26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

धनबाद के इकबाल के समर्थकों ने असर्फी अस्पताल के गार्ड को पीटा, किया हंगामा

अस्पताल पहुंचते ही इन समर्थकों ने हंगामा शुरू कर दिया. जाते के साथ समर्थकों ने इमरजेंसी के बाहर तैनात गार्ड को पीट दिया. सभी समर्थक आपे से बाहर थे. उनका आक्रोश देख कर इमरजेंसी में तैनात चिकित्सक और अन्य मेडीकल स्टाफ सहम गये. इतने में समर्थकों ने दो - तीन पारा मेडिकल स्टॉफ को भी पीट दिया.

Dhanbad News: इकबाल खान और ढोलू उर्फ बबलू खान को बुधवार रात 9.30 बजे असर्फी अस्पताल लाया गया. दोनों के साथ उनके 200 से अधिक लोग भी अस्पताल पहुंच गये. अस्पताल पहुंचते ही इन समर्थकों ने हंगामा शुरू कर दिया. जाते के साथ समर्थकों ने इमरजेंसी के बाहर तैनात गार्ड को पीट दिया. सभी समर्थक आपे से बाहर थे. उनका आक्रोश देख कर इमरजेंसी में तैनात चिकित्सक और अन्य मेडीकल स्टाफ सहम गये. इतने में समर्थकों ने दो – तीन पारा मेडिकल स्टॉफ को भी पीट दिया, क्योंकि अस्पताल में अभी सीनियर सर्जन नहीं थे. सभी समर्थक बेकाबू हो रहे थे. बाद में वहां मौजूद डॉक्टरों ने दोनों को देखना शुरू कर दिया. एक बार इलाज शुरू होने के बाद समर्थकों के आक्रोश में कमी आ गयी.

ढोलू को ब्रॉट डेड घोषित किया, बात कर रहा था इकबाल

ढोलू को देखते ही डॉक्टरों ने ब्रॉट डेड घोषित कर दिया. उसे गोली दाहिनी आंख के पास लगी थी. यह सिर के पीछे से निकल गयी थी. मृतक ढोलू के शरीर पर अन्य कहीं भी गोली नहीं लगी थी. वहीं इकबाल को गोली बांयी पसली के निचले हिस्से में लगी थी. यहां डॉक्टरों के कहने पर उसे 15 मिनट में मिशन अस्पताल लेकर उसके परिजन चले गये. असर्फी अस्पताल में इकबाल की जांच करने वाले डॉक्टरों के अनुसार. गोली लगने से उसे काफी अधिक रक्तस्राव हुआ था. लेकिन वह लगातार बातचीत कर रहा था. अस्पताल से जाते समय भी वह बातचीत कर रहा था.

आज होगा ढोलू के शव का पोस्टमार्टम

ढोलू के शव का पोस्टमार्टम गुरुवार को किया जाएगा. वहीं जबतक ढोलू का शव असर्फी अस्पताल में पड़ा रहा. बाहर में बड़ी संख्या में उसके समर्थक जमे रहे. शव के वहां से जाते ही समर्थक पीछे पीछे एसएनएमएमसीएच चले गये.

खून का लिया गया सैंपल

घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची. वहां पर तीन स्थान पर खून गिरा हुआ था. पुलिस ने सादे कागज पर खून का सैंपल कलेक्ट किया. बताया जाता है कि हमले की घटना को दो लोगों ने अंजाम दिया. जबकि दो अन्य लोग मदद के लिए आये थे. वे आस-पास चक्कर लगा रहे थे.

Also Read: वासेपुर में फिर चलीं गोलियां, गैंगस्टर फहीम के बेटे इकबाल की हालत नाजुक
गोली चलते ही भागे डॉक्टर

घटनास्थल पर डॉक्टर परवेज का क्लीनिक है. डॉ परवेज ने बताया कि क्लीनिक खुला हुआ था. इकबाल और अन्य लोग पहुंचे, इतना तो दिखा, क्यूंकि आये दिन वे लोग आकर बैठते थे. लेकिन उसके कुछ मिनट के अंदर ही गोली चलने लगी. जैसे गोली की लगातार तीन बार आवाज हुई मैं तुरंत अपने क्लीनिक से बाहर निकला और बगल वाली गली में भाग गया. इसलिए गोली चलाने वाले को नहीं देख पाया.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें