17.2 C
Ranchi
Friday, February 23, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeझारखण्डजामताड़ाझारखंड: पश्चिम बंगाल के तीन समेत 12 साइबर अपराधी अरेस्ट, 50 हजार कैश जब्त, ऐसे झांसे में लेकर करते...

झारखंड: पश्चिम बंगाल के तीन समेत 12 साइबर अपराधी अरेस्ट, 50 हजार कैश जब्त, ऐसे झांसे में लेकर करते थे ठगी

एसपी अनिमेष नैथानी ने बताया कि पश्चिम बंगाल के साइबर अपराधी यहां अपने रिश्तेदारों के यहां रह रहे थे. इससे पता चला कि ये लोग भी साइबर अपराध करते थे. बंगाल का लोकेशन बदलकर करमाटांड़ को इन्होंने कार्य स्थल बनाया था. ये सभी आंध्रप्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान के लोगों को कॉल करते थे.

जामताड़ा: जामताड़ा साइबर थाना की पुलिस ने अंतरराज्यीय साइबर गिरोह का खुलासा किया है. एसपी अनिमेष नैथानी ने रविवार को प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि साइबर डीएसपी मजरूल होदा, साइबर थाना प्रभारी मनोज कुमार के नेतृत्व में करमाटांड़ थाना क्षेत्र के सिंदरजोरी, शीतलपुर एवं सियाटांड़ आदि गांवों में छापेमारी कर कुल 12 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है. इनमें तीन साइबर अपराधी पश्चिम बंगाल के हैं, जबकि नौ करमाटांड़ थाना क्षेत्र के हैं. गिरफ्तार साइबर अपराधियों में मो सलमान (नियामतपुर मदरसा मोहल्ला, थाना कुल्टी, प बंगाल), दिलखुश दास व विधान दास (अमरावती भीम कॉलोनी, थाना एनटीपीसी दुर्गापुर, प बंगाल) के अलावा करमाटांड़ थाना क्षेत्र के सिंदरजोरी निवासी अलाउद्दीन अंसारी व यबारक, शीतलपुर के सचिन दास व सौरभ दास, सियाटांड़ के मिथुन मंडल, सुशील मंडल, रोहित कुमार मंडल व प्रीतम मंडल तथा सलैया के विक्रम कुमार मंडल शामिल हैं.

झांसे में लेकर करते थे साइबर ठगी

एसपी अनिमेष नैथानी ने बताया कि इनके पास से 50 हजार रुपए नकद, तीन बाइक, तीन लैपटॉप, पांच एटीएम, 45 सिम व 27 मोबाइल जब्त किया गया है. सभी के विरुद्ध जामताड़ा साइबर थाना में मामला दर्ज कर मंडलकारा जामताड़ा भेज दिया गया है. एसपी ने बताया कि ये सभी कस्टमर केयर, क्रेडिट कार्ड अपडेशन में अपना फर्जी मोबाइल नंबर देकर लोगों को झांसे में लेकर साइबर ठगी करते थे. गिरफ्तार पांच अभियुक्तों का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है. विक्रम मंडल पर दो मामला पूर्व से दर्ज है. इनके विरुद्ध देवघर जिले के करौं थाना में वर्ष 2017 में मामला दर्ज है. वहीं मुंबई के वसाड थाना में भी आरोपित है. प्रीतम मंडल के खिलाफ धनबाद साइबर थाना व करमाटांड़ थाना में मामला दर्ज है. विधान दास के खिलाफ लालबाजार थाना कोलकाता व एनटीपीसी दुर्गापुर थाना से डकैती कांड का मामला दर्ज है. दिलखुश दास पर एनटीपीसी थाना में डकैती से संबंधित मामला दर्ज है. सुशील मंडल के खिलाफ पर करमाटांड़ थाना, करौं थाना व जामताड़ा साइबर थाना में मामला दर्ज है.

लोकेशन बदल कर करमाटांड़ में बनाया था कार्यस्थल

एसपी ने बताया कि पश्चिम बंगाल के साइबर अपराधी यहां अपने रिश्तेदारों के यहां रह रहे थे. इससे पता चला कि ये लोग भी साइबर अपराध करते थे. बंगाल का लोकेशन बदलकर करमाटांड़ को इन्होंने कार्य स्थल बनाया था. ये सभी आंध्रप्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान के लोगों को कॉल करते थे. साथ ही इन दिनों दिल्ली, चंडीगढ़ में कॉल करना शुरू किया था. ये सभी जेल से छूट कर साइबर अपराध करना सीख रहे थे. जो अभियुक्त डकैती व साइबर अपराध मामले में जेल गया है या दो से अधिक कांड जिन पर दर्ज है, उनके खिलाफ साइबर सीसीए लगाने का प्रस्ताव भेजा जायेगा. दोबारा जेल जाने वाले अभियुक्तों की सूची बनायी जा रही है. ऐसे अभियुक्तों को बेल लेने में दिक्कत होनी वाली है. मौके पर डीएसपी मजरूल होदा, साइबर थाना प्रभारी मनोज कुमार, करमाटांड़ थाना प्रभारी बिरजू साव आदि थे.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें