30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

घूस ले रहे हलका कर्मचारी और पंचायत सेवक को एसीबी ने किया गिरफ्तार

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की अलग-अगल टीमों ने गुरुवार को दो जगहों से घूस ले रहे दो सरकारी कर्मचारियों को रंगेहाथ गिरफ्तार किया है.

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की अलग-अगल टीमों ने गुरुवार को दो जगहों से घूस ले रहे दो सरकारी कर्मचारियों को रंगेहाथ गिरफ्तार किया है. पहला मामला मेदिनीनगर के पाटन अंचल कार्यालय का है. यहां पाटन का हलका कर्मचारी सह प्रभारी अंचल निरीक्षक परवेज आलम म्यूटेशन के नाम पर सात हजार रुपये घूस लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया गया. आरोपी पांकी थाना क्षेत्र के तेतराई गांव का रहनेवाला है. वहीं, दूसरी घटना चतरा की है, जहां एसीबी की टीम ने दारियातू के पंचायत सेवक सह जनसेवक अजय साव को पीसीसी सड़क निर्माण के नाम पर पांच हजार रुपये घूस लेते हुए पकड़ा है. एसीबी पलामू के एसपी सादिक अनवर रिजवी ने बताया कि वादी नूर आलम ने आवेदन दिया था कि उनके और भाई तस्कीम अंसारी के नाम से मौजा हरैया खुर्द, हल्का नं-10 के खाता नं-12 प्लॉट नं- 692 में 5.90 डिसमिल जमीन लेयाकत हुसैन से 11 अगस्त 2023 को खरीदी गयी है. उक्त जमीन के म्यूटेशन के लिए सभी कागजात ऑनलाइन किये जा चुके हैं, लेकिन अब तक म्यूटेशन नहीं हुआ है. इसके लिए वह पाटन अंचल हलका नं-10 के कर्मचारी परवेज आलम से मिला. हलका कर्मचारी ने म्यूटेशन के लिए सात हजार रुपये मांगे. वादी ने कहा कि वह गरीब है, पैसा नहीं दे पायेगा. इस पर हलका कर्मचारी ने दो टूक कह दिया : सात हजार रुपये दोगे, तभी काम हो सकता है. एसीबी ने शिकायत का सत्यापन कर मामला दर्ज कर लिया. गुरुवार को एसीबी की टीम ने हलका कर्मचारी परवेज आलम को पाटन अंचल कार्यालय से दो स्वतंत्र गवाहों की मौजूदगी में सात हजार रुपये घूस लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया.

पीसीसी सड़क निर्माण के नाम पर घूस ले रहा था पंचायत सेवक :

इधर, एसीबी हजारीबाग की टीम ने शहर के पोस्ट ऑफिस के समीप से दारियातू पंचायत सेवक सह जनसेवक अजय साव को 5000 रुपये रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है. दारियातू पंचायत के असढ़िया गांव निवासी धर्मेंद्र साव ने एसीबी में शिकायत की थी कि 15वें वित्त से 2.10 लाख रुपये की लागत से देवी मंडप के समीप पीसीसी सड़क का निर्माण किया जा रहा है. इसे लेकर पंचायत सेवक ने 10 हजार रुपये की मांग की थी. एसीबी ने शिकायत की सत्यता की जांच की और मामला दर्ज कर लिया. इसके बाद आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एसीबी की टीम ने जाल बिछाया और उसे रिश्वत लेते रंगेहाथ धर दबोचा. टीम आरोपी पंचायत सेवक को अपने साथ हजारीबाग ले गयी है. अजय साव के पास लेम पंचायत का भी अतिरिक्त प्रभार है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें