34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

झारखंड: एजीएम मीट में क्या बोले हॉकी इंडिया के अध्यक्ष दिलीप तिर्की?

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष दिलीप तिर्की ने कहा कि झारखंड में पहली बार इंटरनेशनल मैच का आयोजन किया जा रहा है और इसका क्रेज भी झारखंड में देखने को मिल रहा है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हॉकी को बढ़ावा दे रहे हैं. यकीनन यह इवेंट बहुत सफल साबित हो रहा है.

रांची: हॉकी इंडिया की एजीएम मीट का आयोजन रांची के एस्ट्रोटर्फ स्टेडियम में किया गया. एजीएम में हॉकी इंडिया के अध्यक्ष दिलीप तिर्की ने कहा कि जूनियर ब्वॉयज-गर्ल्स ने एशियन चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता. झारखंड वीमेंस एशियन चैंपियनशिप में भी लड़कियां शानदार प्रदर्शन कर रही हैं. एशियन गेम के इतिहास में कभी 5-0 से जापान को नहीं हराया था, वह भी इतिहास रांची में रचा गया. पिछले साल जब नई बॉडी का गठन हुआ था, तब हमने जमीनी स्तर पर जुड़ कर काम करने की सोची थी. इस पर हम लगातार काम कर रहे हैं. हमने जोनल चैंपियनशिप का आयोजन किया, ताकि निचले स्तर से बच्चों को खेलने का मौका मिले. इस चैंपियनशिप के लिए उन्होंने झारखंड सरकार को धन्यवाद दिया.

झारखंड में पहली बार इंटरनेशनल मैच का आयोजन

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष दिलीप तिर्की ने कहा कि झारखंड में पहली बार इंटरनेशनल मैच का आयोजन किया जा रहा है और इसका क्रेज भी झारखंड में देखने को मिल रहा है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हॉकी को बढ़ावा दे रहे हैं. यकीनन यह इवेंट बहुत सफल साबित हो रहा है. हम हर राज्य में हॉकी को बढ़ावा देने के लिए सरकार को हर टीम के हिसाब से पैसे भी देंगे, ताकि यह खेल आगे बढ़ सके. हॉकी इंडिया की यही कोशिश है कि जमीनी स्तर से खेल को उठाया जाए ताकि प्रतिभावान खिलाड़ी सामने आ सकें. दिलीप तिर्की ने कहा कि दर्शकों का प्यार टीमों को मिल रहा है. ऐसे में जहां दर्शकों का प्यार है, वहां हॉकी का आयोजन होगा.

Also Read: झारखंड महिला एशियन चैंपियंस ट्रॉफी: भारत की लगातार पांचवीं जीत, नंबर-1 पर रहकर किया लीग स्टेज का समापन

झारखंड के इतिहास में पहली बार एजीएम मीट का आयोजन

झारखंड हॉकी के अध्यक्ष भोला नाथ सिंह ने कहा कि झारखंड के इतिहास में पहली बार एजीएम मीट का आयोजन किया गया है. मीट में इस बात पर जोर दिया गया कि हर चीज में पारदर्शिता हो. हमारा पूरा फोकस भारत के पुराने दिन वापस लाना है. इस पर हम हर तरह से कोशिश कर रहे हैं. पहले के समय में हॉकी का जो क्रेज लोगों के बीच था, वह एक बार फिर से धीरे-धीरे देखने को मिल रहा है. जिस राज्य से खिलाड़ियों की टीम जाएगी, प्रत्येक टीम को 10-10 लाख दिए जाएंगे, ताकि खिलाड़ियों को किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं हो. उन्होंने मीडिया से कहा कि भारत में अभी हॉकी के समय में सुधर हो रहा है. आने वाले समय में 2028 तक भारत गोल्ड मेडल जीतेगा.

Also Read: झारखंड: सीएम हेमंत सोरेन ने चाइल्ड आर्टिस्ट एग्जीबिशन का किया उद्घाटन, इस थीम पर बनायी गयी पेंटिंग को सराहा

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें