1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. gumla dc warning action taken against officers if the scholarship amount is surrendered smj

गुमला डीसी की चेतावनी, छात्रवृत्ति की राशि सरेंडर होने पर अधिकारियों पर होगी कार्रवाई

समेकित जनजाति विकास अभिकरण के कार्यों की समीक्षा बैठक शुक्रवार को ITDA भवन, गुमला में हुई. समीक्षा बैठक की अध्यक्षता डीसी शिशिर कुमार सिन्हा ने की. इस दौरान किसी भी सूरत में छात्रवृत्ति की राशि सरेंडर नहीं करने का आदेश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ITDA की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा.
ITDA की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (जगरनाथ, गुमला) : समेकित जनजाति विकास अभिकरण (Integrated Tribal Development Agency- ITDA) के कार्यों की समीक्षा बैठक शुक्रवार को ITDA भवन, गुमला में हुई. समीक्षा बैठक की अध्यक्षता डीसी शिशिर कुमार सिन्हा ने की. इस दौरान किसी भी सूरत में छात्रवृत्ति की राशि सरेंडर नहीं करने का आदेश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिया.

डीसी शिशिर कुमार सिन्हा ने वित्तीय वर्ष में आधार कार्ड लिंक नहीं होने के कारण जिन विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति का लाभ नहीं दिया जा सका था, उन सभी विद्यार्थियों का आधार लिंक तथा आधार मैपिंग कराते हुए शत-प्रतिशत विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति का लाभ दिलाने पर जोर दिया. साथ ही, शिक्षा विभाग को छात्रवृत्ति के लिए एक से 10 वर्ग के सुयोग्य विद्यार्थयों का डाटा अगले 15 दिनों में उपलब्ध कराने का निर्देश दिया.

डीसी ने छात्रवृत्ति के कार्यों में शिथिलता न बरतने पर बल दिया. साथ ही कहा कि विद्यार्थियों के छात्रवृत्ति को गंभीरता से ले. इस वित्तीय वर्ष किसी भी विद्यार्थी के छात्रवृत्ति लैप्स होने की शिकायत प्राप्त होने पर शिक्षा विभाग के अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी.

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना अंतर्गत जिले के बेरोजगार युवक व युवतियों को टर्म लोन उपलब्ध कराने की समीक्षा में परियोजना निदेशक द्वारा बताया गया कि उक्त योजना अंतर्गत जिले के विभिन्न प्रखंडों से 24 आवेदन प्राप्त हुए हैं. डीसी ने अधिक से अधिक आवेदन प्राप्त करने का निर्देश एवं इस संबंध में विज्ञापन प्रकाशन एवं व्यापक प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों को उक्त ऋण का लाभ दिलाने के लिए जागरूक करने पर भी जोर दिया.

डीसी ने वित्तीय वर्ष 2020-21 में गुमला जिलांतर्गत सरकारी विद्यालयों में वर्ग 8 में अध्यनरत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ी जाति के ऐसे विद्यार्थियों जिनका वर्तमान वित्तीय वर्ष 2021-22 में वर्ग 9 में नामांकन हुआ है. वैसे विद्यार्थियों के बीच नि:शुल्क साइकिल वितरण की समीक्षा की.

समीक्षा में परियोजना निदेशक, ITDA द्वारा बताया गया कि जिले के सरकारी विद्यालयों के वर्ग 8 में अध्यनरत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ी जाति के 6048 छात्र तथा 5727 छात्राएं हैं. जिनकी सूची प्रखंडवार प्राप्त कर ली गयी है. इस पर उक्त सूची को डीसी द्वारा अनुमोदित किया गया.

बैठक में ITDA परियोजना निदेशक इंदु गुप्ता, अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता, जिला शिक्षा पदाधिकारी सह जिला शिक्षा अधीक्षक सुरेंद्र पांडेय, जिला कल्याण पदाधिकारी अजय जेराल्ड मिंज, एडीपीओ पीयूष गुप्ता, प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी व अन्य उपस्थित थे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें