18.1 C
Ranchi
Wednesday, February 21, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यझारखण्डझारखंड: सीएम हेमंत सोरेन ने 66 पशु चिकित्सकों को सौंपा नियुक्ति पत्र, कही ये बात

झारखंड: सीएम हेमंत सोरेन ने 66 पशु चिकित्सकों को सौंपा नियुक्ति पत्र, कही ये बात

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने झारखंड मंत्रालय में कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग द्वारा आयोजित नियुक्ति पत्र वितरण समारोह में नवनियुक्त 66 पशु चिकित्सकों को नियुक्ति पत्र सौंपा.

रांची: सीएम हेमंत सोरेन ने झारखंड मंत्रालय में कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग द्वारा आयोजित नियुक्ति पत्र वितरण समारोह में नवनियुक्त 66 पशु चिकित्सकों को नियुक्ति पत्र सौंपा. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि झारखंड में लगातार नियुक्तियां हो रही हैं. युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं. झारखंड गठन के वक्त जो कार्य होना चाहिए था, वे आज उन कार्यों को कर रहे हैं. पूर्व की सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि जब से उनकी सरकार बनी है, तब से उनकी प्राथमिकता में युवा हैं. उन्हें रोजगार देने में सरकार जुटी हुई है. पिछले दिनों पलामू में आयोजित प्रमंडल स्तरीय रोजगार मेले में बड़ी संख्या में युवाओं के बीच ऑफर लेटर का वितरण किया था. रोजगार मेले के जरिए अब तक 40 हजार से अधिक युवाओं को ऑफर लेटर दिया जा चुका है. इसी क्रम में पशु चिकित्सकों को आज नियुक्ति पत्र सौंपा गया. पूरी ईमानदारी और निष्ठा से ये अपनी सेवा देंगे, ऐसी उन्हें आशा है. इस मौके पर कृषि मंत्री बादल पत्रलेख, ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम समेत कई पदाधिकारी मौजूद थे.

युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य में लगातार नियुक्तियां हो रही हैं. अभी बड़े पैमाने पर नियुक्ति होनी है. युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकताओं में है. सरकार ने डॉक्टर, इंजीनियर व शिक्षकों समेत अन्य पदों पर बहाली की है. पलामू में पांच हजार से अधिक युवाओं को ऑफर लेटर दिया गया है. अब तक 40 हजार से अधिक युवाओं को सरकार ऑफर लेटर दे चुकी है.

Also Read: झारखंड: दोस्ती के बाद महिला से दुष्कर्म का प्रयास, विरोध करने पर हत्या करने के दोनों आरोपी अरेस्ट

सुखाड़ से निबटने की कोशिश में जुटी सरकार

झारखंड सुखाड़ से परेशान है और सरकार उससे निबटने की दिशा में प्रयासरत है. इसके बाद भी कुछ लोग सरकार को बदनाम करने का कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. झारखंड सरकार बनते ही कोरोना से जूझती रही. इसका डटकर मुकाबला किया और किसी को भूखा नहीं रहने दिया. सरकार राज्यवासियों के सुख-दु:ख में साथ रही. इसके बाद सुखाड़ ने परेशान किया. इसका भी सरकार ने मुकाबला किया और किसान भाईयों की आर्थिक मदद की. तमाम चुनौतियों के बाद भी उन्हें परेशान किया जा रहा है और सरकार की छवि खराब करने की कोशिश की जा रही है, लेकिन सरकार विकास कार्यों पर जोर दे रही है.

Also Read: झारखंड: सीएम हेमंत सोरेन ने पलामू में 5132 युवाओं को सौंपा नियुक्ति पत्र, केंद्र की मोदी सरकार पर साधा निशाना

झारखंड की नींव मजबूत होगी तो हर चुनौती से निपट लेंगे

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार गठन के साथ ही हमें कोरोना महामारी का सामना करना पड़ा. इस महामारी से निजात मिली तो सुखाड़ की स्थिति झेलनी पड़ी, लेकिन चुनौतियां के बीच सरकार राज्य की बुनियाद मजबूत करने की दिशा में लगातार काम करती आ रही है. इसी का नतीजा है कि आज राज्य विकास की राह पर तेजी से आगे बढ़ चला है. मेरा मानना है कि अगर बुनियाद मजबूत होगी तो हर चुनौती को आसानी से झेल लेंगे. इसी संकल्प के साथ हम अपने कार्यों को आगे बढ़ा रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि आज के समय नियुक्ति पत्र देना भी काफी चुनौतीपूर्ण है. नियुक्ति प्रक्रिया शुरू होने के साथ उसे विवादों में लाने की कोशिश शुरू हो जाती है. कुछ समूह साजिश के तहत नियुक्ति प्रक्रिया को बाधित करने की कोशिश करते हैं, लेकिन हमारी सरकार में जितनी भी नियुक्तियां हुई है, उसमें कोई विवाद नहीं हुआ है. आज गरीबी रेखा से नीचे जीवन बसर करने वाले परिवार का नौजवान भी डीएसपी और डिप्टी कलेक्टर बनकर राज्य की सेवा कर रहा है.

Also Read: सीएम हेमंत सोरेन ने मयुराक्षी नदी पर बने झारखंड के सबसे लंबे पुल का किया उद्घाटन, कही ये बात

नियुक्तियों में धांधली और भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य में किसी भी नियुक्ति में कोई धांधली और भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करेंगे. हमारी सरकार ने एक कानून बनाया है, जिसमें किसी भी नियुक्ति में किसी भी स्तर पर किसी भी प्रकार की धांधली और भ्रष्टाचार की बात सामने आएगी तो संबंधित संस्था और पदाधिकारी जेल में होंगे. उन्होंने मंच से ही पशु चिकित्सकों से पूछा कि क्या आपसे किसी ने नौकरी के लिए घूस लिया है. अगर लिया है तो उसका नाम बताएं, वह जेल में होगा. यह मुख्यमंत्री का वादा है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें