1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. fake entry of rice worth rs 260 crore in godown warehouse superintendent made demand grj

झारखंड के सरायकेला गोदाम में 2.60 करोड़ रुपये के चावल की फर्जी एंट्री, गोदाम अधीक्षक ने की ये मांग

सरायकेला गोदाम अधीक्षक शैलेश कुमार सिन्हा ने कहा कि जिस मां देवरी राइस मिल के चावल की फर्जी एंट्री उनके गोदाम में की गयी है. इस नाम का कोई मिल इस गोदाम से टैग नहीं है. क्षेत्रीय प्रबंधक से मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गयी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: चावल गोदाम
Jharkhand news: चावल गोदाम
फाइल फोटो

Jharkhand News: एफसीआई से संबद्ध बिहार स्टेट वेयरहाउस कॉरपोरेशन (बीएसडब्ल्यूसी) के सरायकेला गोदाम में 8670 क्विंटल चावल की फर्जी एंट्री कर दी गयी है. खुले बाजार में इसकी कीमत 3000 रुपये प्रति क्विंटल की दर से करीब 2.60 करोड़ रुपये होती है. इसे मां देवरी राइस मिल का चावल बताया गया है. पिछले माह 20 से 24 फरवरी के बीच कुल 30 लॉट (एक लॉट में करीब 289 क्विंटल) में चावल की ऑनलाइन फर्जी एंट्री की गयी है. मामला पकड़ में आने के बाद गोदाम अधीक्षक शैलेश कुमार सिन्हा ने इस मामले की लिखित शिकायत भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) मुख्यालय, रांची के क्षेत्रीय प्रबंधक से की है.

जांच कर हो कार्रवाई

गोदाम अधीक्षक शैलेश कुमार सिन्हा ने लिखा है कि बिना चावल जमा किये, जब एक्सेपटेंस नोट उन्होंने देखा, तो उनके होश उड़ गये. शिकायती पत्र में उन्होंने लिखा है कि 30 लॉट (नंबर 120 से 160 के बीच विभिन्न) में इस चावल की फर्जी एंट्री एफसीआई के पदाधिकारियों की मिलीभगत से तथा सुनियोजित तरीके से की गयी है. यह मामला पूरी तरह से जाली व गबन का है. ये चावल न तो संबंधित मिल द्वारा जमा किया गया है न उन्होंने इसे रिसीव किया है. क्षेत्रीय प्रबंधक से मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गयी है. इस संबंध में एफसीआइ के महाप्रबंधक हर्षित सिंह से संपर्क करने की कोशिश की गयी, लेकिन उनसे बात नहीं हो पायी.

मिल टैग भी नहीं, दे दी है जानकारी

सरायकेला गोदाम अधीक्षक शैलेश कुमार सिन्हा ने कहा कि जिस मां देवरी राइस मिल के चावल की फर्जी एंट्री उनके गोदाम में की गयी है. इस नाम का कोई मिल इस गोदाम से टैग नहीं है. गोदाम से सरायकेला व आसपास के पांच मिल टैग हैं. यह बड़े गबन का मामला है. उन्होंने इसकी लिखित सूचना एफसीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक को दे दी है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें