26.1 C
Ranchi
Tuesday, March 5, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Jharkhand School Story: गुमला के इस स्कूल में पढ़ने नहीं, सोने और खेलने आते हैं बच्चे

इस संबंध में सहायक शिक्षक से पूछा गया तो उन्होंने कहा, बाथरूम खराब हो गया है. इसलिए ताला लगा दिया गया है, जबकि जिला शिक्षा पदाधिकारी से पूछने पर उन्होंने कहा कि एक साल पूर्व ही मैंने अपनी देखरेख में बाथरूम को बनवाया था.

Gumla News: घाघरा प्रखंड के राजकीयकृत प्राथमिक विद्यालय गम्हरिया में बच्चे पढ़ने नहीं, सोने व खेलने के लिए आते हैं. इस बात की पुष्टि तब हुई, जब ग्रामीणों की सूचना पर विद्यालय पहुंच कर देखा गया कि कुछ बच्चे दरी पर सोये हैं और कुछ बच्चे लट्टू चला रहे थे, तो कोई गुल्ली डंडा के अलावा कई अनावश्यक खेल खेल रहा था. यह सब विद्यालय के प्रधानाध्यापक युसूफ खान समेत सहयोगी शिक्षक मजे लेकर देख रहे थे. फोटो खींचते हुए देख शिक्षक की नींद उड़ गयी और उन्होंने बच्चों को कक्षा में जाकर बैठने के लिए डांटने लगे. इस दौरान देखा गया मध्याह्न भोजन भी जैसे-तैसे रसोई में बन रहा था और विद्यालय परिसर शौचालय में ताला लटका था.

देखरेख में बनवाया था बाथरूम

इस संबंध में सहायक शिक्षक से पूछा गया तो उन्होंने कहा, बाथरूम खराब हो गया है. इसलिए ताला लगा दिया गया है, जबकि जिला शिक्षा पदाधिकारी से पूछने पर उन्होंने कहा कि एक साल पूर्व ही मैंने अपनी देखरेख में बाथरूम को बनवाया था. इतना जल्दी कैसे खराब हो सकता है. बता दें कि मध्याह्न भोजन में सोमवार व शुक्रवार को बच्चों को अंडा देना है. सोमवार के दिन विद्यालय मकर संक्रांति की छुट्टी थी. पर उक्त अंडा को दूसरे दिन जिस दिन विद्यालय खुला है, उस दिन देना था. पर बच्चों को नहीं दिया गया. इस संबंध में प्रधानाचार्य से पूछने पर उन्होंने कहा किसी और दिन अंडा दे दिया जायेगा.

मामले की जांच कर की जायेगी कार्रवाई : डीइओ

इस संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी से पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि पत्रकारों द्वारा जानकारी मिली है. इस पर प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी के माध्यम जांच करायी जायेगी और दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जायेगी.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें