1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. 6213 lakh workers of unorganized sector registered on e shram portal in jharkhand prt

Jharkhand News: असंगठित क्षेत्र के 62.13 लाख श्रमिक ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत, झारखंड में हैं सबसे अधिक मजदूर

झारखंड में असंगठित क्षेत्र के 62,13,957 मजदूर हैं, जो विभिन्न कार्यों में लगे हैं. सरकार ने असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के निबंधन के लिए इ-श्रम पोर्टल शुरू किया है. पोर्टल में अक्तूबर माह से ही निबंधन चल रहा है. एक दिन में औसतन 35 से 40 हजार श्रमिक निबंधन करा रहे हैं.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
62.13 लाख श्रमिक ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत
62.13 लाख श्रमिक ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत
Prabhat Khabar

सुनील चौधरी, रांची: झारखंड में असंगठित क्षेत्र के 62,13,957 मजदूर हैं, जो विभिन्न कार्यों में लगे हैं. सरकार ने असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के निबंधन के लिए इ-श्रम पोर्टल शुरू किया है. पोर्टल में अक्तूबर माह से ही निबंधन चल रहा है. एक दिन में औसतन 35 से 40 हजार श्रमिक निबंधन करा रहे हैं. ये वह श्रमिक हैं, जिनका न तो पीएफ कटता है और न ही कोई मासिक मानदेय निश्चित है.

कुछ लोग मासिक वेतन पर कार्यरत हैं, पर उनकी नौकरी सुनिश्चित नहीं है. इस श्रेणी में कृषि कामगार से लेकर ट्यूशन पढ़ानेवाले शिक्षक और हेल्थ वर्कर भी आते हैं. राज्य में कोचिंग व ट्यूशन पढ़ानेवालों को भी पोर्टल में निंबंधन कराने की सुविधा दी गयी है. अबतक के आंकड़ों के हिसाब से राज्य में इनकी संख्या 84 हजार 528 है.

निबंधन करानेवालों में झारखंड का स्थान पांचवां : देशभर में पूर्वी और उत्तर भारत में श्रमिकों की संख्या सबसे अधिक है. अब तक 13 करोड़ 96 लाख 58 हजार 537 श्रमिकों ने पोर्टल पर निबंधन कराया है. इसमें सबसे अधिक तीन करोड़ 54 लाख 35 हजार 547 श्रमिकों का निबंधन कर यूपी पहले स्थान पर है. वहीं, बंगाल दूसरे, बिहार तीसरे, ओड़िशा चौथे और झारखंड पांचवें स्थान पर है.

रांची में सबसे अधिक व खूंटी में कम निबंधन: अब तक कराये गये निबंधनों में सबसे अधिक रांची जिले में 459281 श्रमिकों ने निबंधन कराया है. वहीं सबसे कम खूंटी जिले में 83247 श्रमिकों ने निबंधन कराया है. सिमडेगा में भी 95784 श्रमिकों ने निबंधन कराया है.

झारखंड में किस-किस क्षेत्र के मजदूर

कार्य का प्रकार श्रमिकों की संख्या

कृषि 3896265

कपड़ा व्यवसाय 182271

ऑटोमोबाइल व ट्रांसपोर्टेशन 128154

बीएफएसआइ 652

कैपिटल गुड्स व मैन्यूफैक्चरिंग 254985

निर्माण उद्योग 437746

घरेलू कामगार 600106

शिक्षा 84528

इलेक्ट्रॉनिक्स 110676

खाद्य उद्योग 12850

ज्वेलरी 3908

ग्लास एवं सेरामिक्स 415

हैंडीक्राफ्ट एवं कारपेट 19399

हेल्थ केयर 68793

लेदर इंडस्ट्रीज 16489

कार्य का प्रकार श्रमिकों की संख्या

माइनिंग 12142

अन्य प्रकार के मजदूर 168929

म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट 762

ऑफिस में सेवा देने वाले 15918

खुदरा व्यवसाय 1427

अन्य 5195

प्रिंटिंग 6250

निजी सुरक्षा गार्ड 4519

प्रोफेशनल्स 18382

रिटेल 32624

सेवा 1610

टेक्सटाइल एवं हैंडलूम 1022

तंबाकू उद्योग 6116

पर्यटन एवं हॉस्पिटैलिटी 41981

वूड एवं कारपेंट्री2107

झारखंड में कृषि क्षेत्र में सबसे अधिक श्रमिक: झारखंड में अब तक सबसे अधिक कृषि क्षेत्र में कार्यरत 38 लाख 96 हजार 265 श्रमिकों ने निबंधन कराया है. इस क्षेत्र में सबसे अधिक 19,31,294 खेतिहर मजदूर व सब्जी उत्पादक हैं. वहीं, पांच लाख एक हजार 588 कृषि मजदूर हैं. मिश्रित खेती के मजदूर एक लाख 23 हजार 702 हैं. फसल उपजानेवाले मजदूरों की संख्या दो लाख 35 हजार 65 है. शेष कृषि के ही अन्य क्षेत्र जैसे मुर्गी पालन, मशीन ऑपेरटर आदि से जुड़े हैं. घरेलू कामगारों की संख्या छह लाख 106 है. इसमें सबसे अधिक एक लाख 66 हजार 425 घरेलू कुक हैं.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें