1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. international literacy day literacy rate of jharkhand jumped 49 in 50 years know about female srn

झारखंड ने साक्षरता दर में लगायी लंबी छलांग, 50 साल में 49% बढ़ी, जानें महिलाओं की कितनी

झारखंड में 50 साल में 49% बढ़ी साक्षरता दर, 27% अब भी निरक्षर. राज्य गठन के बाद पुरुषों की साक्षरता 9.50 तो महिलाओं की 16.50 बढ़ी.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
झारखंड में साक्षरता दर 50 साल में 49% बढ़ी
झारखंड में साक्षरता दर 50 साल में 49% बढ़ी
Symbolic Pic

रांची : झारखंड ने पिछले 50 वर्षों में साक्षरता के क्षेत्र में लंबी छलांग लगायी है. पिछले 50 वर्षों में झारखंड की साक्षरता दर लगभग 49.33 फीसदी बढ़ी, लेकिन इसके बाद भी राज्य के लगभग 27 फीसदी निरक्षर लोगों को साक्षर बनाने की चुनौती है. राज्य में वर्तमान में अनुमानित साक्षरता दर लगभग 73 फीसदी है. स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग द्वारा तैयार की गयी रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 1961 में साक्षरता दर 21.14 फीसदी थी.

अगले एक दशक यानी वर्ष 1971 तक साक्षरता दर की प्रतिशत में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ. वर्ष 1971 में साक्षरता का प्रतिशत 23.87 तक ही पहुंच सका. विभाग द्वारा तैयार रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 1991 के बाद साक्षरता के प्रतिशत में तेजी से बढ़ोतरी हुई. वर्ष 2018-19 में झारखंड की अनुमानित साक्षरता दर 73.2 फीसदी रही.

वर्ष 2030 तक शत-प्रतिशत साक्षरता का लक्ष्य :

राष्ट्रीय स्तर पर निरक्षर लोगों को साक्षर बनाने के लिए संचालित कार्यक्रम साक्षर भारत अभियान वर्ष 2018 में बंद हो गया. इसके बाद से राज्य में वर्ष 2019-20 में साक्षर झारखंड के नाम से अभियान शुरू करने का प्रस्ताव स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने तैयार किया था, पर यह शुरू नहीं हो सका. कोविड के कारण वर्ष 2020-21 में पढ़ना-लिखना अभियान पूरी तरह प्रभावी नहीं हो सका.

अब केंद्र सरकार ने इस वर्ष से नव भारत साक्षर अभियान शुरू करने का निर्णय लिया है. इसके तहत वर्ष 2030 तक देश को पूर्ण साक्षर बनाने का लक्ष्य रखा गया है. इसके तहत 15 या उससे अधिक आयु वर्ग के लोगों को साक्षर बनाया जायेगा. नव भारत साक्षर अभियान में महिला, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक वर्ग पर विशेष ध्यान दिया जायेगा. वैसे जिला, जहां महिला साक्षरता दर 60 फीसदी से कम है, उन जिलों को प्राथमिकता दी जायेगी.

राज्य में महिलाओं की साक्षरता दर अधिक तेजी से बढ़ी

राज्य में महिला की साक्षरता प्रतिशत पुरुषों की तुलना में अधिक तेजी से बढ़ी है. वर्ष 2001 में झारखंड की कुल साक्षरता दर 53.56 फीसदी थी. पुरुषों की साक्षरता का प्रतिशत 67.3 व महिलाओं का 38.87 था. वर्ष 2011 में झारखंड की कुल साक्षरता दर में 12.8 फीसदी की बढ़ोतरी हुई. साक्षरता बढ़कर 66.4 फीसदी हो गयी. इस दौरान पुरुषों की साक्षरता में 9.50 तो महिलाओं की साक्षरता दर में 16.50 फीसदी की बढ़ोतरी हुई.

राज्य की वर्षवार साक्षरता दर

वर्ष कुल पुरुष महिला

1961 21.14 33.27 6.11

1971 23.87 35.56 11.36

1981 35.03 49.71 19.13

1991 41.39 55.80 25.20

2001 53.56 67.30 38.37

2011 66.41 76.84 52.04

2018 73.20 81.00 66.20

(स्रोत : शिक्षा विभाग. आंकड़े प्रतिशत में. )

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें