25.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

मैथ्स के 40 प्रश्न थे गलत, जेएसएसी ने आंसर शीट में 22 में ही किया सुधार, अभ्यर्थियों में आक्रोश

अभ्यर्थियों ने बताया कि आयोग की ओर से जारी फाइनल आंसर शीट में गणित के सिर्फ 22 प्रश्नों की ही त्रुटि दूर की गयी है, जबकि 40 प्रश्नों पर आपत्ति की गयी थी. लेकिन आयोग ने सिर्फ 22 प्रश्न से जुड़ी त्रुटि दूर की, जिसमें 16 प्रश्न रद्द कर दिये गये हैं और छह प्रश्नों के विकल्प बदल दिये गये.

JSSC News|स्नातकोत्तर प्रशिक्षित शिक्षक प्रतियोगिता (पीजीटी) परीक्षा-2023 की जारी फाइनल आंसर शीट पर भी गणित विषय के अभ्यर्थियों ने आपत्ति की है. इसको लेकर शनिवार को गणित विषय के अभ्यर्थियों ने झारखंड कर्मचारी चयन आयोग (जेएसएससी) के उप परीक्षा नियंत्रक से मिलकर आपत्ति दर्ज करायी. उन्होंने 11 दिसंबर को सबूत के साथ कार्यालय आने की बात कही. अभ्यर्थियों ने बताया कि आयोग की ओर से जारी फाइनल आंसर शीट में गणित के सिर्फ 22 प्रश्नों की ही त्रुटि दूर की गयी है, जबकि 40 प्रश्नों पर आपत्ति की गयी थी. लेकिन आयोग ने सिर्फ 22 प्रश्न से जुड़ी त्रुटि दूर की, जिसमें 16 प्रश्न रद्द कर दिये गये हैं और छह प्रश्नों के विकल्प बदल दिये गये. जब रिस्पांस शीट जारी किया गया, तो उसमें अभी भी 18 प्रश्न गलत हैं. गणित विषय के अभ्यर्थी के मुताबिक रिस्पांस शीट डाउनलोड करने के बाद गलत प्रश्नों की जानकारी मिली. इस तरह के प्रश्न आइडी नंबर-170370, 151663, 151577, 151694, 151660, 170373, 151731, 151667, 151575, 151568, 151675, 151676 सहित 18 प्रश्न शामिल हैं. उल्लेखनीय है कि आयोग ने 18 अगस्त 2023 से लेकर 10 सितंबर 2023 के मध्य विभिन्न तिथियों पर विभिन्न विषयों की पीजीटी परीक्षा ली गयी थी. उधर, परीक्षा की रिस्पांस शीट डाउनलोड करने के लिए अंतिम तिथि 10 दिसंबर की मध्य रात्रि तक है.

Also Read: झारखंड में महिलाओं के लिए सरकारी नौकरी का मौका, जेएसएससी लेडी सुपरवाइजर भर्ती के अधिसूचना जारी

एनओसी नहीं मिला, जेयूटी में योगदान से रजिस्ट्रार वंचित

राज्यपाल सह कुलाधिपति के निर्देश पर बीएसएनएल के जीएम उमेश प्रसाद साह को झारखंड यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी (जेयूटी) के रजिस्ट्रार पद पर 10 अक्तूबर को प्रतिनियुक्त किया गया था. लेकिन, दो माह बाद भी श्री साह विवि में योगदान नहीं कर पाये हैं. इसकी वजह बीएसएनएल से श्री साह को अब तक एनओसी नहीं मिलना बताया जा रहा है.

राज्यपाल ने अपने उसी पत्र में श्री साह के योगदान करने तक 31 अक्तूबर तक रांची विवि से पूर्व से रजिस्ट्रार के पद पर प्रतिनियुक्त डॉ अमर कुमार चौधरी को रजिस्ट्रार का काम देखने का निर्देश दिया था, लेकिन इस पत्र से पहले ही डॉ चौधरी रजिस्ट्रार पद पर अपना कार्यकाल पूरा कर वापस रांची विवि आ गये थे. हालांकि, राज्यपाल के निर्देश के आलोक में जेयूटी प्रशासन ने रांची विवि प्रशासन को पत्र भेज कर डॉ चौधरी को वापस जेयूटी भेजने का आग्रह भी किया. लेकिन, रांची विश्वविद्यालय प्रशासन ने डॉ चौधरी को वापस भेजने की प्रक्रिया पूरी नहीं की. इधर, जानकारी के अनुसार कुलपति विश्वविद्यालय में ही प्रतिनियुक्त असिस्टेंट रजिस्ट्रार निशांत कुमार से रजिस्ट्रार से संबंधित कामकाज निबटा रहे हैं. श्री साह की प्रतिनियुक्ति एक वर्ष या रजिस्ट्रार की नियमित नियुक्ति (जो पहले हो) तक की गयी है.

Also Read: VIDEO: झारखंड हाईकोर्ट ने 26001 शिक्षक नियुक्ति पर लगाई रोक, जेएसएससी को भेजा नोटिस

मार्क्स नहीं भेजे जाने से बीएड के 15 छात्र फेल हो गये

डोरंडा कॉलेज बीएड प्रथम वर्ष (सत्र 2022-24) के 15 छात्र अंग्रेजी विषय में फेल हो गये हैं. छात्रों का आरोप है कि उन लोगों ने परीक्षा दी थी, लेकिन कॉलेज ने विवि को इंटरनल मार्क्स (आंतरिक अंक) नहीं भेजा. रिजल्ट में सभी 15 विद्यार्थियों को उक्त विषय में अनुपस्थित कर दिया गया है.

Also Read: JSSC CGL 2023: जेएसएससी सीजीएल 2023 के लिए जल्दी करें आवेदन, ये है लास्ट डेट, जानें कहां कितने पद खाली

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें

मैथ्स के 40 प्रश्न थे गलत, जेएसएसी ने आंसर शीट में 22 में ही किया सुधार, अभ्यर्थियों में आक्रोश

अभ्यर्थियों ने बताया कि आयोग की ओर से जारी फाइनल आंसर शीट में गणित के सिर्फ 22 प्रश्नों की ही त्रुटि दूर की गयी है, जबकि 40 प्रश्नों पर आपत्ति की गयी थी. लेकिन आयोग ने सिर्फ 22 प्रश्न से जुड़ी त्रुटि दूर की, जिसमें 16 प्रश्न रद्द कर दिये गये हैं और छह प्रश्नों के विकल्प बदल दिये गये.

JSSC News|स्नातकोत्तर प्रशिक्षित शिक्षक प्रतियोगिता (पीजीटी) परीक्षा-2023 की जारी फाइनल आंसर शीट पर भी गणित विषय के अभ्यर्थियों ने आपत्ति की है. इसको लेकर शनिवार को गणित विषय के अभ्यर्थियों ने झारखंड कर्मचारी चयन आयोग (जेएसएससी) के उप परीक्षा नियंत्रक से मिलकर आपत्ति दर्ज करायी. उन्होंने 11 दिसंबर को सबूत के साथ कार्यालय आने की बात कही. अभ्यर्थियों ने बताया कि आयोग की ओर से जारी फाइनल आंसर शीट में गणित के सिर्फ 22 प्रश्नों की ही त्रुटि दूर की गयी है, जबकि 40 प्रश्नों पर आपत्ति की गयी थी. लेकिन आयोग ने सिर्फ 22 प्रश्न से जुड़ी त्रुटि दूर की, जिसमें 16 प्रश्न रद्द कर दिये गये हैं और छह प्रश्नों के विकल्प बदल दिये गये. जब रिस्पांस शीट जारी किया गया, तो उसमें अभी भी 18 प्रश्न गलत हैं. गणित विषय के अभ्यर्थी के मुताबिक रिस्पांस शीट डाउनलोड करने के बाद गलत प्रश्नों की जानकारी मिली. इस तरह के प्रश्न आइडी नंबर-170370, 151663, 151577, 151694, 151660, 170373, 151731, 151667, 151575, 151568, 151675, 151676 सहित 18 प्रश्न शामिल हैं. उल्लेखनीय है कि आयोग ने 18 अगस्त 2023 से लेकर 10 सितंबर 2023 के मध्य विभिन्न तिथियों पर विभिन्न विषयों की पीजीटी परीक्षा ली गयी थी. उधर, परीक्षा की रिस्पांस शीट डाउनलोड करने के लिए अंतिम तिथि 10 दिसंबर की मध्य रात्रि तक है.

Also Read: झारखंड में महिलाओं के लिए सरकारी नौकरी का मौका, जेएसएससी लेडी सुपरवाइजर भर्ती के अधिसूचना जारी

एनओसी नहीं मिला, जेयूटी में योगदान से रजिस्ट्रार वंचित

राज्यपाल सह कुलाधिपति के निर्देश पर बीएसएनएल के जीएम उमेश प्रसाद साह को झारखंड यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी (जेयूटी) के रजिस्ट्रार पद पर 10 अक्तूबर को प्रतिनियुक्त किया गया था. लेकिन, दो माह बाद भी श्री साह विवि में योगदान नहीं कर पाये हैं. इसकी वजह बीएसएनएल से श्री साह को अब तक एनओसी नहीं मिलना बताया जा रहा है.

राज्यपाल ने अपने उसी पत्र में श्री साह के योगदान करने तक 31 अक्तूबर तक रांची विवि से पूर्व से रजिस्ट्रार के पद पर प्रतिनियुक्त डॉ अमर कुमार चौधरी को रजिस्ट्रार का काम देखने का निर्देश दिया था, लेकिन इस पत्र से पहले ही डॉ चौधरी रजिस्ट्रार पद पर अपना कार्यकाल पूरा कर वापस रांची विवि आ गये थे. हालांकि, राज्यपाल के निर्देश के आलोक में जेयूटी प्रशासन ने रांची विवि प्रशासन को पत्र भेज कर डॉ चौधरी को वापस जेयूटी भेजने का आग्रह भी किया. लेकिन, रांची विश्वविद्यालय प्रशासन ने डॉ चौधरी को वापस भेजने की प्रक्रिया पूरी नहीं की. इधर, जानकारी के अनुसार कुलपति विश्वविद्यालय में ही प्रतिनियुक्त असिस्टेंट रजिस्ट्रार निशांत कुमार से रजिस्ट्रार से संबंधित कामकाज निबटा रहे हैं. श्री साह की प्रतिनियुक्ति एक वर्ष या रजिस्ट्रार की नियमित नियुक्ति (जो पहले हो) तक की गयी है.

Also Read: VIDEO: झारखंड हाईकोर्ट ने 26001 शिक्षक नियुक्ति पर लगाई रोक, जेएसएससी को भेजा नोटिस

मार्क्स नहीं भेजे जाने से बीएड के 15 छात्र फेल हो गये

डोरंडा कॉलेज बीएड प्रथम वर्ष (सत्र 2022-24) के 15 छात्र अंग्रेजी विषय में फेल हो गये हैं. छात्रों का आरोप है कि उन लोगों ने परीक्षा दी थी, लेकिन कॉलेज ने विवि को इंटरनल मार्क्स (आंतरिक अंक) नहीं भेजा. रिजल्ट में सभी 15 विद्यार्थियों को उक्त विषय में अनुपस्थित कर दिया गया है.

Also Read: JSSC CGL 2023: जेएसएससी सीजीएल 2023 के लिए जल्दी करें आवेदन, ये है लास्ट डेट, जानें कहां कितने पद खाली

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें