1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. godda
  5. physical exploitation of minor girl in lalmatiya police arrest one accused another absconding sam

ललमटिया में नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म, पुलिस ने एक आरोपी को किया गिरफ्तार, दूसरा फरार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म मामले में एक आरोपी गिरफ्तार. गोड्डा एसपी ने दी जानकारी.
Jharkhand news : नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म मामले में एक आरोपी गिरफ्तार. गोड्डा एसपी ने दी जानकारी.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Godda news : गोड्डा (निरभ किशोर) : गोड्डा जिले में फिर रौंगटा खड़ा कर देने वाली सामूहिक दुष्कर्म गैंगरेप की घटना को आरोपियों ने अंजाम दिया है. बोआरीजोर थाना क्षेत्र की रहने वाली 13 वर्षीय नाबालिग आदिवासी लड़की के साथ ललमटिया के दो युवकों ने खदान क्षेत्र में ले जाकर बारी- बारी से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया है. मंगलवार (15 सितंबर, 2020) की देर शाम दुष्कर्म की इस घटना को लेकर ललमटिया थाना में पीड़िता के बयान पर मामला दर्ज कर लिया गया है. इस घटना में शामिल एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है, जबकि दूसरे आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है.

क्या है घटना

बोआरीजोर थाना क्षेत्र की रहने वाली नाबालिग आदिवासी लड़की ने ललमटिया थाना में सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज कराते हुए लिखित बयान में बताया है कि मंगलवार की देर अपने घर से अपने दोस्त के साथ मोटरसाइकिल पर सवार होकर पास के तेलगामा गांव जा रही थी. इस क्रम में ललमटिया के बसडीहा गांव के बाईपास सड़क के पास अचानक कीचड़ की वजह से मोटरसाइकिल का चक्का फंस गया. देर तक मोटरसाइकिल निकालने की कवायद के दौरान थाना क्षेत्र के ही भोडाय भादो टोला गांव निवासी नसीम साई पिता जमशेद साई एवं दूसरा सद्दाम उर्फ सदाब साई लड़की के पास पहुंच कर लड़की के दोस्त को मारपीट कर भगा दिया.

नाबालिग को दोनों आरोपियों ने अपने मोटरसाइकिल पर बैठा कर पास की झाड़ी में ले गया और बारी- बारी से दुष्कर्म किया. घटना के बाद पीड़िता को एक बंद घर में ले जाकर आरोपियों ने ताला खोलने लगा. मौके देख पीड़िता वहां से भाग निकली तथा अपने मोबाइल से 100 पर डायल कर इस बात की सूचना पुलिस को दी. घटना की जानकारी मिलते ही ललमटिया थाना प्रभारी ललित कुमार पांडेय ने दल- बल के साथ छापेमारी कर पीड़िता को संरक्षण में लिया तथा घटना में शामिल नसीम को गिरफ्तार कर थाना लाया गया, जबकि दूसरा आरोपी सदाब साई भागने में सफल रहा. थाना में लडकी के बयान पर कांड संख्या 59/20 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. गिरफ्तार एक अभियुक्त को जेल भेज दिया गया है तथा पीड़िता को मेडिकल एवं 164 के बयान के लिए गोड्डा भेजा गया है.

एसपी ने की प्रेस वार्ता, आरोपी को लाया प्रेस के सामने

बुधवार की देर शाम गोड्डा एसपी वाईएस रमेश ने प्रेस वार्ता आयोजित आदिवासी नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना की जानकारी दिया.उन्होंने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए कांड में संलिप्त अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए एसडीपीओ महगामा डॉ वीरेन्द्र चौधरी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया. टीम द्वारा लगातार छापेमारी कर नसीम साई पिता जमशेद साई बडा भोडाय भोदा टोला ललमटिया को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ के दौरान नसीम ने अपना अपराध स्वीकार किया है. पुलिस द्वारा दूसरे आरोपी सदाब की गिरफ्तारी को लेकर लगातार छापेमारी कर रही है. एसपी ने बताया कि पुलिस टीम में शामिल एसडीपीओ वीरेन्द्र कुमार चौधरी के साथ- साथ बोआरीजोर के तपन कुमार, ललमटिया थाना प्रभारी ललित कुमार पांडेय, ललमटिया थाना के विनय कुमार, चेतन बैरागी समेत अन्य पुलिस बल शामिल थे.

जिले में बढ़ते महिला अत्याचार मामले पर संवेदनशील हुई पुलिस

गोड्डा जिले में हाल के दिनों में महिला अत्याचार संबंधित घटना को लेकर गोड्डा वाइएस रमेश काफी संवेदनशील हैं. श्री रमेश ने विभिन्न थाना क्षेत्रों में हो रही इस तरह की घटना को दुखद बताया. साथ ही सभी घटनाओं पर त्वरित कार्रवाई करते हुए अपराधियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज कर सजा दिलाने का हरसंभव प्रयास की बातें दोहरायी. एसपी ने गोड्डा वासियों से अपील किया है कि मुख्य धारा से भटके हुए लोगो एवं बच्चों पर विशेष निगरानी रखें, ताकि बच्चे किसी गलत संगत में ना पड़े. जिले में अब तक जितने भी महिला अत्याचार घटना घटी है उसमें शामिल आवारा नाबालिग बच्चे ही है. आज कल बच्चे शराब, ड्रग्स आदि का सेवन कर गंभीर अपराधिक मामलों में शामिल होकर घटना को अंजाम दे रहे हैं. श्री रमेश ने खास कर अभिभावकों से अनुरोध किया है कि अपने- अपने बच्चों की गतिविधियों पर विशेष निगरानी रखें.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी थाना प्रभारी को निर्देश

बुधवार को एसपी वाईएस रमेश ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिया कि अपने- अपने थाना क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों, प्रतिष्ठित व्यक्तियों एवं अभिभावकों के साथ थाना में मीटिंग कर समाज में बढ़ते दुष्कर्म, नशाखोरी एवं अन्य अपराध को रोकने की दिशा में काउंसेलिंग के जरिये उन्हें सही रास्ते पर लाने का काम करें. श्री रमेश ने समाज के ऐसे भटके हुए बच्चों को सही रास्ते पर लाने, मुख्यधारा में लाने के लिए निगरानी रखने एवं सामाजिक एवं अच्छे कार्यों में प्रोत्साहित करने की अपील अभिभावकों से की है. समाज में बढ़ रहे कुकृत एवं महिलाओं तथा बच्चों के साथ अमानवीय घटना को अंजाम देने वाले को किसी भी स्थिति में बख्शा नहीं जायेगा.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें