1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. palamu
  5. jharkhand news lakshmi chandravanshi medical college palamu got recognition so many seats to be nominated srn

लक्ष्मी चंद्रवंशी मेडिकल कॉलेज पलामू को मिली मान्यता, इतने सीटों पर होगा नामंकन, जिले के बना पहला मेडिकल कॉलेज

पलामू प्रमंडल को पहला निजी मेडिकल कॉलेज मिल गया है, सरकार ने 100 सीटों के लिए कॉलेज को मान्यता दे दी है. इस संस्थान में दाखिला नीट के माध्यम से मिल सकेगा.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
New Medical Colleges In Jharkhand :  लक्ष्मी चंद्रवंशी मेडिकल कॉलेज पलामू को मिली मान्यता
New Medical Colleges In Jharkhand : लक्ष्मी चंद्रवंशी मेडिकल कॉलेज पलामू को मिली मान्यता
फाइल फोटो

पलामू : विश्रामपुर (पलामू) स्थित लक्ष्मी चंद्रवंशी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल पलामू प्रमंडल का पहला निजी मेडिकल कॉलेज हो गया है. नेशनल मेडिकल काउंसिल (एनएमसी) ने निजी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के रूप में इस संस्थान को मान्यता दे दी है. कॉलेज को 100 सीटों के लिए मान्यता दी गयी है. नीट के माध्यम से एमबीबीएस की 100 सीटों पर इसी साल से नामांकन लिया जायेगा. निजी संस्थान ने एनएमसी को 150 सीटों पर नामांकन का आवेदन दिया था, लेकिन 100 सीटों की अनुमति मिली है.

हर स्तर पर हुआ मूल्यांकन :

एनएमसी के मेडिकल असेसमेंट एंड रेटिंग बोर्ड (एमएआरबी) ने कॉलेज की उपलब्ध फैकल्टी, अस्पताल की सुविधाओं के साथ-साथ प्रयोगशाला, पुस्तकालय, नर्सिंग, पारा मेडिकल स्टाफ व हॉस्टल की उपलब्धता व अन्य सुविधाओं का मूल्यांकन करने के बाद आदेश जारी किया है. यह मान्यता अगले पांच साल के लिए जारी की गयी है.

वहीं, एनएमसी ने स्पष्ट किया है कि मेडिकल संस्थान को यूजी छात्रों की इंटर्नशिप के दौरान वजीफा (स्टाइपेमेंट) का भुगतान सहित शिक्षण कार्य के नियमों का पालन करना होगा. संस्थान को कहा गया है कि अगर किसी प्रकार का कोई उल्लंघन होता है, तो मेडिकल असेसमेंट एंड रेटिंग बोर्ड मान्यता (लेटर ऑफ परमिशन) को किसी भी समय रद्द कर सकता है.

चार राज्यों के विद्यार्थी होंगे लाभान्वित : चंद्रवंशी

विवि के चेयरमैन रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा है कि नेशनल मेडिकल काउंसिल ने 100 सीटों पर नामांकन की अनुमति दी है. नीट के माध्यम से एमबीबीएस में नामांकन होगा. नेशनल मेडिकल काउंसिल की टीम द्वारा गुरुवार को निरीक्षण करने के बाद मान्यता से संबंधित आदेश प्राप्त हो गया. इससे पूर्व दो बार टीम द्वारा निरीक्षण किया जा चुका है. झारखंड के अलावा बिहार, यूपी और छत्तीसगढ़ के बच्चों को पढ़ाई का लाभ मिलेगा. गरीब के बच्चों का भी डॉक्टर बनने का सपना पूरा होगा.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें