22.1 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

धनबाद से आडवाणी ने शुरू किया था रामजन्म भूमि आंदोलन का दूसरा चरण

धनबाद के तत्कालीन डीसी अफजल अमानुल्लाह ने यह कहते हुए मना कर दिया कि ऐसा करने पर यहां सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ सकता है. इसके बाद अंतिम समय में गिरफ्तारी की योजना टली थी.

धनबाद : भाजपा के मार्गदर्शक मंडल के सदस्य सह देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी का धनबाद से गहरा लगाव था. धनबाद में उनकी कई सभाएं हुई थी. श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या की मुक्ति के लिए वर्ष 1990 में सोमनाथ से शुरू रथयात्रा का दूसरा चरण धनबाद से ही शुरू हुआ था. उस वक्त अविभाजित बिहार का हिस्सा रहे धनबाद में ही 20 अक्तूबर 1990 को श्री आडवाणी को गिरफ्तार करने की योजना बनी थी. बिहार के तत्कालीन मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने धनबाद में ही भाजपा नेता को गिरफ्तार करने का आदेश दिया था.

धनबाद के तत्कालीन डीसी अफजल अमानुल्लाह ने यह कहते हुए मना कर दिया कि ऐसा करने पर यहां सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ सकता है. इसके बाद अंतिम समय में गिरफ्तारी की योजना टली थी. गोल्फ मैदान से शुरू इस यात्रा में काफी भीड़-भाड़ थी. यह यात्रा ऐतिहासिक रही. धनबाद में कई बार कर चुके हैं रात्रि विश्राम : भाजपा नेता एलके आडवाणी जब पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे, तब कई बार धनबाद आये थे. कई बार धनबाद में रात्रि विश्राम भी किये थे. राज्यसभा के पूर्व सदस्य परमेश्वर अग्रवाल (अब स्वर्गीय) के आवास पर भी रुकते थे.

Also Read: भारत रत्न : लालकृष्ण आडवाणी को बाबूलाल मरांडी ने बताया राजनीतिक शुचिता का प्रतीक, जानें अन्य नेता क्या बोले
आडवाणी को भारत रत्न देने का भाजपा ने किया स्वागत

धनबाद: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी को भारत रत्न सम्मान देना का पार्टी नेताओं ने स्वागत किया है. धनबाद के सांसद पशुपतिनाथ सिंह ने कहा कि देश के वरिष्ठतम नेता भाजपा के मार्गदर्शक लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न की घोषणा अत्यंत सुखद और आनंददायी है. आजादी के बाद देश के पुनर्निर्माण में आडवाणी जी की अहम भूमिका रही है. राजनीति में शुचिता के जीवंत उदाहरण हैं. इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद देते हैं. उन्होंने सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की जो अलख जगायी, उससे भारत की राजनीति में बहुत बड़ा परिवर्तन आया.

धनबाद के विधायक राज सिन्हा ने कहा : श्री आडवाणी पूरे देश के सर्वमान्य नेता रहे हैं. उनको भारत रत्न देने की घोषणा से पूरा देश सम्मानित महसूस कर रहा है. निवर्तमान महापौर चंद्रशेखर अग्रवाल ने कहा कि नवभारत के निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रेरणा स्रोत लाल कृष्ण आडवाणी को भारत रत्न दिये जाने की घोषणा की खबर से हृदय में असीम आनंद का अनुभव हो रहा है. भाजपा के महानगर अध्यक्ष श्रवण राय ने कहा कि हम सभी के प्रेरणास्रोत लाल कृष्ण आडवाणी को ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किये जाने की घोषणा पर अत्यंत हर्षित और आनंद की अनुभूति हुई है. पूर्व महानगर अध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि इस घोषणा से पार्टी कार्यकर्ता गदगद हैं. इस घोषणा पर भाजपा नेता नितिन भट्ट, दिलीप सिन्हा, चंद्रशेखर मुन्ना, मानस प्रसून, संजय झा, उमेश यादव, मिल्टन पार्थ सारथी, अमलेश सिंह, रवि मिश्रा सहित कई नेताओं ने प्रसन्नता व्यक्त की है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें

धनबाद से आडवाणी ने शुरू किया था रामजन्म भूमि आंदोलन का दूसरा चरण

धनबाद के तत्कालीन डीसी अफजल अमानुल्लाह ने यह कहते हुए मना कर दिया कि ऐसा करने पर यहां सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ सकता है. इसके बाद अंतिम समय में गिरफ्तारी की योजना टली थी.

धनबाद : भाजपा के मार्गदर्शक मंडल के सदस्य सह देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी का धनबाद से गहरा लगाव था. धनबाद में उनकी कई सभाएं हुई थी. श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या की मुक्ति के लिए वर्ष 1990 में सोमनाथ से शुरू रथयात्रा का दूसरा चरण धनबाद से ही शुरू हुआ था. उस वक्त अविभाजित बिहार का हिस्सा रहे धनबाद में ही 20 अक्तूबर 1990 को श्री आडवाणी को गिरफ्तार करने की योजना बनी थी. बिहार के तत्कालीन मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने धनबाद में ही भाजपा नेता को गिरफ्तार करने का आदेश दिया था.

धनबाद के तत्कालीन डीसी अफजल अमानुल्लाह ने यह कहते हुए मना कर दिया कि ऐसा करने पर यहां सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ सकता है. इसके बाद अंतिम समय में गिरफ्तारी की योजना टली थी. गोल्फ मैदान से शुरू इस यात्रा में काफी भीड़-भाड़ थी. यह यात्रा ऐतिहासिक रही. धनबाद में कई बार कर चुके हैं रात्रि विश्राम : भाजपा नेता एलके आडवाणी जब पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे, तब कई बार धनबाद आये थे. कई बार धनबाद में रात्रि विश्राम भी किये थे. राज्यसभा के पूर्व सदस्य परमेश्वर अग्रवाल (अब स्वर्गीय) के आवास पर भी रुकते थे.

Also Read: भारत रत्न : लालकृष्ण आडवाणी को बाबूलाल मरांडी ने बताया राजनीतिक शुचिता का प्रतीक, जानें अन्य नेता क्या बोले
आडवाणी को भारत रत्न देने का भाजपा ने किया स्वागत

धनबाद: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी को भारत रत्न सम्मान देना का पार्टी नेताओं ने स्वागत किया है. धनबाद के सांसद पशुपतिनाथ सिंह ने कहा कि देश के वरिष्ठतम नेता भाजपा के मार्गदर्शक लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न की घोषणा अत्यंत सुखद और आनंददायी है. आजादी के बाद देश के पुनर्निर्माण में आडवाणी जी की अहम भूमिका रही है. राजनीति में शुचिता के जीवंत उदाहरण हैं. इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद देते हैं. उन्होंने सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की जो अलख जगायी, उससे भारत की राजनीति में बहुत बड़ा परिवर्तन आया.

धनबाद के विधायक राज सिन्हा ने कहा : श्री आडवाणी पूरे देश के सर्वमान्य नेता रहे हैं. उनको भारत रत्न देने की घोषणा से पूरा देश सम्मानित महसूस कर रहा है. निवर्तमान महापौर चंद्रशेखर अग्रवाल ने कहा कि नवभारत के निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रेरणा स्रोत लाल कृष्ण आडवाणी को भारत रत्न दिये जाने की घोषणा की खबर से हृदय में असीम आनंद का अनुभव हो रहा है. भाजपा के महानगर अध्यक्ष श्रवण राय ने कहा कि हम सभी के प्रेरणास्रोत लाल कृष्ण आडवाणी को ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किये जाने की घोषणा पर अत्यंत हर्षित और आनंद की अनुभूति हुई है. पूर्व महानगर अध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि इस घोषणा से पार्टी कार्यकर्ता गदगद हैं. इस घोषणा पर भाजपा नेता नितिन भट्ट, दिलीप सिन्हा, चंद्रशेखर मुन्ना, मानस प्रसून, संजय झा, उमेश यादव, मिल्टन पार्थ सारथी, अमलेश सिंह, रवि मिश्रा सहित कई नेताओं ने प्रसन्नता व्यक्त की है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें