1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. naxalites attack contractor temporary camp in gumla district half a dozen employees beaten up smj

गुमला में ठेकेदार के अस्थायी कैंप पर नक्सलियों का हमला, आधा दर्जन कर्मचारियों के साथ मारपीट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date

अपरशंख जलाशय परियोजना के दायीं नहर का काम करा रहे ठेकेदार के अस्थायी कैंप पर नक्सलियों का हमला.
अपरशंख जलाशय परियोजना के दायीं नहर का काम करा रहे ठेकेदार के अस्थायी कैंप पर नक्सलियों का हमला.
प्रभात खबर.

Jharkhand Naxal News (दुर्जय पासवान-गुमला) : झारखंड के गुमला जिला अंतर्गत चैनपुर व डुमरी के सीमावर्ती नवगाई गांव के अपरशंख जलाशय परियोजना के दायीं नहर का काम करा रहे ठेकेदार के अस्थायी कैंप पर नक्सलियों ने हमला कर दिया. घटना दोपहर 2 बजे की है. नक्सलियों की संख्या 40 से 50 थी. सभी हथियारों से लैस थे. नक्सलियों ने कैंप में तैनात आधा दर्जन कर्मचारियों के साथ जमकर मारपीट भी की. वहीं, 4 गाड़ियों का शीशा भी तोड़ दिया. दायीं नहर का काम 10 करोड़ रुपये से हो रहा है. नक्सलियों ने काम बंद करा दिया.

पुलिस के अनुसार, JJMP के नक्सलियों ने घटना को अंजाम दिया है. पुलिस घटना स्थल पर पहुंचकर सभी गाड़ियों को थाना ले आयी है. साथ ही नक्सलियों ने किस कारण से ठेकेदार के वाहनों को क्षतिग्रस्त किया और कर्मचारियों को पीटा. इसकी पुलिस जांच कर रही है.

JJMP के 40 से 50 हथियारबंद नक्सलियों ने किया हमला

अपरशंख डैम के दायीं नहर का काम ठेकेदार तासिम खान करा रहा है. उसके साइड पर दिनदहाड़े 40 से 50 JJMP के हथियारबंद दस्ता ने जमकर उत्पात मचाया. कार्य में लगे पोकलेन मशीन, जेसीबी मशीन व दो हाईवा में जमकर तोड़फोड़ किया. इतना ही नहीं चालकों को भी जमकर पीटा गया. गंभीर रूप से घायल दो ड्राइवर को इलाज के लिए गुमला सदर अस्पताल भेज दिया गया है. वहीं, 4 लोगों को आंशिक चोट लगी है.

घटना की जानकारी मिलने के बाद चैनपुर थाना प्रभारी अमित कुमार चौधरी व डुमरी थाना प्रभारी मनीष कुमार संयुक्त रूप से टीम गठित डैम मुख्य नहर पहुंचे. क्षतिग्रस्त किये गये वाहनों को सुरक्षा के बीच चैनपुर लाया गया. चैनपुर थाना प्रभारी अमित चौधरी के अनुसार इस मामले की लिखित शिकायत ठेकेदार द्वारा अभी तक थाना में नहीं दिया गया है.

जानकारी के अनुसार, इस घटना को अंजाम देने के पीछे लेवी मुख्य कारण बताया जा रहा है. ठेकेदार के कर्मियों ने मारपीट में जख्मी लोगों के नाम बताने से इनकार किया. बता दें कि 3 माह पूर्व जल संसाधन विभाग चैनपुर-वन से लगभग 10 करोड़ का टेंडर निकाला गया था जो कई श्रेणियों में बांटा गया था. कई ठेकेदार कार्य लेकर काम शुरू किया है.

JJMP उग्रवादियों का है हाथ : एसपी

पुलिस अधीक्षक एचपी जनार्दनन ने कहा कि अपरशंख जलाशय के समीप संवेदक की गाड़ी को क्षतिग्रस्त करने के पीछे जेजेएमपी के उग्रवादियों का हाथ है. पुलिस पूरे मामले की जांच करते हुए उग्रवादियों के खिलाफ अभियान चला रही है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें