पूनम बनीं आयुष्मान भारत की पहली लाभुक, सदर में दिया बच्ची को जन्म, अस्पताल में इलाज में नहीं खर्च हुआ पैसा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
जमशेदपुर : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा रविवार को रांची में शुरू की गयी आयुष्मान भारत योजना का पूर्वी सिंहभूम में पहला लाभ सदर अस्पताल में भर्ती महिला पूनम महतो को मिला. सरायकेला-खरसावां के बांसुड़दा गांव निवासी सिकंदर महतो की पत्नी पूनम ने सदर अस्पताल में बच्ची को जन्म दिया है. केंद्र सरकार की योजना लागू होने के तत्काल बाद महिला को गोल्डेन कार्ड संख्या पीओ क्यूवीआरकेडीएफ जारी हुआ.
उसका इलाज अस्पताल की चिकित्सक डॉ. वीणा सिंह ने किया. चिकित्सक ने बताया कि महिला गुलाबी (पीएच) कार्ड धारी है. अस्पताल में महिला का इलाज बिना किसी व्यवधान और पूछताछ के राशन कार्ड के आधार पर इलाज किया गया. सरकार की योजना का लाभ पाकर परिवार बेहद उत्साहित है. उनका इलाज में कोई खर्च नहीं लगा.
गरीबों के लिए वरदान आयुष्मान भारत योजना : दिनेश कुमार
जमशेदपुर. आयुष्मान भारत योजना के शुभारंभ होने पर भाजपा जिला अध्यक्ष दिनेश कुमार ने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री रघुवर दास की अंत्योदय केंद्रित महत्वपूर्ण योजना है. अब गरीब मरीजों के इलाज में वित्तीय संकट आड़े नहीं आयेगा. भाजपा सरकार का यह संकल्प है कि पैसे के अभाव में कोई गरीब एवं वित्तीय रूप से कमजोर परिवार इलाज से वंचित न रहे. भगवान बिरसा की धरती से इस योजना के शुभारंभ से राज्य के 57 लाख परिवारों को सीधा लाभ मिलेगा. गरीबों के लिए आयुष्मान भारत योजना वरदान साबित होगी.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें