1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. sehra was tied on the head of taranjit singh in manila the funeral was done like a groom the family cried a lot watching live smj

मनीला में तरणजीत सिंह के सिर पर सेहरा बंधा, दूल्हे की तरह सजा कर हुआ अंतिम संस्कार, लाइव देख खूब रोया परिवार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : मां जसबीर कौर के साथ मृतक तरणजीत सिंह उर्फ सैम्मी.
Jharkhand News : मां जसबीर कौर के साथ मृतक तरणजीत सिंह उर्फ सैम्मी.
फाइल फोटो.

Jharkhand News (जमशेदपुर, पूर्वी सिंहभूम) : फिलीपींस की राजधानी मनीला में अज्ञात हमलावरों द्वारा मारे गये पूर्वी सिंहभूम जिला अंतर्गत जमशेदपुर स्थित सीतारामडेरा के व्यवसायी तरणजीत सिंह उर्फ सैम्मी का बुधवार को दूल्हे की भांति सजाकर अंतिम संस्कार कर दिया गया. तरणजीत की मां जसबीर कौर ने अपने भाई कुलदीप सिंह से आग्रह किया था कि वे अपने बेटे को दूल्हे के रूप में विदा होते देखना चाहती है.

फिलीपींस में मौजूद कुलदीप सिंह ने तरणजीत सिंह के सिर पर सेहरा बांधा, वहां मौजूद सिख समाज की एक महिला ने हाथ में गान्ना-मौली बांधी, जबकि एक अन्य व्यक्ति ने गले में सरोपा पहनाया. अंतिम संस्कार में मनीला में मौजूद कुछ रिश्तेदार, सिख समुदाय के लोगों के साथ फिलीपींस समुदाय के लोग शामिल हुए.

एंटीपॉलो गुरुद्वारा के ग्रंथी ने घर, श्मशान घाट एवं गुरुद्वारा में अरदास एवं पाठ किया. अंतिम अरदास में शामिल होनेवालों ने गुरुद्वारे में लंगर भी ग्रहण किया. तरणजीत ने अपने मात्र 4 साल के अल्पकाल में स्थानीय लोगों का दिल जीत लिया था. इसका दृश्य अंतिम यात्रा में दिखने को मिला.

अंतिम यात्रा में स्वर्ण सिंह, जोजो सिंह, फौजी सिंह, जोहल सिंह, केपी सिंह सहित तीन सौ से ज्यादा लोग शामिल हुए. तरणजीत के मामा कुलदीप सिंह ने बताया कि 15 मिनट में दहन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद अस्थियां उन्हें सौंप दी गयी. जिसे एंटीपॉलो गुरुद्वारा में रख दिया गया. हवाई सेवा शुरू होते ही अस्थियां जमशेदपुर लायी जायेंगी, जिन्हें स्वर्णरेखा नदी में प्रवाह किया जायेगा.

सीतारामडेरा में परिवारवालाें ने लाइव देखा अंतिम संस्कार प्रक्रिया

सीतारामेडरा स्थित तरणजीत के ननिहाल में नाना गुरदयाल सिंह, मामा गुरदीप सिंह पप्पू, मां जसवीर कौर और सभी रिश्तेदारों ने दूल्हे की तरह सजाने से लेकर अंतिम संस्कार तक सारे कार्यक्रम लाइव देखा. सोशल मीडिया के माध्यम से सारा कुछ देख रहे थे और आवश्यक निर्देश भी कुलदीप को दे रहे थे.

क्या है मामला

मानगो गुरुद्वारा बस्ती में रहनेवाले सरदार दयाल सिंह के 34 वर्षीय पुत्र तरणजीत सिंह उर्फ सैम्मी की फिलीपींस की राजधानी मनीला में गत 11 जुलाई को अज्ञात बंदूकधारियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी. घटना के बाद स्थानीय लोग व उसके मामा कुलदीप सिंह उसे लेकर मनीला के एक अस्पताल में गये, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. घटना की जानकारी मिलने पर सीतारामडेरा स्थित महिवाल ट्रेवल्स के गुरदीप सिंह पप्पू के घर पर मातम छा गया. तरणजीत सिंह सैम्मी की माता जसबीर कौर सीतारामडेरा में ही रहती हैं. तरणजीत सिंह झारखंड सिख विकास मंच के केंद्रीय अध्यक्ष सरदार गुरदीप सिंह पप्पू का भगीना है.

महिवाल ट्रेवल्स के मालिक सह मृतक के मामा गुरदीप सिंह पप्पू ने बताया कि तरणजीत पिछले 4 साल से मनीला में रह रहा था. उसने काफी कम समय में अपनी मेहनत पर वहां एक साई इंडियन होटल व साई ग्रोसरी शॉप खोल रखी थी. दो साल पूर्व उनके छोटे भाई कुलदीप को भी तरणजीत अपने साथ ले गया था. दोनों एक ही साथ व्यवसाय में हाथ बंटाते थे.

रविवार को मनीला में इंडियन रेस्टोरेंट में दो युवक ग्राहक बन कर आये. उन्होंने आइसक्रीम दिखाने को कहा. इसके बाद पिस्तौल निकाल ली. स्थिति भांपकर तरणजीत वहां से भागने लगा, लेकिन आरोपियों ने दौड़ा कर उसे घर लिया और उस पर 4 गोलियां दाग दी. दो गोलियां उसके सिर व दो सीने में लगी. जिसके कारण घटना स्थल पर ही उसने दम तोड़ दिया था.

मानगो स्थित घर में सुखमणि साहब का हुआ पाठ

बता दें कि मानगो स्थित ससुराल में जसबीर कौर अपने पति दयाल सिंह से अलग रहती हैं. उन्होंने अलग से अपना मकान बनवा रखा है. जहां दोपहर में श्री सुखमणि साहब का पाठ मानगो स्त्री सत्संग सभा जत्थे द्वारा किया गया. जिसमें प्रधान भगवान सिंह, पूर्व प्रधान कुलदीप सिंह व अन्य भी शामिल हुए.

साकची गुरुद्वारा में 20 जुलाई को अंतिम अरदास

तरणजीत सिंह के मामा गुरदीप सिंह पप्पू ने बताया कि 18 जुलाई को श्री अखंड पाठ है रखा जायेगा. वहीं, 20 जुलाई की सुबह 11 बजे साकची गुरुद्वारा में भोग और अंतिम अरदास होगी. बुधवार को भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष अभय सिंह, कुलवंत सिंह बंटी, विजय सिंह राणा, सरदार शैलेंद्र सिंह समेत अन्य विभिन्न सामाजिक, धार्मिक एवं राजनीतिक संगठन के लोग सीतारामडेरा स्थित गुरदीप सिंह पप्पू के घर पहुंचे और परिवार को ढाढ़स बंधाया.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें