24.1 C
Ranchi
Saturday, March 2, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

रांची पुलिस को आशंका : इस वजह से हुई कारोबारी अभिषेक की हत्या

अभिषेक कुमार श्रीवास्तव के फोन में 29 दिसंबर 2023 को दोपहर 2.06 बजे एक मोबाइल नंबर से मैसेज भेजा गया. इसमें लिखा था बैरल घुसा देंगे, बलवंत बोल रहे हैं.

रांची : रातू थाना क्षेत्र के आस्थापुरम पिर्रा निवासी कोयला कारोबारी अभिषेक कुमार श्रीवास्तव हत्याकांड में पुलिस ने मृतक अभिषेक के छोटे भाई अभिषेक कुमार श्रीवास्तव की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है. पुलिस के अनुसार करीब छह-सात माह पूर्व भी अभिषेक और उसके भाई से कोयला कारोबार के एवज में टीएसपीसी द्वारा प्रति टन के हिसाब से लेवी मांगी गयी थी, जिसे लेकर पिपरवार थाना में केस दर्ज किया गया था. इसके बाद पुलिस ने जयमंगल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. पुलिस को इस बिंदु पर भी आशंका है कि कहीं जयमंगल की गिरफ्तारी के बदले और लेवी नहीं देने की वजह से तो अभिषेक की हत्या नहीं कर दी गयी.

इधर, दर्ज केस में कहा गया है कि अभिषेक कुमार श्रीवास्तव 2014 से अशोका कोलियरी पिपरवार, चतरा में कोयला लिफ्टिंग का कारोबार करते थे. अभिषेक कुमार श्रीवास्तव के फोन में 29 दिसंबर 2023 को दोपहर 2.06 बजे एक मोबाइल नंबर से मैसेज भेजा गया. इसमें लिखा था बैरल घुसा देंगे, बलवंत बोल रहे हैं. उसके बाद 30 दिसंबर 2023 को दोपहर 12.52 बजे मोबाइल नं. 8319023897 से अभिषेक कुमार श्रीवास्तव के मोबाइल पर मिस्ड कॉल आया.

Also Read: झारखंड: संजय पाहन हत्याकांड का रांची पुलिस ने किया खुलासा, पत्नी समेत आठ अरेस्ट

उससे पहले 12 दिसंबर 2023 को 1 (518) 97658829 से 12.59 बजे हाय मैसेज प्राप्त हुआ तथा दोपहर एक बजे तथा 1.01 बजे मिनट पर मिस्ड कॉल भी आया. उसी दिन दोपहर 1.07 बजे एक धमकी भरा मैसेज आया कि मैं जय मंगल जी टीएसपीसी से बोल रहा हूं. आपको सूचित किया जाता है कि पार्टी सिस्टम फॉलो कीजिए अन्यथा आप पर फौजी कार्रवाई की जायेगी. दर्ज शिकायत में आरोप लगाया गया है कि मोबाइल नंबर 8319023897 के धारक बलवंत तथा 1 (518) 97658829 नंबर से व्हाट्सऐप कॉल करने वाले व्यक्ति ने टीएसपीसी संगठन के जय मंगल के साथ आपराधिक षड्यंत्र के तहत लेवी, रंगदारी नहीं देने के कारण अभिषेक कुमार श्रीवास्तव पर ताबड़-तोड़ फायरिंग कर हत्या कर दी.

कोयला कारोबारी पंचतत्व में विलीन

शुक्रवार को हरमू मुक्तिधाम में अभिषेक श्रीवास्तव का अंतिम संस्कार किया गया. उन्हें छोटे भाई विवेक श्रीवास्तव ने मुखाग्नि दी. इधर, घटना के बाद से मृतक की पत्नी, पुत्री सहित अन्य लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें