32.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

JAC 10th Board Exam 2023: हाथ फ्रैक्चर होने के बावजूद रानी कुमारी ने दी मैट्रिक की परीक्षा, ऐसे लिखा आंसर

हजारीबाग के टाटीझरिया प्रखंड में पहली बार मैट्रिक बोर्ड की परीक्षा के लिए सेंटर बनाया गया है. सुबह करीब आठ बजे से ही परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र पर पहुंचने लगे थे. हाथ फ्रैक्चर होने के कारण एक छात्रा रानी कुमारी सहयोगी के साथ परीक्षा देने आयी थी.

टाटीझरिया (हजारीबाग), सोनू पांडेय. झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक) द्वारा आयोजित मैट्रिक परीक्षा के पहले दिन मंगलवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच हजारीबाग जिले के टाटीझरिया के उत्क्रमित उच्च विद्यालय परीक्षा केंद्र पर परीक्षा शांतिपूर्ण संपन्न हुई. टाटीझरिया प्रखंड में पहली बार मैट्रिक बोर्ड की परीक्षा के लिए सेंटर बनाया गया है. परीक्षार्थियों को पूरी तरह जांच-पड़ताल के बाद ही परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया गया. सुबह करीब आठ बजे से ही परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र पर पहुंचने लगे थे. हाथ फ्रैक्चर होने के कारण एक छात्रा रानी कुमारी सहयोगी के साथ परीक्षा देने आयी थी.

रानी कुमारी हाथ फ्रैक्चर के बाद भी पहुंची परीक्षा देने

पहले दिन की परीक्षा में आइआइटी व अन्य वोकेशनल विषयों के कुल 66 परीक्षार्थियों ने परीक्षा लिखी. परीक्षा लिख रहे परीक्षार्थी टाटीझरिया प्रखंड क्षेत्र के ही अपग्रेडेड प्लस टू उच्च विद्यालय झरपो के विद्यार्थी हैं. शांतिपूर्ण माहौल में कदाचार मुक्त परीक्षा ली गई. इनमें से एक परीक्षार्थी रानी कुमारी का दाहिना हाथ टूटा हुआ था. इसके बाद भी वह परीक्षा देने सेंटर पर पहुंची. उसने परीक्षा लिखने के लिए एक सहयोगी नवम कक्षा की छात्रा अनुप्रिया कुमारी को लेकर साथ आयी थी. उसने बताया कि हाथ टूट जाने के कारण वह उत्तर लिख सकने में असमर्थ है.

Also Read: झारखंड: शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की तबीयत बिगड़ी, एयर एंबुलेंस से भेजे गए चेन्नई

कड़ी सुरक्षा में पहले दिन हुई मैट्रिक की परीक्षा

केंद्र अधीक्षक ज्योति रानी ने बताया कि अपने विद्यालय के पांच शिक्षकों के अलावा दूसरे विद्यालय के कुल 6 शिक्षक कमलाकांत प्रसाद, कुलदीप पासवान, अनिल प्रकाश, प्रमोद कुमार पासवान, उमा कुमारी और मुकेश कुमार साव को वीक्षक कार्य में लगाया गया है. प्रशासनिक स्तर से परीक्षा के सफल संचालन के लिए दारू प्रखंड के बीडीओ को लगाया गया है. केंद्र में मजिस्ट्रेट के रूप में टाटीझरिया प्रखंड के बीटीएम अमित मोहन को लगाया गया है, जबकि सुरक्षा की जवाबदेही टाटीझरिया थाना के एएसआई रामनाथ सिंह के जिम्मे है. पदाधिकारी एवं शिक्षक कदाचार मुक्त परीक्षा को लेकर पूरी तरह सजग दिखे.

Also Read: Water Crisis: पेयजल के लिए हाहाकार, 500 मीटर दूर रागड़ो नदी से पीने का पानी लाने पर हैं मजबूर

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें