1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand finance minister rameshwar oraon said on power crisis bureaucracy targeted central govt grj

झारखंड में बिजली संकट व ब्यूरोक्रेसी पर क्या बोले वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव, निशाने पर रही केंद्र सरकार

गुमला दौरा के क्रम में पत्रकारों से वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि झारखंड में अच्छे ब्यूरोक्रेसी की जरूरत है. 13 लाख लोगों को एक-एक हजार रुपये पेंशन दी जायेगी. पहले से 14 लाख लोगों को पेंशन मिल रही है. ठंड में सभी आंगनबाड़ी केंद्र के बच्चों को स्वेटर दिया जायेगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News: मंत्री रामेश्वर उरांव
Jharkhand News: मंत्री रामेश्वर उरांव
प्रभात खबर

Jharkhand News: झारखंड के वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि झारखंड में अच्छा ब्यूरोक्रेसी नहीं है. जब झारखंड संयुक्त बिहार में था, तब यहां का ब्यूरोक्रेसी बेहतर था. कई अच्छे अधिकारी थे. उनका काम दिखता था, परंतु अब सभी पुराने अधिकारी रिटायर हो गये. झारखंड में अच्छे ब्यूरोक्रेसी की जरूरत है. वे गुरुवार को गुमला दौरा के क्रम में सर्किट हाउस में पत्रकारों से बात कर रहे थे. उन्होंने कहा कि 13 लाख लोगों को एक-एक हजार रुपये पेंशन देंगे. पहले से 14 लाख लोगों को पेंशन मिल रही है. ठंड के मौसम में राज्यभर के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों के बच्चों को स्वेटर दिया जायेगा. अप्रैल माह से गरीबों को दाल मिलेगी. 150 मेगावाट बिजली मांग रहे हैं, लेकिन 50 मेगावाट बिजली मिल रही है. बिजली संकट सिर्फ झारखंड में नहीं है. दूसरे राज्यों में भी है.

गरीबों को दाल मिलेगी

झारखंड के वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि देश में कांग्रेस की सरकार 2014 तक थी, तो 9.50 प्रतिशत टैक्स लगता था. अब भाजपा के शासन में 27 प्रतिशत टैक्स बढ़ा है. इससे लोगों पर अतिरिक्त बोझ बढ़ गया है. समय-समय पर लोगों की जरूरत के अनुसार सरकार काम करती है. गठबंधन की सरकार भी जनता के लिए काम कर रही है. माड़ भात खाते थे. अब लोग दाल भात खायेंगे. अप्रैल माह से गरीबों को दाल मिलेगी. सरकार की योजना है जो इसके अधीन आयेंगे, उन्हें सरकारी लाभ देंगे. पीएम आवास योजना के तहत पहले दो रूम बनता था. अब एडिशनल रूम बनाने का भी सरकार काम कर रही है. स्कूली बच्चों को सभी सुविधा दे रहे हैं.

झारखंड ही नहीं, दूसरे राज्यों में भी बिजली संकट

वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि अब बच्चों को सप्ताहभर अंडा देंगे. हम 150 मेगावाट बिजली मांग रहे हैं, पंरतु मिल रहा 50 मेगावाट बिजली मिल रही है. कोयला का उत्पादन भी कम हुआ है. बिजली संकट सिर्फ झारखंड में नहीं है. दूसरे राज्यों में भी बिजली संकट है. गांव-गांव में पानी की व्यवस्था की गयी है. थोड़ा संकट बिजली का है. यह भी कुछ दिन में ठीक हो जायेगा. केंद्र सरकार का काम महंगाई पर रोक लगाना है, परंतु महंगाई पर रोक नहीं लग रहा है. पूरे राज्य की अर्थव्यवस्था चलाने की जिम्मेवारी केंद्र सरकार की है. इसलिए केंद्र सरकार को हर बिंदु पर सोचना चाहिए. बेरोजगारी दूर करना केंद्र सरकार का काम है. इस मौके पर नगर परिषद के अध्यक्ष दीपनारायण उरांव, जिला प्रवक्ता मानिकचंद साहू, मुरली मनोहर प्रसाद, उपाध्यक्ष रमेश कुमार, रोहित उरांव विक्की, अलबर्ट तिग्गा, रामनिवास प्रसाद, सुनील उरांव, मो मोख्तार सहित कई लोग मौजूद थे.

रिपोर्ट : दुर्जय पासवान

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें