हजार 156 घरों में नल से जल पहुंचा दिया गया है. पाकुड़ में लक्ष्य का सिर्फ 3.55 प्रतिशत ही प्राप्त किया जा सका है. यहां पर 02 लाख 18 हजार 35 घरों में नल से जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है. लेकिन अब तक सिर्फ सात हजार 738 घरों में पानी पहुंचाया गया है. रांची पश्चिमी में 2.46 लाख घरों में से 87,117 घरों में पानी पहुंचा है.

10 क्षेत्रों में प्रगति धीमी, 10% घरों में भी नहीं पहुंचा पानी

राज्य के 10 क्षेत्रों में जल जीवन मिशन की प्रगति काफी धीमी है. यहां पर लक्ष्य का 10 प्रतिशत घरों में भी पानी नहीं पहुंच पाया है. इसमें पाकुड़, गढ़वा, मेदिनीनगर, लातेहार, गिरिडीह-1, जामताड़ा, हजारीबाग, देवघर, साहिबगंज व सरायकेला शामिल हैं.

2024 तक झारखंड में हर घर में नल से जल पहुंचाने का है लक्ष्य

राष्ट्रीय औसत से लगभग 28 प्रतिशत कम है झारखंड की प्रगति

पाकुड 2,18,035 7,738

गढ़वा 2,96,643 12,291

मेदिनीनगर 3,84,489 24,036

लातेहार 1,75,652 11,297

गिरिडीह1 1,79,490 13,135

जामताड़ा 1,43,610 10,666

हजारीबाग 3,31,721 25,918

देवघर 1,12,752 9,164

साहिबगंज 2,81,578 26,214

सरायकेला 1,86,412 17,518

चतरा 1,90,768 21,324

गोड्डा 2,85,070 31,886

पूर्वी सिंहभूम (आदित्यपुर) 84, 209 9,428

पश्चिमी सिंहभूम (चक्रधरपुर) 1,13,336 13,595

गुमला 1,82,088 24,277

खूंटी 1,10,649 15,089

दुमका-1 76,589 10,558

मधुपुर 1,55,959 21,790

दुमका-2 1,87,783 31,844

झुमरीतिलैया 1,43,393 26,776

चास 1,68,883 33,708

धनबाद-1 1.04,380 21,652

लोहरदगा 84,317 17,745

जमशेदपुर 2,53,896 54,823

धनबाद-2 1,64,310 37,151

गिरिडीह-2 2,79,147 66,987

सिमडेगा 1,21,913 30,587

रांची पूर्वी 1,62,191 40,869

तेनुघाट 1,54,343 48,867

रांची पश्चिमी 2,46,935 87,117

रामगढ़ 1,45,790 59,156

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें