28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

धनबाद में बढ़ा मच्छरों का प्रकोप, परेशान हैं लोग, सफेद हाथी बनकर रह गयी डेढ़ करोड़ की कोल्ड फॉगिंग मशीन

धनबाद नगर निगम क्षेत्र में मच्छरों का प्रकोप बढ़ गया है. इससे लोग काफी परेशान हैं. डेढ़ करोड़ की कोल्ड फॉगिंग मशीन सफेद हाथी बनकर रह गयी है.

धनबाद: झारखंड के धनबाद नगर निगम क्षेत्र में मच्छरों का प्रकोप काफी बढ़ गया है. इस वजह से रात हो या दिन, कभी भी लोगों को चैन नहीं मिल रहा. शहरी क्षेत्र में फॉगिंग कराने का जिम्मा नगर निगम का है. लेकिन इसकी कोई पुख्ता व्यवस्था नहीं की गयी है. हद तो यह है कि शहरी क्षेत्र की 15 लाख की आबादी के लिए नगर निगम मात्र चार हैंड स्प्रे से फॉगिंग करा रहा है. आठ माह पहले डेढ़ करोड़ की लागत से पांच कोल्ड फोगिंग मशीन खरीदी गयी. मुश्किल से एक माह भी कोल्ड फॉगिंग मशीन नहीं चली. सात माह से कोल्ड फोगिंग मशीन बंद है. चार हैंड स्प्रे है, इससे रोटेशन पर हर वार्ड में फॉगिंग हो रही है. मशीन भी इतनी छोटी कि मुश्किल से 20 मिनट में दवा खत्म हो जाती है. इसकी वजह से किसी भी वार्ड में पूरी तरह से फॉगिंग नहीं हो पा रही है.

टैक्स के बाद भी सुविधाएं नहीं
निगम के आंकड़ों पर गौर करें, तो हैंड स्प्रे में एक दिन में दो हजार रुपये व माह में 60 हजार खर्च होता है. एक हैंड स्प्रे की क्षमता पांच लीटर की है. मुश्किल से 20 मिनट तक ही चल सकती है. ऐसी व्यवस्था में शहर के लोगों को मच्छरों से निजात नहीं मिल सकती. शहरवासियों का कहना है कि नगर निगम को नियमित टैक्स देते हैं, लेकिन सुविधा के नाम पर कुछ नहीं है.

सीएनजी के कारण बंद है कोल्ड फॉगिंग मशीन
डेढ़ करोड़ की लागत से पांच कोल्ड फॉगिंग मशीनें खरीदी गयी. जिस कंपनी से मशीनें खरीदी गयी हैं, उसे एक साल तक इसका मेंटेनेंस करना है. अगस्त 2023 में पांचों कोल्ड फॉगिंग मशीन सड़क पर उतारी गयी. यह मशीन केमिकल में पानी मिलाकर चलती है. उद्घाटन के बाद मुश्किल से एक माह तक शहर में कोल्ड फॉगिंग मशीन दिखी. इसके बाद निगम के पार्किंग में फॉगिंग मशीन खड़ी है. नगर निगम की ओर से सीएनजी नहीं मिलने का हवाला देते हुए गाड़ी खड़ी करने की बात कर रहे हैं. हालांकि यह भी कह रहे हैं कि जल्द ही सभी कोल्ड फॉगिंग मशीन सड़क पर उतारा जायेगा.

बढ़ गया है मच्छरों का प्रकोप
मच्छर का प्रकोप बढ़ गया है. शहर में नगर निगम की धुआं गाड़ी नहीं दिखती है. नगर निगम को मूलभूत सुविधाओं पर पहल करनी चाहिए. नगर निगम को हमलोग नियमित टैक्स देते हैं, लेकिन सुविधा के नाम पर कुछ नहीं है. मच्छर का प्रकोप को देखते हुए नगर निगम को लगातार शहर में फॉगिंग कराना चाहिए.
चेतन गोयनका, अध्यक्ष जिला चेंबर

पांच साल से नगर निगम की फॉगिंग गाड़ी नहीं दिखी. कोरोना काल में नगर निगम की ओर से शहर में फॉगिंग करायी जाती थी. कोरोना काल के बाद नगर निगम की फॉगिंग गाड़ी नहीं दिखी. नगर निगम टैक्स लेता है, तो मूलभूत सुविधाओं का भी ध्यान रखना चाहिए. शहर में जल्द से जल्द फॉगिंग शुरू कराना चाहिए.
लोकेश अग्रवाल, महासचिव, बैंकमोड़ चेंबर

मच्छर को लेकर आ रही शिकायत
सहायक नगर आयुक्त संतोषिनी मुर्मू ने बताया कि मच्छर को लेकर शहर के लोगों की शिकायत आ रही है. फिलहाल हैंड स्प्रे से शहर में फॉगिंग करायी जा रही है. अगस्त 2023 में पांच कोल्ड फॉगिंग मशीन खरीदी गयी है. कुछ तकनीकी कारणों से कोल्ड फॉगिंग मशीन नहीं निकाली जा रही थी. अब जल्द ही सभी कोल्ड फॉगिंग मशीन से शहर में फॉगिंग करायी जायेगी.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें