16.1 C
Ranchi
Tuesday, February 27, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

गिरिडीह: न्यूड वीडियो रिकार्डिंग कर ब्लैकमेल करने के मामले में देवर-भाभी गिरफ्तार, 5 मोबाइल व 6 सिमकार्ड बरामद

साइबर अपराध के रोज नये-नये मामले उजागर हो रहे हैं. इस बार पुलिस ने न्यूड वीडियो रिकार्डिंग कर ब्लैकमेल करने वाले एक ही परिवार के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है.

साइबर अपराध के रोज नये-नये मामले उजागर हो रहे हैं. इस बार पुलिस ने न्यूड वीडियो रिकार्डिंग कर ब्लैकमेल करने वाले एक ही परिवार के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है. जबकि, तीसरा अपराधी फरार हो गया. बताया जाता है कि देवर-भाभी और युवती का पति न्यूड वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करता था. इसकी सूचना जब एक पीड़ित ने गिरिडीह के एसपी को दी तो उन्होंने त्वरित कार्रवाई करते हुए साइबर डीएसपी संदीप सुमन समदर्शी के नेतृत्व में एक टीम गठित कर दी. यह टीम पिछले चार-पांच दिनों से इस गिरोह का भंडाफोड़ करने में लगी थी. अंतत: मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस ने सरिया थाना क्षेत्र के नगर केशवारी गांव से 21 वर्षीय युवक विकास मंडल और 21 वर्षीय उसकी भाभी सृष्टि कुमारी को गिरफ्तार कर लिया. वहीं, सृष्टि का पति सिकंदर मंडल भागने में सफल रहा. पुलिस ने गिरफ्तार देवर-भाभी के पास से पांच मोबाइल फोन सेट और छह सिम कार्ड बरामद करने में सफलता हासिल की है.

स्क्रीनशॉट बनाता था आरोपी

जानकारी के अनुसार नगर केशवारी के इस परिवार के कई सदस्य संगठित रूप से और सुनियोजित तरीके से लोगों को ठगी का काम कर रहे थे. सोशल मीडिया पर युवकों को मसाज के नाम पर पैसा वसूली किया जाता था. इसके बाद संबंधित युवकों को न्यूड वीडियो कॉल के जरिये जोड़कर स्क्रीनशॉट बना लिया जाता था. बाद में स्क्रीनशॉट को सार्वजनिक करने के नाम पर युवकों से रकम की वसूली की जाती थी.

चार दर्जन से भी ज्यादा लोगों को बनाया गया है शिकार

एक ही परिवार का यह गिरोह अब तक चार दर्जन से भी ज्यादा लोगों को अपना शिकार बना चुका है. बताया जाता है कि यह अश्लील धंधा ये लोग लगभग छह महीने से भी ज्यादा समय से कर रहे थे. अश्लील धंधा का यह कारोबार ऐसा है कि पीड़ित व्यक्ति पुलिस का सहारा भी नहीं ले पा रहा था. उन्हें भय रहता है कि उनका अश्लील वीडियो कहीं वायरल न हो जाये या पुलिस के हाथ न लग जाये. लेकिन, जब एक युवक ब्लैकमेलिंग से काफी परेशान हो गया तो उसने इसकी गुप्त रूप से पुलिस को इसकी सूचना दी. इसके बाद पुलिस ने अपराधियों की धर-पकड़ के लिए अपना जाल बिछाया और गिरोह का भंडाफोड़ किया.

पीड़ित युवक ने लिया प्रतिबिंब ऐप का सहारा

वीडियो वायरल होने के भय से पीड़ित युवक ने पुलिस के प्रतिबिंब ऐप का सहारा लिया. बताया जाता है कि जब युवक बार-बार ब्लैकमेलिंग से त्रस्त हो गया और उससे 60 हजार रुपये की मांग की जाने लगी तो उसने इसकी शिकायत प्रतिबिंब ऐप पर की. ऐप में मिले मोबाइल नंबर के जरिये पुलिस ने तहकीकात शुरू कर दी. पीड़ित के सहयोग से पुलिस ने उस नंबर को भी हासिल किया जिस नंबर से युवक को ठगने का काम किया जा रहा था.

बरामद मोबाइल से पुलिस को मिले सौ से भी ज्यादा फुटेज

पुलिस ने गिरफ्तार देवर-भाभी के पास से जिस पांच मोबाइल सेट को बरामद किया है, उस मोबाइल में सौ से भी ज्यादा अश्लील फुटेज थे. फुटेज की जांच-पड़ताल भी शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि इसके जरिये वैसे लोगों को पुलिस चिह्नित कर रही है जो अश्लील वीडियो के मामले में इस गिरोह के ठगी का शिकार हुए हैं.

रिश्तेदारों के खाते में मंगवाता था रकम

यह गिरोह ब्लैकमेलिंग की राशि को अलग-अलग खाते में मंगवाया करता था. इससे संबंधित पुलिस ने छह मोबाइल सिम को भी बरामद किया है. एक सिम गिरफ्तार महिला की सास के नाम से है, जिससे ह्वाट्स ऐप कॉल और अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल किया जाता था. महिला की सास के सिम नंबर के अलावा अन्य रिश्तेदारों के नाम से जारी मोबाइल नंबर पर भी पैसे मंगाने का काम किया जा रहा था. सोमवार को बैंक बंद रहने के कारण पुलिस उन खातों को चिह्नित नहीं कर पायी है, जिसमें राशि मंगवायी जाती थी. हालांकि पुलिस ने इसपर जांच कर रही है.

Also Read: गिरिडीह : माइका फैक्ट्री में गिरी दीवार, मलबे में दबकर मजदूर की मौत

ठगी कर अकूत संपत्ति बनाया है इस परिवार ने

पति-पत्नी के साथ-साथ देवर मिलकर चार दर्जन से भी ज्यादा लोगों से मोटी रकम ठगा है. बताया जाता है कि पूर्व में यह परिवार साधारण था. लेकिन, पिछले छह माह से इसने अकूत संपत्ति भी बनायी है. इस परिवार के पास वर्तमान में बाइक के साथ-साथ चारपहिया वाहन भी है और लगभग 70 से 80 लाख रुपये की लागत से गांव में आलीशान घर भी बना रहा है. पुलिस ने संपत्ति का आकलन शुरू कर दिया है. वहीं, आय का स्रोत जानने के लिए पुलिस आयकर विभाग को भी पत्र लिखने की तैयारी कर रही है.

युवती को विशेष तौर पर किया गया था ट्रेंड

पुलिस ने जिस श्रृष्टि नाम की युवती को ठगी करने के मामले में गिरफ्तार किया है, उस युवती को विशेष तौर पर ट्रेनिंग दी गयी थी. बताया जाता है कि इस तरह की ठगी बड़े शहरों में रहने वाला गिरोह करता है और इसी गिरोह से ट्रेनिंग हासिल कर यह युवती अश्लील वीडियो का रिकार्डिंग किया करती थी. इसके बाद परिवार के अन्य सदस्य वीडियो वायरल कर देने के नाम पर संबंधित लोगों से ठगी की जाती थी. एक-एक युवक से राशि ठगने के लिए बीस-बीस दिन तक उसे धमकी दी जाती थी. कई लोग तो एक बार अपराध करने के बद इस गिरोह के लिए दुधारू गाय साबित हो रहे थे.

अभिभावक के साथ-साथ युवक भी रहे सावधान : एसपी

गिरिडीह के एसपी दीपक कुमार शर्मा ने बताया कि साइबर अपराधियों की गिरफ्तारी से ठगी करने के नये-नये मामले उजागर हो रहे हैं. नैतिकता लोगों में बिल्कुल नहीं रही है. अश्लील वीडियो बनाकर ठगने वाले दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. उन्होंने कहा कि अभिभावकों के साथ-साथ युवकों को भी सावधान रहने की जरूरत है. इस तरह की अश्लील हरकत से लोगों को दूर रहना चाहिए. जिन बच्चों और युवकों के हाथ में अभिभावकों ने मोबाइल दिया है तो उनकी जिम्मेदारी बनती है कि वे अपने बच्चों पर ध्यान भी दें ताकि बच्चे गलत रास्ते पर न जायें.

Also Read: गिरिडीह : कैटरिंग दुकान में हुई चोरी का नगर पुलिस ने किा खुलासा, एक गिरफ्तार

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें