1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. dumka
  5. jharkhand crime news the intention to open icecream factory became the cause of death jamtaras young businessman murdered in dumka 2 accused arrested smj

आइसक्रीम फैक्ट्री खोलने का इरादा बना मौत का कारण, जामताड़ा के कारोबारी की दुमका में हत्या, 2 आरोपी गिरफ्तार

जामताड़ा के युवा कारोबारी की दुमका में हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा किया है. व्यापारिक रंजिश में युवा कारोबारी की हत्या हुई है. गर्मी के समय में आइसक्रीम फैक्ट्री शुरू करने वाला था कारोबारी. लेकिन, रास्ते से हटाने के लिए अन्या कारोबारी ने उसकी हत्या कर दी. इस मामले में दो आरोपी गिरफ्तार हुआ है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
जामताड़ा के युवा कारोबारी की दुमका में हत्या मामले का खुलासा करते एसपी अंबर लकड़ा व अन्य.
जामताड़ा के युवा कारोबारी की दुमका में हत्या मामले का खुलासा करते एसपी अंबर लकड़ा व अन्य.
प्रभात खबर.

Jharkhand Crime News (दुमका) : झारखंड के जामताड़ा जिला अंतर्गत कुंडहित थाना क्षेत्र के बाबूपुर निवासी युवा कारोबारी काजल मंडल (43 वर्ष) की नृशंस तरीके से हुई हत्या का पुलिस ने उद‍्भेदन कर लिया है. इस मामले में पुलिस ने दो आरोपी गिरफ्तार किया है, लेकिन मुख्य आरोपी अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

क्या है मामला

एसपी अंबर लकड़ा ने सोमवार को इस मामले का खुलासा करते हुए कहा कि व्यापारिक रंजिश में काजल मंडल की हत्या हुई थी. वैन चलानेवाला काजल गरमी के सीजन में अपने घर में आइसक्रीम की फैक्ट्री लगाना चाहता था. इसके लिए उसने तैयारी शुरू भी कर दी थी. जब इस बात की जानकारी बाबूपुर के ही रहनेवाले प्रभावकारी एवं दबंग किस्म के जयप्रकाश मंडल को हुई, तो उसने इस धंधे में नहीं उतरने की धमकी दी गयी.

जयप्रकाश को यह डर सताने लगा था कि काजल ने अगर फैक्ट्री शुरू कर दी, तो अरसे से चल रहा उसका अच्छा- खासा धंधा चौपट हो जायेगा. ऐसे में उसने काजल के नहीं मानने पर उसे रास्ते से हटाने का मन बना लिया था. उसने अपने दो सहयोगी षष्टमजीत बागती एवं नारायण मंडल की मदद ली.

गत एक नवंबर की रात दुमका जिले के टोंगरा थाना क्षेत्र के मैशामुंगेर गांव के बाहर जंगल में उसकी हत्या कर दी तथा वैन में शव को रखकर गाड़ी समेत जला दिया था. इससे पहले दरवाजे में लगे रबर को निकालकर उससे गला घोंटने का भी प्रयास किया गया था. वहीं, सिर पर प्रहार भी किया गया था. उससे पहुंचे चोट से ही घटनास्थल के आसपास खून के धब्बे दिखे थे.

आरोपी षष्टमजीत का छूटा था एक पैर का चप्पल

घटनास्थल पर अपराधियों का एक काले रंग का चप्पल बरामद हुआ था. वह चप्पल षष्टमजीत का था. दूसरा चप्पल उसकी निशानदेही पर बरामद कर लिया गया है. उसने वारदात के बाद दूसरी चप्पल खरीद ली थी. उसकी वह मोबाइल भी जब्त हुई है, जिसे उसने घटना के वक्त बात करने में उपयोग किया था. वहीं, नारायण मंडल का भी वह मोबाइल जब्त हुआ है, जिससे उसने काजल के आने-जाने की सूचना दी थी. पुलिस ने बाइक को भी जब्त किया.

मुख्य आरोपी जयप्रकाश के गिरफ्तारी के लिए हो रही छापेमारी

एसपी श्री लकड़ा ने बताया कि जयप्रकाश मनबढ़ु है. वही घटना का मुख्य आरोपी है. उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है. हत्या के इस वारदात में जयप्रकाश के सहयोगी रहे षष्टमजीत बागती एवं नारायण मंडल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. 21 साल का षष्टमजीत व 25 साल का नारायण मंडल भी बाबूपुर गांव का ही रहनेवाला है.

DSP विजय के नेतृत्व में SIT ने की कार्रवाई

इस कांड के उद‍्भेदन के लिए SP ने DSP मुख्यालय विजय कुमार के नेतृत्व में SIT का गठन किया था. इसी टीम ने दोनों की गिरफ्तारी कर मामले का खुलासा किया है. SIT टीम में रानीश्वर के इंस्पेक्टर वकार हुसैन, टोंगरा थाना प्रभारी रविशंकर कुमार, रानीश्वर थाना प्रभारी संजय कुमार, मसलिया थाना प्रभारी गौतम कुमार राय, मसानजोर थाना प्रभारी मनोज कुमार रायकुंडहित थाना प्रभारी प्रणय सत्यम शामिल थे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें