1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. electricity bill in jharkhand consuming less than 400 units are not getting the subsidy benefit srn

Jharkhand: 400 यूनिट से कम बिजली खपत करने वालों को भी नहीं मिल रहा का सब्सिडी लाभ, भेजा जा रहा गलत बिल

झारखंड में 400 यूनिट से कम बिजली खपत करनेवाले उपभोक्ताओं को भी सब्सिडी का लाभ नहीं मिल पा रहा है क्यों कि ऊर्जा मित्र समय पर बिजली बिल नहीं तैयार कर रहे. तकनीकी खामियों की वजह से उपभोक्ताओं को अनाप-शनाप बिल भेजा जा रहा है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Electricity Bill In Jharkhand
Electricity Bill In Jharkhand
Prabhat Khabar Graphics

रांची: झारखंड बिजली वितरण निगम के ऊर्जा मित्र समय पर बिजली बिल नहीं तैयार कर रहे. तकनीकी खामियों की वजह से उपभोक्ताओं को अनाप-शनाप बिल भेजा जा रहा है. ऐसे में वजह से 400 यूनिट से कम बिजली खपत करनेवाले उपभोक्ताओं को भी सब्सिडी का लाभ नहीं मिल पा रहा है. एचइसी इलाके के सैकड़ों उपभोक्ता यह समस्या झेल रहे हैं. इसके अलावा कोकर, दीपाटोली, बरियातू इलाके के उपभोक्ता भी ऐसी ही समस्या झेल रहे हैं.

एचइसी क्षेत्र के प्रभावित उपभोक्ताओं का कहना है कि उनका प्रतिमाह औसत बिल 100-150 यूनिट के बीच आता है. फिलहाल वे ऊर्जा मित्रों की लापरवाही और गलत बिलिंग का खामियाजा भुगत रहे हैं. उपभोक्ताओं ने बताया कि ऊर्जा मित्रों ने इलाकों में 12 फरवरी को मीटर रीडिंग लेकर बिल भेजा.

22 मार्च को मीटर रीडिंग लिये बिना ही उपभोक्ताओं को दो से चार यूनिट का बिल भेज दिया गया. इसके बाद ऊर्जा मित्र 21 अप्रैल को मीटर रीडिंग लेने आये. ऐसे में उपभोक्ताओं को लगभग 70 दिनों में खपत हुई यूनिट को जोड़ कर बिल भेज गया, जो 400 से 444 यूनिट तक है. 400 से अधिक यूनिट का बिल आने की वजह से उपभोक्ता सरकार की ओर से मिलने वाली सब्सिडी से वंचित हो गये हैं.

एचइसी इलाके में फरवरी में ली थी मीटर रीडिंग, मार्च में रीडिंग लिये बिना भेजा दो से चार यूनिट का बिल

अप्रैल में 400 यूनिट से ज्यादा बिल आने पर परेशान हैं उपभोक्ता, सरकार की ओर से नहीं मिल रही सब्सिडी

ये है कुछ उदाहरण

एचइसी आवासीय परिसर के सेक्टर-2 निवासी एमसी शर्मा को मार्च में सिर्फ दो यूनिट का बिल आया है. वहीं, अप्रैल में 400 यूनिट से अधिक का बिजली बिल मिला. इसके अलावा एसपी सिंह के यहां मार्च में 10 यूनिट, एस कांजीलाल को दो यूनिट व सतीश कुमार को चार यूनिट का ही बिल मिला था. वहीं अप्रैल माह में इनका यूनिट बढ़ कर 444 हो गया है.

Posted By: Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें