25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

गुमला: कार्तिक उरांव कॉलेज की छात्रा की हत्या, प्राथमिकी दर्ज

कार्तिक उरांव कॉलेज की छात्रा राजपति कुमारी हत्या के आरोप में लोअर बाजार थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. ये प्राथमिकी घाघरा निवासी रंथी कुमारी ने दर्ज करायी है.

रांची: कार्तिक उरांव कॉलेज के छात्रा की हत्या किये जाने के आरोप में गुमला जिला के घाघरा निवासी रंथी कुमारी ने रांची के लोअर बाजार थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी है. मृतका का नाम राजपति कुमारी है. वह पुसो थाना क्षेत्र के कुलकुपी की रहनेवाली थी. राजपति लोअर बाजार थाना क्षेत्र के कांटा टोली, वासुदेव नगर स्थित रेब्लान इंप्लेक्स के फ्लैट नंबर-202 में रहती थी. कार्तिक उरांव कॉलेज में पढ़ाई के दौरान अनिता तिवारी की बेटी अनुप्रिया तिवारी के साथ उसकी मुलाकात हुई थी. इसके बाद दोनों में दोस्ती हो गयी. अनुप्रिया ने अपनी मां के खराब स्वास्थ्य की बात कह उनकी देखभाल के साथ घर में काम-काज में हाथ बंटाने और साथ में रहने के लिए उसे राजी कर लिया.

इसके बाद अनुप्रिया उसे कांटाटोली, वासुदेव नगर स्थित रेब्लान इंप्लेक्स के अपने फ्लैट नंबर-202 में ले गयी. लगभग दो साल वह उसके साथ रही. लेकिन बीते कुछ माह से उसके साथ वहां पर सही व्यवहार नहीं किया जा रहा था. इस बात की जानकारी उसने अपने चाचा सत्येंद्र कुमार भगत को 20 जनवरी 2024 को फोन कर दी थी. कहा था कि अब हम यहां नहीं रहेंगे. यहां के इंसान अच्छे लोग नहीं हैं. इसके बाद चाचा के कहने पर वह उनके यहां चली गयी. अगले ही दिन अनिता तिवारी का बेटा प्रिंस कुमार ने राजपति को बार-बार फोन कर रांची बुला लिया. उधर, राजपति की सहेली किरण कुमारी ने उसके चाचा को बताया कि प्रिंस तिवारी उसके साथ मारपीट करता है.

कमरे में बंद कर देता था और कॉलेज भी नहीं जाने देता था. उसका मोबाइल भी छीन लेता था. किसी से बात भी नहीं करने देता था. इसके दो दिन बाद 22 फरवरी को चाचा सत्येंद्र कुमार भगत को अनिता तिवारी ने दिन के एक बजे कॉल किया कि राजपति बेहोश है. उसको सदर अस्पताल ले जा रहे हैं. तब सत्येंद्र भगत ने रांची में रह रहे छोटे भाई मनीष भगत को कॉल करके बताया कि राजपति बेहोश है. उसको सदर अस्पताल में जाकर देखो. जब मनीष तीन बजे अस्पताल पहुंचा, तब देखा कि राजपति मृत पड़ी है. उसके ओंठ, पेट, घुटने के नीचे चोट और पीठ पर नुकीली चीज से प्रहार का निशान था. सत्येंद्र कुमार भगत ने कहा है कि ऐसे में मुझे पूरा विश्वास है कि अनिता तिवारी, उसका बेटा प्रिंस तिवारी और बेटी अनुप्रिया ने राजपति को प्रताड़ित कर मार दिया है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें